Samay Live
06 Dec 2018 05:10:16 AM IST
Last Updated : 06 Dec 2018 05:23:23 AM IST

एडिलेड टेस्ट : आस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

भाषा
एडिलेड
एडिलेड टेस्ट : आस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया
एडिलेड : भारत-आस्ट्रेलिया सीरीज के लिए दी जाने वाली बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का अनावरण करते भारतीय कप्तान विराट कोहली और आस्ट्रेलिया कप्तान टिम पेन। फोटो : ट्विटर

आत्मविश्वास से लबरेज भारतीय क्रिकेट टीम आस्ट्रेलिया के खिलाफ बृहसपतिवार से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज में उतरेगी तो उसका लक्ष्य विदेशी सरजमीं पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने का कलंक धोने और 70 बरस में पहली बार यहां सीरीज जीतने का होगा।

दक्षिण अफ्रीका में भारत को टेस्ट सीरीज में 1-2 और इंग्लैंड में 0-4 से पराजय झेलनी पड़ी। विराट कोहली की टीम अब आस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की सीरीज जीतकर विदेश में ‘फ्लाप शो’ का कलंक मिटाना चाहेगी।
दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में खुद को स्थापित कर चुके कोहली के लिए करिश्माई कप्तान कहलाने का भी यह सीरीज सुनहरा मौका है। आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारत ने अब तक 44 टेस्ट खेलकर सिर्फ पांच जीते हैं। पिछले 70 साल में 11 दौरों पर भारत ने दो बार सीरीज ड्रा कराई। पहले सुनील गावस्कर की कप्तानी में 1980-81 और फिर सौरव गांगुली के कप्तान रहते 2003-04 में। भारतीय टीम आक्रामक क्रिकेट खेलना चाहेगी लेकिन 12 खिलाड़ियों में हनुमा विहारी और रोहित शर्मा की मौजूदगी संकेत है कि 20 विकेट लेने के लिए पांच गेंदबाजों को उतारने की रणनीति में बदलाव होगा।
चोटिल हरफनमौला हार्दिक पंड्या की गैर मौजूदगी से टीम का संतुलन बिगड़ा है। दूसरी ओर आस्ट्रेलिया भी गेंद से छेड़खानी मसले में प्रतिबंध झेल रहे स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की गैर मौजूदगी में कमजोर लग रही है। पंड्या की गैर मौजूदगी में अतिरिक्त बल्लेबाज की जगह रोहित शर्मा को मिलना तय है। उन्होंने आखिरी बार टेस्ट क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका में खेला था और पांचवें नंबर पर उतरकर चार पारियों में 78 रन ही बना सके थे।

इंग्लैंड के गेंदबाजों के सामने प्रभावी रहे विहारी ने वहां पहला अर्धशतक जमाया था। भारत के सामने दो मसले हैं। सबसे पहला तो बल्लेबाजी मे कप्तान कोहली पर निर्भरता कम करनी होगी। कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में तीन टेस्ट में 286 रन बनाए। चेतेर पुजारा 100 रन ही बना सके जबकि मुरली विजय ने 102 और केएल राहुल ने दो टेस्ट में 30 रन बनाए। इंग्लैंड में दो टेस्ट में 26 रन के बाद विजय को स्वदेश भेज दिया गया।



 
loading...

ताज़ा ख़बरें


 

 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां (0 भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
There is no gallery


 

 

Facebook

Twitter

Youtube

RSS

Spacer