Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
चार बातें ज्ञान की

एक राजा के विशाल महल में एक सुंदर वाटिका थी,जिसमें अंगूरों की एक बेल लगी थी। ....

जागरूकता

अधिकतर लोग अपना सारा जीवन बस शरीर की मजबूरियां को पूरा करने में ही गुजार देते हैं- क्या खाना है, कहां सोना है, किसके साथ सोना है..ये सब सिर्फ शरीर की बाध्यताओं के बारे में सोचने की बात है। ....

हाथों में प्रकाश हो

मैं अंधा हूं, मुझे रात और दिन बराबर है। मुझे दिन का सूरज भी वैसा है, रात की अमावस भी वैसी है। मेरे हाथ में प्रकाश का कोई अर्थ नहीं है। ....

आभास

एक बार एक व्यक्ति की उसके बचपन के टीचर से मुलाकात होती है, वह उनके चरण स्पर्श कर अपना परिचय देता है। ....

किस्मत

बहुत सारे लोगों ने अपने जीवन को इस तरह व्यवस्थित किया हुआ है कि उन्हें जीवन में जो चाहिए, उनके पास वो है। ....

आलस्य

दरिद्रता भयानक अभिशाप है। इससे मनुष्य के शारीरिक, पारिवारिक, सामाजिक, मानसिक एवं आत्मिक स्तर का पतन हो जाता है। ....

शरीर

शायद आप नहीं चाहेंगे कि मैं ऐसे शब्द कहूं, लेकिन अपने जीवन के हर क्षण में, आप अपनी मृत्यु के थोड़ा पास पहुंच रहे हैं। ....

अहंकार

यह असंभव है। अहंकार का त्याग नहीं किया जा सकता क्योंकि अहंकार का कोई अस्तित्व नहीं है। अहंकार केवल एक विचार है: उसमें कोई सार नहीं है। ....

एकता-समता

राष्ट्रीय एकता का वास्तविक तात्पर्य है-मानवीय एकता। मनुष्य की एक जाति है। ....

प्रभाव

मनुष्य होने के कारण हम बहुत सारी अलग-अलग गतिविधियां कर सकते हैं। ....

अहंकार

साधन सम्पन्न का पतन होते ही समाज में उसकी असहनीय अप्रतिष्ठा होने लगती है। ....

पानी का महत्त्व

जीवन के लिए पानी अत्यंत आवश्यक तत्व है लेकिन आज भारत पानी की जिस स्थिति का सामना कर रहा है वह वास्तव में बहुत कठिन है। ....

कर्मफल

अहंकार और अत्याचार संसार में आज तक किसी को बुरे कर्मफल से बचा न पाए। ....

मानवीय ढांचा

मूल रूप से आप जिसे ‘मैं’ कहते हैं, जिसे आप मानवीय ढांचे के रूप में देखते हैं वह एक खास सॉफ्टवेयर का काम है। ....

शारदीय नवरात्र : प्रथमं शैलपुत्री

वन्दे वांछितलाभाय चन्दार्धकृतशेखराम। वृषारूढां शूलधरां शैलपुत्री यशस्विनीम्।। ....

वृक्षारोपण

चालीस साल पहले, मैं जब एक फार्म में रहता था, तो देखता था कि सभी किसानों के खेतों में कुछ पेड़ जरूर होते थे। ....

प्यास

श्रीकृष्ण स्वयं भी महाभारत रोक न सके। इस बात पर महामुनि उत्तंक को बड़ा क्रोध आ रहा था। ....

पुरुष-महिला

भारतीय आध्यात्मिकता, हमेशा ऐसे पुरु षों और महिलाओं का एक समृद्ध मिश्रण रही है, जो अपनी चेतना के शिखर पर पहुंचे थे। ....

महत्त्वाकांक्षा

जिंदगी में प्रत्येक व्यक्ति के भीतर, उसके व्यक्तित्व के भीतर कुछ होने की संभावना है। ....

इष्ट की उपासना

दिन ढल रहा था। रात और दिन फिर से बिछुड़ जाने को कुछ क्षणों के लिए एक दूसरे में विलीन हो गए थे। ....

  फ़ोटो गैलरी
भारतीय डिजाइनर की...
भारतीय डिजाइनर की...
हैप्पीनेस क्लास...
हैप्पीनेस क्लास...
...और ताज को निहारते रह...
...और ताज को निहारते रह...
ट्रंप और...
ट्रंप और...
अहमदाबाद में...
अहमदाबाद में...
महाशिवरात्रि:...
महाशिवरात्रि:...
महाशिवरात्रि: जब...
महाशिवरात्रि: जब...
जब अचानक ‘हुनर...
जब अचानक ‘हुनर...
अबू जानी-संदीप खोसला...
अबू जानी-संदीप खोसला...
मेसी-हेमिल्टन ने...
मेसी-हेमिल्टन ने...
BB 13: जब सिद्धार्थ ने...
BB 13: जब सिद्धार्थ ने...
मेरे भीतर एक मॉडल...
मेरे भीतर एक मॉडल...
महाकाल एक्स. में...
महाकाल एक्स. में...
मौनी रॉय की ये...
मौनी रॉय की ये...
लैक्मे फैशन वीक...
लैक्मे फैशन वीक...
कार्टूनिस्ट...
कार्टूनिस्ट...
आप का
आप का 'छोटा मफलरमैन'...
ढोल नगाड़ों से गूंज...
ढोल नगाड़ों से गूंज...
जिम लुक की चर्चा पर...
जिम लुक की चर्चा पर...
फिनिक्स और रेने ने...
फिनिक्स और रेने ने...
Auto Expo: मारुती की नई Suzuki...
Auto Expo: मारुती की नई Suzuki...
बिग बॉस 13: मधुरिमा...
बिग बॉस 13: मधुरिमा...
दिल्ली में...
दिल्ली में...
नयी तस्वीरों में...
नयी तस्वीरों में...
Auto Expo: हुंडई ने पेश...
Auto Expo: हुंडई ने पेश...
कोरोना वायरस:...
कोरोना वायरस:...
इंदौर और भोपाल में...
इंदौर और भोपाल में...
बजट 2020 की खास बातें एक...
बजट 2020 की खास बातें एक...
सीतारमण की पीली...
सीतारमण की पीली...
अपने स्टाइलिस्ट लुक...
अपने स्टाइलिस्ट लुक...
राजपथ पर दिखा देश...
राजपथ पर दिखा देश...
वीर बच्चों से मोदी...
वीर बच्चों से मोदी...

 

172.31.21.212