Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
संघर्ष या समर्पण

अगर तुम पूरी तरह संघर्ष छोड़ दो तो तुम्हारी वहीं ऊंचाई है, जो परमात्मा की. ऊंचाई का एक ही अर्थ है-निर्भार हो जाना. ....

योग

आत्मा और परमात्मा को, जड़ और चेतन को, प्रकृति और पुरुष को जोड़ देने का नाम योग हे. यह ज्ञान और कर्म के दो युग्मों में विभक्त है. ....

कृष्ण और गांधी

गांधी गीता को माता कहते हैं लेकिन गीता को आत्मसात नहीं कर सके क्योंकि गांधी की अहिंसा युद्ध की संभावनाओं को कहां रखेगी? ....

मनोवांछित फल

दुख और सुख मनुष्य का मानसिक विकार है, जिसका निर्माण वह स्वयं करता है और फिर उसे मिटा भी देता है. ....

अपरंपार है देवघर के बाबा वैद्यनाथ की महिमा

"बोल बम का नारा है बाबा एक सहारा है" वाकई सुल्तानगंज से देवघर जाने के रास्ते में बाबा ही एकमात्र सहारा होते हैं - शिव भक्त सुल्तानगंज से जल लेकर जलाभिषेक करने के लिए देवघर जाते है. ....

भय

तुम्हारे सारे भय तादात्म्य की उपज हैं. तुम किसी स्त्री से प्रेम करते हो और प्रेम के साथ, उसी पैकेज में भय आता है: कि वह तुम्हें छोड़ देगी. ....

बुढ़ापा

बुढ़ापा क्यों और कैसे आता है? इससे निजात कैसे पाया जाए? इस विषय पर देश विदेश की विभिन्न शोधशालाओं में गहन अनुसंधान कार्य चल रहे हैं. ....

उज्जैन का नागचन्द्रेश्वर मंदिर: गुरूवार रात 12 बजे सिर्फ एक दिन के लिए खुलेंगे भगवान के पट

महाकाल की नगरी उज्जैन में भगवान नागचन्द्रेश्वर मंदिर के पट कल मध्य रात्रि से आगामी चौबीस घंटे के लिए खुल जाएंगे. पट वर्ष में केवल नागपंचमी के मौके पर ही खोले जाने की परंपरा है. ....

अतीत

अभी जिसे आप ‘मैं’ कहते हैं, वह मात्र मन की एक खास बनावट है, जिसे आपने इकट्ठा कर रखा है. आपके मन में यह एक खास तरह की जानकारी है. ....

स्त्री और सभ्यता

बुनियादी भूल जो सारी शिक्षा और सारी सभ्यता को खाए जा रही है, वह यह है कि अब तक के जीवन का सारा निर्माण पुरुष के आसपास हुआ है, स्त्री के आसपास नहीं. ....

प्राणायाम

प्राणायाम जीवन ऊर्जा का स्रोत है. हमारा सारा शरीर ऊर्जाओं का संगम है. ....

भिक्षुक

भारत में भिक्षा मांगना आध्यात्मिक परंपरा का एक हिस्सा था. आप खुद अपना भोजन नहीं चुनते थे. ....

भावना

आपको समझना होगा कि कोई भी इंसान गुस्सैल नहीं होता, कोई भी इंसान कष्ट में या आनंद में नहीं होता, कोई इंसान प्रेम में या भक्ति में नहीं होता, लेकिन वह खुद को इनमें से किसी में भी विकसित कर सकता है. ....

सृजनात्मकता

दुख के लिए किसी प्रतिभा की आवश्यकता नहीं होती कोई भी इसे कर सकता है, सुख के लिए योग्यता, प्रतिभा, और सृजनात्मकता की आवश्यकता होती है. ....

अध्यात्म

आध्यात्मिकता का अर्थ है उस चेतना पर विश्वास करना, जो प्राणधारियों को एक-दूसरे के साथ जोड़ती है, सुख-संवर्धन और दुख-निवारण की स्वाभाविक आकांक्षा को अपने शरीर या परिवार तक सीमित न रख कर अधिकाधिक व्यापक बनाती है. ....

कर्मों से छुटकारा

अगर आप अपने जीवन का लक्ष्य तय कर लेते हैं, फिर आप कुछ खोएंगे नहीं. बस अपनी वासनाओं को शिक्षित करें, अपनी वासनाओं को सही दिशा में बहने की शिक्षा दें, सिर्फ इतना ही. जीवन में सिर्फ सर्वोच्च की इच्छा करें. ....

जीवन-प्रबंधन

जीवन जीना एक कला है और जो व्यक्ति इस कला से परिचित हैं, वे अपने जीवन को सुगमता व सरलता से जीते हैं. ....

ब्रह्मांड

ये ब्रह्मांड कुछ ऐसे बना है कि सृष्टा के सक्रिय रहे बिना वह टिक नहीं रह सकता. ....

सजगता

तुम जितने अधिक सजग होते हो, उतना ही क्रोध कम होगा, लोभ कम होगा और ईष्र्या कम होगी. ....

चेतना

अलग-अलग दिखते हुए भी वस्तुत: हम सभी चेतना के धरातल पर एक दूसरे से जुड़े हुए हैं. ....

  फ़ोटो गैलरी
'ये बॉलीवुड...
मैडम तुसाद में...
मैडम तुसाद में...
जानें 18 बहादुर बच्चों...
जानें 18 बहादुर बच्चों...
19 जनवरी 2018, शुक्रवार...
19 जनवरी 2018, शुक्रवार...
18 जनवरी 2018,...
18 जनवरी 2018,...
टाइगर जिंदा है ने...
टाइगर जिंदा है ने...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
आदिरा...
आदिरा...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
तमिलनाडु में पोंगल...
तमिलनाडु में पोंगल...
14 से 20 जनवरी तक...
14 से 20 जनवरी तक...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'स्वच्छ आदत स्वच्छ...
मकर संक्रांति:...
मकर संक्रांति:...
11 जनवरी 2018,...
11 जनवरी 2018,...
मैं पेरिस में नहीं...
मैं पेरिस में नहीं...
Delhi Book Fair: किताबों के...
Delhi Book Fair: किताबों के...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
7 से 13 जनवरी तक...
7 से 13 जनवरी तक...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'तुझे मेरी कसम' के सेट...
गलन वाली ठंड का कहर...
गलन वाली ठंड का कहर...
4 जनवरी 2018,...
4 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...

 

172.31.20.145