Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

05 Jul 2020 02:19:31 AM IST
Last Updated : 05 Jul 2020 02:22:54 AM IST

बतंगड़ बेतुक : चीन, कोरोना और ईश्वर-अल्लाह

विभांशु दिव्याल
बतंगड़ बेतुक : चीन, कोरोना और ईश्वर-अल्लाह
बतंगड़ बेतुक : चीन, कोरोना और ईश्वर-अल्लाह

झल्लन आजकल न बहकता था न चहकता था। बस आते ही मुंह लटका लेता था, गर्दन झुका लेता था।

वह आया तो हमने उसे अपने पास बिठाया और समझाया, ‘देख झल्लन, जब हालात काबू से बाहर हो जायें, न हम कुछ जान पायें न कर पायें तो बेहतर यही होता है कि हम खुद को ज्यादा न उलझाएं, खुद को समझाएं और मन के लिए थोड़ी शांति पायें।’ झल्लन झुंझलाता-सा बोला, ‘ददाजू, आप किस मिट्टी के बने हो जो ऐसी बात कर ले रहे हो, चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है और आप शांति का प्रवचन दे रहे हो। इधर कोरोना ने हमें झकझोर डाला है, चीन ने दुत्कार डाला है, हर देशभक्त इंसानियत का पुजारी खुद को मायूस और लाचार पा रहा है और आपको शांति का शुगूफा याद आ रहा है।’ हमने कहा, ‘तो बता, तू क्या करना चाहता है, अपनी परेशानी का क्या हल चाहता है?’ वह बोला, ‘हल होता तो हम यूं हलकान नहीं हो रहे होते और मुंह लटकाए इस तरह नहीं रो रहे होते। सच कहें ददाजू, अब तो हमें लगने लगा है कि न तो हम कोरोना को हरा पाएंगे और न चीन को डरा पाएंगे, लाखों लोग मौत के मुंह में समा जाएंगे और हम सिर्फ मातम मनाएंगे। लगता है हम कहीं के नहीं रहेंगे और अब हमारी रक्षा ईश्वर-अल्ला ही करेंगे।’

हमने कहा, ‘जितनी जल्दी हो अपनी गलतफहमी दूर कर ले और अपने दिमाग के ढांचे को दुरुस्त कर ले। ईश्वर-अल्ला कमजारों की हिफाजत कभी नहीं करते हैं, ये हमेशा ताकतवर के साथ रहते हैं। जब तक कोरोना ताकतवर रहेगा तब तक ये कोरोना के साथ रहेंगे और जब तक चीन ताकतवर रहेगा ये चीन के साथ रहेंगे।’ झल्लन बोला, ‘ददाजू, क्यों उल्टा पाठ पढ़ा रहे हो, जो हम अपनी पैदाइश के साथ सुनते-सीखते आये हैं उसे फूंक से उड़ा रहे हो। हर कोई जानता है कि जब कमजोर की कोई नहीं सुनता तब अल्ला सुनता है, उस पर करम करता है। जब गरीब को भूख लगती है और कोई रोटी नहीं देता तो ईश्वर देता है, हर गरीब का पेट भरता है।’ हमने कहा, ‘यह मानव इतिहास का सबसे बड़ा और सबसे ज्यादा जमाया हुआ झूठ है जो लगातार चला आ रहा है और अब तक करोड़ों करोड़ लोगों को भरमा रहा है। सच बात यह है कि जो कमजोर होता है वह तब तक सहता है जब तक सह पाता है, नहीं तो टूटकर बिखर जाता है। जीने की कोशिश में जितना जी पाता है उतना जी पाता है, नहीं तो निपट जाता है, उसके जीने और निपटने के बीच न ईश्वर आता है न अल्ला आता है।’ झल्लन बोला, ‘तो फिर गरीब और कमजोर की रक्षा कौन करता है, कौन उन्हें बचाता है और कौन उनकी जिंदगी चलाता है?’
हमने कहा, ‘गरीब और कमजोर की न कोई रक्षा करता है, न कोई उन्हें बचाता है। मतलब यह कि जिसकी रक्षा नहीं होती और जिसे ताकत नहीं मिलती वही गरीब और कमजोर रह जाता है।’ झल्लन बोला, ‘ददाजू, जब भी आपके मुंह से ऐसी कोई बात निकल कर आती है तो हमारी खोपड़ी उलट जाती है। गरीब के नाम पर इतने दान-पुण्य होते हैं, इतने काम-धंधे चलते हैं, सरकार की योजनाएं बनती हैं, कानून बनते हैं, लोग दुआ-प्रार्थना करते हैं तो ये सब काहे करते हैं? गरीब के लिए नहीं करते तो किसके लिए करते हैं?’ हमने कहा, ‘देख झल्लन, गरीब के नाम पर जो ये सब करते हैं वो सिर्फ और सिर्फ पाखंड रचते हैं। एक इंसान गरीब और कमजोर होता ही इसलिए है कि दूसरा इंसान अमीर और ताकतवर होता है। गरीब तो ताउम्र अपने कंधों पर अमीर ताकतवर का बोझ ढोता है। जब तक आप एक की अमीरी और ताकतवरी को अपराध नहीं ठहरा सकते तब तक आप गरीब की मदद नहीं कर सकते, गरीबी नहीं मिटा सकते। लेकिन ईश्वर-अल्ला वाले इतने धूर्त और पाखंडी होते हैं कि यहां भी ईश्वर-अल्ला को घसीट लाते हैं। जो गरीब निपट जाते हैं उनको ईश्वर-अल्ला की सजा बताते हैं और जो बच जाते हैं उन्हें ईश्वर-अल्ला की कृपा बताते हैं। बेचारे कमजोर लोग हर बार उनके बनाए जाल में फंस जाते हैं। कहीं भी देख ले ईश्वर-अल्ला वाले अमीर और ताकतवर के पक्ष में खड़े नजर आते हैं।’
झल्लन बोला, ‘लेकिन ददाजू, अगर यही सच्चाई है तो इंसान जान क्यों नहीं पाता, इसे मान क्यों नहीं पाता?’ हमने कहा, ‘जो लोग ईश्वर-अल्ला की असलियत जानते हैं, इनकी सच्चाई को पहचानते हैं वे चीन की तरह ईश्वर-अल्ला को किनारे लगा देते हैं, इन्हें रास्ते से हटा देते हैं और खुद को ताकतवर बना लेते हैं। सच बात यह है कि मूर्ख और कमजोर लोग ईश्वर-अल्ला से डरते हैं और उनसे प्यार करते हैं, धूर्त लोग उन्हें बेचते हैं और उनका व्यापार करते हैं और ताकतवर लोग या तो अपनी ताकत के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं या चीन की तरह ताकतवर बनने के लिए उन्हें अपनी जिंदगी से निकाल बाहर करते हैं।’
हमने प्रवचन देकर झल्लन की ओर देखा तो वह उठ लिया और उठते-उठते बोला, ‘हमें नहीं पता ददाजू कि कितना दिमाग से खिसक लिया और कितना हमने समझ लिया।’


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
PICS: अक्षय कुमार ने बताया-रोजाना पीता हूँ गौमूत्र, हाथी के

PICS: अक्षय कुमार ने बताया-रोजाना पीता हूँ गौमूत्र, हाथी के 'पूप' की चाय पीना बड़ी बात नहीं

PICS: दिल्ली सहित देश के कई शहरों में एहतियात के साथ शुरू हुई मेट्रो सेवा

PICS: दिल्ली सहित देश के कई शहरों में एहतियात के साथ शुरू हुई मेट्रो सेवा

प्रणब दा के कुछ यादगार पल

प्रणब दा के कुछ यादगार पल

PICS: दिल्ली-NCR में भारी बारिश के बाद मौसम हुआ सुहाना, उमस से मिली राहत

PICS: दिल्ली-NCR में भारी बारिश के बाद मौसम हुआ सुहाना, उमस से मिली राहत

PICS: सैफ को जन्मदिन पर करीना कपूर ने दिया खास तोहफा, वीडियो किया शेयर

PICS: सैफ को जन्मदिन पर करीना कपूर ने दिया खास तोहफा, वीडियो किया शेयर

स्वतंत्रता दिवस: धूमधाम से न सही पर जोशो-खरोश में कमी नहीं

स्वतंत्रता दिवस: धूमधाम से न सही पर जोशो-खरोश में कमी नहीं

इन स्टार जोड़ियों ने लॉकडाउन में की शादी, देखें PHOTOS

इन स्टार जोड़ियों ने लॉकडाउन में की शादी, देखें PHOTOS

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

B

B'day Special: प्रियंका चोपड़ा मना रहीं 38वा जन्मदिन

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

B

B'day Special : जानें कैसा रहा है रणवीर सिंह का फिल्मी सफर

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह


 

172.31.21.212