Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

13 Aug 2017 04:38:34 AM IST
Last Updated : 13 Aug 2017 04:41:32 AM IST

मीडिया : टायलेट दिया मेरे भारत ने

सुधीश पचौरी
लेखक
मीडिया : टायलेट दिया मेरे भारत ने
मीडिया : टायलेट दिया मेरे भारत ने

टायलेट देखते ही अपना हिंदी वाला एंकर फड़क उठा. मानो बरसों से टायलेट ही न गया हो. तो भी, एंकर से रहा न गया.

हीरो से पूछा कि सुना है कि लोग शौचालय में सोचा करते हैं तो. हीरो ने कहा : सब वहीं सोचा करते हैं. यही हाल एक अंग्रेजी एंकर का होता दिखा. ‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ के एंट्री लेते ही उसने भी ऐसे ही दिखाया, मानो जाने कब से वह टायलेट जाने को तरस रहा है. जब प्रोमो इतना प्रेरक है, तो फिल्म कितनी उत्प्रेरक न होगी?
ऐसा किस्सा भी सुना कि प्रोमो से प्रेरित लोग अपने हाथ में लोटा लेकर आए और लाइन भी लगाए  ताकि इस ‘प्रेमकथा’ वाले दिव्य टायलेट के दर्शन कर बरसों की साध पूरी कर सकें. स्पष्ट है कि इस फिल्म की सबसे बड़ी ताकत इसका शीषर्क है. इतना मौलिक शीषर्क आज तक नहीं देखा.
‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ का शीषर्क अपने आप में इतना उत्प्रेरक है कि बॉक्स ऑफिस पर दम तोड़ती फिल्मों को सत्तर साल बाद एक नई थीम मिली है. बॉलीवुड में अब टायलेट की थीम पर एक से एक फिल्में बना करेंगी. फिल्म की फिल्म और स्वच्छता अभियान तथा देश प्रेम में विनम्र योगदान..

सौ साल से ज्यादा के इतिहास में फिल्मों ने सब तरह की प्रेमकथाएं कहीं, लेकिन ‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ की टक्कर जैसी प्रेम कथा आज तक न सोच पाए. प्रेम कथाएं बनती रहीं. प्रेमी कभी बाग-बगीचों में, कभी समुद्र के ‘बीच’ पर, कभी कैम्पस में अपनी-अपनी प्रेम कथाएं कहते रहे. लेकिन ‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ जैसी धांसू फिल्म आज से पहले न बना सके. हरा-भरा बाग होता. फूल खिले होते. आर्टिफिसियल झरने बह रहे होते. नायिका की ‘हां’ सुनने के लिए प्रेमी नायक गाने लगता : ‘बागों में बहार है. कलियों पे निखार है..तुमको मुझसे प्यार है?’ चंचल नायिका ‘ना ना ना ना’ कहती भाग जाती. फिर पेड़ों के पीछे, झुरमुट के नीचे वे एक दूसरे का गिनकर तीन मिनट तक पीछा करते दिखते. फिर निदेशक दो फूलों की एक दूसरे से ‘किस्सी’ करवाता और प्रेम कथा पूरी हो जाती.
ऐसे ही ‘समुद्र का बीच : एक प्रेम कथा’ कही जाती. एक लंबी-सी नायिका लंबी फ्राक पहने कूदती हुई चलती जाती. पीछे नायक उसके चरण चिह्नों पर कूद के गिरता और कहता : ‘चुरा के दिल मिरा गोरिया चली’. गोरिया जबाव देती :‘मुझे क्या पता कहां मैं चली?’
फिर ‘कैम्पस : एक प्रेम कथा’ के दिन आए..एक कैम्पस होता. हीरो शायर होता. हीरोइन पढ़ाकू होती. फिर एक प्रेम सीन इस तरह बनता : हीरोइन किताब लेकर उधर से आ रही है. इधर से शायर उधर जा रहा है कि हीरोइन के कोमल हाथों से फिसल कर उसकी किताबें ऐन तब गिरती हैं, जब हीरो उसके पास से गुजर रहा होता है. हीरोइन किताब उठाने को झुकती है, तो हीरो उससे भी तेजी से झुक कर किताबें उठा लेता है. दोनों एक दूसरे को एक टक देखते हुए खड़े होते हैं. हीरोइन शरमा जाती है. हीरो इसे ‘लव एट फस्र्ट साइट’ मानकर खुश होता है, और किताब दे देता है. बाद में वह भरे हॉल में एक हिट गाना गाता :
‘मेरे महबूब तुझे मेरी मोहब्बत की कसम
फिर मुझे नरगिसी आखों का नजारा दे दे..!’
अब ‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ आई है. यह इक्कीसवीं सदी की पहली मौलिक कथा है, जिसने एकदम नई जमीन तोड़ी है. इसने फिल्मों का मुहावरा बदला है. मेरी नजर में यह समस्त प्रकार के राष्ट्रीय सम्मानों के योग्य है, और मैं तो कहूंगा कि इसकी मौलिकता के लिए इसे ‘कॉन’ फिल्म फेस्टीवल में जरूर भेजा जाए ताकि यूरोपीय लोग इसे देख कर समझ सकें कि जिस अंग्रेज ने दुनिया को टायलेट कल्चर दी, उसमें भी हमारे बॉलीवुड ने अपने तरीके की एकदम भारतीय किस्म की एक ‘प्रेम कथा’ गूंथ दी. यह फिल्म एक ‘सांस्कृतिक विमर्श’ भी है,‘सभ्यता विमर्श’ भी है. कभी भारत ने दुनिया को जीरो दिया था, तब दुनिया को गिनती आई थी. अब भारत ‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ सिखा रहा है. टायलेट का टायलेट और प्रेम का प्रेम. एकदम ‘टू इन वन’. लेकिन मेरी एक जिज्ञासा है, और वह यह है कि ‘टायलेट : एक प्रेम कथा’ का हीरो टायलेट में टायलेट करने जाता है कि प्रेम करने जाता है?
चूंकि यह प्रेम कथा है, इसलिए टायलेट करे न करे, प्रेम तो उसे करना ही होगा. तब सवाल यह है कि प्रेम सीन में वह टायलेट में हीरोइन के साथ दौड़-दौड़ कर गाना कैसे गाता होगा? हीरोइन हीरो से लुका-छिपी करते हुए कहां छिपती होगी? कैसे कहती होगी : ‘ना ना ना ना’?


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :



फ़ोटो गैलरी
पटाखा बैन के बाद भी दिल्ली का प्रदूषण खतरनाक स्तर पर, देखें..

पटाखा बैन के बाद भी दिल्ली का प्रदूषण खतरनाक स्तर पर, देखें..

PICS: दीपोत्सव का पांच दिवसीय उत्सव शुरू, सजे बाजार, धनतेरस आज

PICS: दीपोत्सव का पांच दिवसीय उत्सव शुरू, सजे बाजार, धनतेरस आज

जन्मदिन विशेष: बॉलीवुड की

जन्मदिन विशेष: बॉलीवुड की 'ड्रीम गर्ल' हेमा मालिनी के डॉयलॉग जो हिट रहेंगे

धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना है शुभ, धन में होगी 13 गुना वृद्धि

धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना है शुभ, धन में होगी 13 गुना वृद्धि

त्यौहारों पर निखारें बाल,हाथ,नाखून,अपनाएं शहनाज हुसैन के टिप्स

त्यौहारों पर निखारें बाल,हाथ,नाखून,अपनाएं शहनाज हुसैन के टिप्स

पापा शाहिद के बेटी मीशा के साथ प्यार भरे पल, देखें तस्वीरें

पापा शाहिद के बेटी मीशा के साथ प्यार भरे पल, देखें तस्वीरें

अशोक कुमार, किशोर कुमार दोनों भाईयों को हमेशा से जोड़ गयी 13 अक्टूबर

अशोक कुमार, किशोर कुमार दोनों भाईयों को हमेशा से जोड़ गयी 13 अक्टूबर

अजीब खबर, 5 साल की छोटी उम्र में जवानी पार कर आने लगा बुढ़ापा

अजीब खबर, 5 साल की छोटी उम्र में जवानी पार कर आने लगा बुढ़ापा

PICS: दिल्ली का सेंट्रल विस्टा 16 मिलियन रंगों से जगमगाया, 365 दिन रहेगा रोशन

PICS: दिल्ली का सेंट्रल विस्टा 16 मिलियन रंगों से जगमगाया, 365 दिन रहेगा रोशन

ताजनगरी के एक गांव में उगाई जाती है लोगों की जिंदगियां दांव पर लगाने वाली फसल

ताजनगरी के एक गांव में उगाई जाती है लोगों की जिंदगियां दांव पर लगाने वाली फसल

मिनी चंडीगढ़: ऐसा गांव जिसे देख शहर भी शरमा जाए

मिनी चंडीगढ़: ऐसा गांव जिसे देख शहर भी शरमा जाए

जन्मदिन मुबारक रेखा: जानिए रेखा के विवादास्पद लव अफेयर्स की कहानियां

जन्मदिन मुबारक रेखा: जानिए रेखा के विवादास्पद लव अफेयर्स की कहानियां

बिग बॉस 11: सलमान के खिलाफ FIR

बिग बॉस 11: सलमान के खिलाफ FIR

जानिए 8 से 14 अक्टूबर का साप्ताहिक राशिफल

जानिए 8 से 14 अक्टूबर का साप्ताहिक राशिफल

PICS: पति की दीर्घायु के लिए रखती हैं सुहागिन करवा चौथ व्रत

PICS: पति की दीर्घायु के लिए रखती हैं सुहागिन करवा चौथ व्रत

फिल्में जिन्होंने करवा चौथ का बढ़ा दिया क्रेज

फिल्में जिन्होंने करवा चौथ का बढ़ा दिया क्रेज

PICS: अंडर-17 फीफा विश्व कप: भारतीय फुटबाल के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज हो जाएगा आज का दिन

PICS: अंडर-17 फीफा विश्व कप: भारतीय फुटबाल के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज हो जाएगा आज का दिन

PICS: ‘मातानुवन’ है ‘पर्यावरण’ बचाने का महाअभियान

PICS: ‘मातानुवन’ है ‘पर्यावरण’ बचाने का महाअभियान

शाहरूख ने क्यों किया अभिनेत्रियों को धन्यवाद

शाहरूख ने क्यों किया अभिनेत्रियों को धन्यवाद

रोहित का शतक, भारत फिर बना नंबर वन

रोहित का शतक, भारत फिर बना नंबर वन

जानिए 1 से 7 अक्टूबर का साप्ताहिक राशिफल

जानिए 1 से 7 अक्टूबर का साप्ताहिक राशिफल

PICS: मां दुर्गा की विदाई में

PICS: मां दुर्गा की विदाई में 'सिंदूर खेला' की धूम

महिला खिलाड़ियों से मिले विराट कोहली

महिला खिलाड़ियों से मिले विराट कोहली

PICS: महाअष्टमी पर माता को लगाया गया मदिरा का भोग

PICS: महाअष्टमी पर माता को लगाया गया मदिरा का भोग

PICS: अच्छा, तो हम चलते हैं .. , कहने की तैयारी में रावण का साम्राज्य

PICS: अच्छा, तो हम चलते हैं .. , कहने की तैयारी में रावण का साम्राज्य

मां मुंडेश्वरी मन्दिर: अद्भुत मन्दिर जहां दी जाती है रक्तहीन बलि

मां मुंडेश्वरी मन्दिर: अद्भुत मन्दिर जहां दी जाती है रक्तहीन बलि

PICS:  सचिन ने किया बांद्रा की सड़को को साफ और दिया ये संदेश...

PICS: सचिन ने किया बांद्रा की सड़को को साफ और दिया ये संदेश...

PICS: यहां 75 दिन तक मनाते हैं दशहरा लेकिन नहीं होता रावण वध

PICS: यहां 75 दिन तक मनाते हैं दशहरा लेकिन नहीं होता रावण वध

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 25 सितम्बर 2017 का राशिफल

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 25 सितम्बर 2017 का राशिफल

जानिए 24 से 30 सितम्बर का साप्ताहिक राशिफल

जानिए 24 से 30 सितम्बर का साप्ताहिक राशिफल

गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल है मदरसा, यहां भगवा ड्रेस में गाया जाता है वंदेमातरम और राष्ट्रगान

गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल है मदरसा, यहां भगवा ड्रेस में गाया जाता है वंदेमातरम और राष्ट्रगान

PICS: वनडे में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय कुलदीप की हैट्रिक ऐसे बनी...

PICS: वनडे में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय कुलदीप की हैट्रिक ऐसे बनी...


 

172.31.20.145