Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
कश्मीर समस्या

भारत में मैं कई राजनेताओं को जानता हूं किंतु मैंने उनमें दिमाग नहीं पाया। मेरा एक मित्र भारतीय सेना का कमांडर इन चीफ था। उनका नाम था जनरल चौधरी। ....

खुद को पहचानें

शरीर अनेक सुख-सुविधाओं का माध्यम है, ज्ञानेन्द्रियों के द्वारा रसास्वादन और कम्रेन्द्रियों के द्वारा उपार्जन करने वाला शरीर ही सांसारिक हषरेल्लास प्राप्त करता है। इसलिए इसे स्वस्थ, सुन्दर, सुसज्जित एवं समुन ....

नारी का वर्चस्व

नर और नारी यों दोनों ही भगवान की दाई-बाई आंख, दाई बाई भुजा के समान हैं। उनका स्तर, मूल्य, उपयोग, कर्त्तव्य, अधिकार पूर्णत: समान है। ....

परिवार का महत्त्व

परिवार इंसान के विकास के लिए एक मजबूत आधार है। मगर कई लोगों के लिए परिवार एक सहारा नहीं बनता, बल्कि बाधा बन जाता है। ....

चरित्र

मुल्ला नसरुद्दीन गया था ईद की नमाज पढ़ने ईदगाह। जब नमाज करने झुका तो उसके कुर्ते का एक छोर पाजामे में अटका रह गया पीछे। ....

समान नियम

भारतीय संस्कृति सबके लिए सभी भांति विकास का अवसर देती है। यह अति उदार संस्कृति है। विश्व में अन्य कोई धर्म संस्कृति में ऐसा प्रावधान नहीं है। ....

शिष्य

किसी ने मुझसे कुछ समय पहले पूछा था, ‘क्या सिर्फ ब्रह्मचारी ही आप के शिष्य हैं?’ हां, वे ही मेरे शिष्य हैं। ....

बेकारी

कहावत है-‘खाली दिमाग शैतान का घर।’ यह कहावत उन सबके लिए है जो परिश्रम से जी चुराते हैं। परिश्रम के बिना मनुष्य का जीवन अधूरा-सा रहता है। ....

ब्रह्मचर्य

ब्रह्मचर्य का अर्थ है एक मंद पवन, बयार की तरह होना-इसका मतलब है कि आप कहीं पर भी, ठहरते नहीं हैं। हवा हर जगह जाती है, लेकिन हम नहीं जानते कि इस समय ये कहां से आ रही है? ....

राजनीति

अच्छे लोगों के हाथों में राजनीति आ जाए तो अभूतपूर्व परिवर्तन हो सकते हैं। क्यों? कुछ थोड़ी-सी बातें हम ख्याल में ले लें। ....

संतोष

एक बार की बात है। एक गांव में एक महान संत रहते थे। वे अपना स्वयं का आश्रम बनाना चाहते थे, जिसके लिए वे कई लोगों से मुलाकात करते थे। ....

आध्यात्मिकता

आध्यात्मिकता का अर्थ है उस चेतना पर विश्वास करना, जो प्राणधारियों को एक दूसरे के साथ जोड़ती है, सुख-संवर्धन और दु:ख-निवारण की स्वाभाविक आकांक्षा को अपने शरीर या परिवार तक सीमित न रख कर अधिकाधिक व्यापक बनाती है। ....

युद्ध उचित नहीं

मनुष्य के कृत्यों को देखो। तीन हजार वर्षों में पांच हजार युद्ध आदमी ने लड़े हैं। उसकी पूरी कहानी हत्याओं की कहानी है, लोगों को जिंदा जला देने की कहानी है और एक को नहीं, हजारों को। और यह कहानी खत्म नहीं हो गई है। ....

नैतिकता

प्रकृति की मर्यादाओं-नियत नियमों की अनुकूल दिशा में चलकर ही सुखी, शांत और सम्पन्न रहा जा सकता है। इसी को नैतिकता भी कहा जा सकता है। ....

प्रतिद्वंद्वी

अन्ना विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, गिंडी (सीईजी) में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। ....

गायन

भावों को उभारने और सम्प्रेषित करने में गायन का महत्त्व हमेशा रहा है, आज भी है। ....

व्यक्तित्व

सभी मनुष्य इस जीवन प्रक्रिया में जागरूकता के साथ या फिर अनजाने में, अपनी एक खास छवि बना लेते हैं, अपने एक खास व्यक्तित्व का निर्माण कर लेते हैं। ....

विश्लेषण : हवा-हवाई बजट

एक जमाना था जब केंद्र सरकार का सालाना बजट एक गंभीर मामला हुआ करता था। ....

शरीर

आस्तिकता और कर्तव्य परायणता की सद्वृत्ति का प्रभाव पहले अपनी सबसे समीपवर्ती स्वजन पर पड़ना चाहिए। ....

रिश्ता

आजकल हम ऐसे वातावरण, ऐसी संस्कृति में रह रहे हैं जहां जरूरी नहीं रह गया है कि आप अपना सारा जीवन एक ही साथी के साथ रहें। ....

Spacer
  फ़ोटो गैलरी
'ये बॉलीवुड...
मैडम तुसाद में...
मैडम तुसाद में...
जानें 18 बहादुर बच्चों...
जानें 18 बहादुर बच्चों...
19 जनवरी 2018, शुक्रवार...
19 जनवरी 2018, शुक्रवार...
18 जनवरी 2018,...
18 जनवरी 2018,...
टाइगर जिंदा है ने...
टाइगर जिंदा है ने...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
आदिरा...
आदिरा...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
तमिलनाडु में पोंगल...
तमिलनाडु में पोंगल...
14 से 20 जनवरी तक...
14 से 20 जनवरी तक...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'स्वच्छ आदत स्वच्छ...
मकर संक्रांति:...
मकर संक्रांति:...
11 जनवरी 2018,...
11 जनवरी 2018,...
मैं पेरिस में नहीं...
मैं पेरिस में नहीं...
Delhi Book Fair: किताबों के...
Delhi Book Fair: किताबों के...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
7 से 13 जनवरी तक...
7 से 13 जनवरी तक...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'तुझे मेरी कसम' के सेट...
गलन वाली ठंड का कहर...
गलन वाली ठंड का कहर...
4 जनवरी 2018,...
4 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...

 

172.31.21.212