Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

16 Feb 2010 01:53:19 PM IST
Last Updated : 30 Nov -0001 12:00:00 AM IST

जर्मन बेकरी का कैशियर धमाके का मुख्य गवाह

पुणे। पुणे की जर्मन बेकरी का कैशियर प्रवीण कुमार पंथ धमाके का मुख्य गवाह है। प्रवीण कुमार ने अपना बयान दर्ज कराया है। प्रवीण कुमार ने अपने बयान में कहा है कि 13 फरवरी को वह ड्यूटी पर तैनात था। उसी समय 11 से 12 लोग बेकरी में काम कर रहे थे। पारस रिमल और गोकुल बरदेवा ग्राहकों से खाने का ऑर्डर ले रहे थे। शनिवार होने की वजह से बेकरी में ग्राहकों की संख्या 50 से 60 थी। उनमें से ज्यादातर विदेशी थे। प्रवीण के मुताबिक शाम को सात बजे बेकरी का वेटर पारस रिमल ने मुझसे कहा कि बाहर कोई बैग रखा है। मैंने उसको बैग को चेक करने उसे अपने कब्जे में लेने को कहा। वहां भीड़ होने की वजह से मैं कैश काउंटर नहीं छोड़ सकता था। प्रवीण ने बताया कि पारस बैग देखने चला गया और मैं अपने काम में व्यस्त हो गया। लेकिन सिर्फ पांच मिनट बाद एक बड़ा धमाका सुनाई दिया। लकड़ी का एक काउंटर मेरे सामने आ गिरा। समुन देवकोटा मेरी मदद के लिए आगे आया उसके बाद मैं बाहर आया और मैंने बेकरी के बरामदे में छत गिरी हुई देखी। फर्नीचर अस्त-व्यस्त पड़ा था। कई लोग जख्मी हालत में फर्नीचर के नीचे दबे हुए थे। कई लोगों की टांगें टूट गई थी और कुछ के चेहरे काले हो गए थे। शरीर के टुकड़े बिखरे हुए थे। पारस रिमल के पैर में चोट लगने से वह रो रहा था। आसपास के लोग मदद के लिए आए। उन्होंने जख्मी लोगों की मदद की और मृतकों को हटाया।

Source:PTI, Other Agencies, Staff Reporters
 
 

ताज़ा ख़बरें


__LATEST ARTICLE RIGHT__
लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 


फ़ोटो गैलरी

 

172.31.21.212