Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
सचेतन

सचेतन रूप से हम चुनते नहीं कि हम जन्म लें। सचेतन रूप से सिर्फ एक ही मौका आता है चुनने का, वह तब आता है जब पूरी तरह व्यक्ति स्वयं को जान लिया होता है। ....

नैतिकता

प्रकृति की मर्यादाओं-नियत नियमों के अनुकूल दिशा में चलकर ही सुखी, शांत और संपन्न रहा जा सकता है। ....

सच बोलने का खतरा

क्या सच बोलकर दोस्ती टूटने का जोखिम उठाना चाहिए? सच्चा दोस्त कौन है? ....

मन कलह का सूत्र है

जदुनियाएं हैं। जहां दो व्यक्ति मिलते हैं, वहां दो संसार मिलते हैं और जब दो संसार करीब आते हैं, तो उपद्रव होता है; क्योंकि दोनों भिन्न हैं। ....

सूर्य और सविता

मानव व सूर्य के आदि काल से ही महान भावनात्मक संबंध रहे हैं। ....

दिव्य चिंगारी

हम सभी के भीतर एक दिव्य चिंगारी छिपी हुई है। विस्मयकारी सौंदर्य के मंडल, अकल्पनीय दृश्य और ध्वनियां, असीम विवेक और पूर्ण रूप से आलिंगित करता प्रेम हमें अंतर में आमंत्रित करते हैं। ....

संगीत

भावों को उभारने और सम्प्रेषित करने में गायन का महत्त्व हमेशा रहा है, और आज भी है। ....

ईश्वर पर विश्वास

कुछ संस्कृतियां और मत ईश्वर में सहज विश्वास कर लेना सिखाते हैं। ....

एक कहानी

जर्मन कहानी है एक कि एक आदमी ने बहुत दिन तक तपश्चर्या की। देवदूत प्रगट हुआ। ....

उपासना व साधना

साधना का दूसरा-पक्ष उत्तरार्ध, उपासना है। विविध शारीरिक और मानसिक क्रियाकृत्य इसी प्रयोजन के लिए पूरे किए जाते हैं। ....

सत्य

जो व्यक्ति आध्यात्मिक उपलब्धियों को पाना चाहते हैं, वे सच्चाई के गुण का आदर करते हैं। ....

मनोयोग

जीवन अनेकों समस्याओं के साथ उलझा हुआ है। ....

सपना और हकीकत

जब कोई व्यक्ति सपना देखता है तो यह एक कल्पना होती है। जब लोगों का एक समूह कोई सपना देखता है, तो यह एक समाज बन जाता है। ....

साहस के पर मत काटो

लोग मेरे पास आते हैं-वे सिगरेट पीना छोड़ना चाहते हैं और वे हजारों बार कोशिश कर चुके होते हैं। ....

धर्मतंत्र का दुरुपयोग

मित्रो! मंदिर जन-जागरण के केंद्र बनाए जा सकते हैं। मंदिरों का उपयोग लोकमंगल के लिए किया जा सकता है, क्योंकि उसके पास इमारत होती है। ....

अनुभव का महत्त्व

हम अपना जीवन भौतिक और बौद्धिक लक्ष्यों को पाने में लगा देते हैं, पर हम अध्यात्म से अनजान रहते हैं। ....

लोकसेवा

लोकसेवा के लिए मन में उमंग और उत्साह उठने के बाद तत्काल उस ओर प्रवृत्त नहीं हुआ जा सकता। इसके लिए अपना दृष्टिकोण बदलना पड़ता है। ....

सबको स्वीकार करें

योग का अर्थ है पूर्ण मिलन यानी हर चीज आपके अनुभव में एक हो गई है, लेकिन तर्क कहता है कि बुराई या गंदगी को स्वीकार मत करो। ....

जगत अनित्य है

अनित्य का अर्थ होता है, जो है भी और प्रति क्षण नहीं भी होता रहता है। अनित्य का अर्थ नहीं होता कि जो नहीं है। जगत है, भलीभांति है। ....

उपासना और साधना

साधना का दूसरा-पक्ष उत्तरार्ध, उपासना है। विविध शारीरिक और मानसिक क्रिया कृत्य इसी प्रयोजन के लिए पूरे किए जाते हैं। ....

Spacer
  फ़ोटो गैलरी
अनुष्का का पशु प्रेम...
अनुष्का का पशु प्रेम...
'लव स्टोरी' का...
भारत जीता ओवल टेस्ट...
भारत जीता ओवल टेस्ट...
भारी बारिश से...
भारी बारिश से...
स्कूल चलें हम...
स्कूल चलें हम...
शहनाज का बोल्ड अंदाज...
शहनाज का बोल्ड अंदाज...
काबुल एयरपोर्ट...
काबुल एयरपोर्ट...
लॉर्डस पर भारत की जीत...
लॉर्डस पर भारत की जीत...
ओलंपिक खिलाड़ी...
ओलंपिक खिलाड़ी...
तालिबान डर से लोग...
तालिबान डर से लोग...
टोक्यो से घर वापसी...
टोक्यो से घर वापसी...
भारतीय ओलंपिक दल...
भारतीय ओलंपिक दल...
टोक्यो 2020 का...
टोक्यो 2020 का...
भाला फेंक में नीरज...
भाला फेंक में नीरज...
रवि ने दिलाया भारत...
रवि ने दिलाया भारत...
जीत के जश्न में डूबी...
जीत के जश्न में डूबी...
दिल्ली में सिंधु...
दिल्ली में सिंधु...
ओलंपिक महिला हॉकी...
ओलंपिक महिला हॉकी...
टोक्यो...
टोक्यो...
सोने सी चमकती...
सोने सी चमकती...
सचमुच गटर है कंगना...
सचमुच गटर है कंगना...
टोक्यो ओलंपिक...
टोक्यो ओलंपिक...
नए फोटोशूट में सारा...
नए फोटोशूट में सारा...
हिमाचल में भूस्खलन...
हिमाचल में भूस्खलन...
देश के कई हिस्सों...
देश के कई हिस्सों...
‘मुगल-ए-आजम’ से...
‘मुगल-ए-आजम’ से...
योग के रंग में रंगा...
योग के रंग में रंगा...
देखें, पानी-पानी मुंबई...
देखें, पानी-पानी मुंबई...
देखें, अनलॉक शुरू...
देखें, अनलॉक शुरू...
जानें,कहां-कहां लगा...
जानें,कहां-कहां लगा...
हरिद्वार कुंभ...
हरिद्वार कुंभ...
बंगाल और असम दूसरे...
बंगाल और असम दूसरे...

 

172.31.21.212