Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

12 Jun 2019 02:41:10 AM IST
Last Updated : 12 Jun 2019 02:44:53 AM IST

छोटी नदियां : इनकी भी सुध लेनी होगी

अतुल कनक
छोटी नदियां : इनकी भी सुध लेनी होगी
छोटी नदियां : इनकी भी सुध लेनी होगी

दक्षिणी हिस्से में मॉनसून की फुहारों ने जनजीवन को हर्षित करना शुरू कर दिया है। किसी भी कृषि प्रधान देश में मॉनसून का आगमन एक उत्सव से कम नहीं होता।

हम उस उत्सव की देहरी पर खड़े हैं। उत्सव का यह संस्कार इसलिए भी महत्त्वपूर्ण है कि वष्रा न केवल हमें तात्कालिक जरूरतों के लिए पानी उपलब्ध कराती है, विविध जल संग्रहण क्षेत्रों में हमारे लिए इतना स्नेहाशीष एकत्र जल के रूप में छोड़ जाती है कि हम वर्ष पर्यत उसका उपयोग करके सुख के सपनों को संवार सकते हैं।
मानव सभ्यता का विकास नदियों के किनारे हुआ। जल और जमीन की पर्याप्त उपलब्धता ने नील नदी से लेकर सिंधु घाटी तक सभ्यता के विकास के प्रारंभ में ही मानव जीवन को उत्कर्ष के नवसोपान सौंपे। नदियों के इस योगदान को आशीर्वाद के रूप में ग्रहण करते हुए भारतीय संस्कृति ने नदियों को मातृस्वरूपा कहा है। गंगा जैसी नदियों के बारे में तो माना जाता है कि उनके स्पर्श मात्र से जीवन के पाप धुल जाते हैं। लेकिन गंगा ही क्यों, भारतीय संस्कृति में तो अधिकांश नदियों को पवित्र माना गया है। बिहार की कर्मनाशा नदी को इसका अपवाद कहा जा सकता है, जिसके बारे में सामान्य मान्यता रही कि उसके स्पर्श से ही मनुष्यों के सद्कर्मो का क्षय हो जाता है। लेकिन उसके भी अपने सांस्कृतिक-सामाजिक कारण रहे। दरअसल, कर्मनाशा नदी को पार करने के बाद बंगाल का वह हिस्सा शुरू हो जाता है, जिसमें प्राचीन काल में बौद्ध धर्म का प्रभाव था। भारतीय इतिहास के एक कालखंड में बौद्ध धर्म और सनातन पंथ की मान्यताएं परस्पर इतनी आमने-सामने हो गई थीं कि एक दूसरे के प्रभाव को भी सद्कर्मो के नाश का कारण कहा जाने लगा था अन्यथा कर्मनाशा नदी ने भी अपने किनारे पर बसे गांवों को भरपूर साधन दिए हैं।

नदियों की पवित्रता की यह अवधारणा नदियों के प्रवाह की प्रांजलता की दुश्मन हो गई। हमने मनमाने तरीके से उनके प्रवाह को यह मानते हुए प्रदूषित किया कि उनके स्पर्श से तो सब कुछ पवित्र हो जाता है। गंगा जैसी नदी भी कुछ स्थानों पर इतनी प्रदूषित पाई गई है कि उन स्थानों के आसपास गंगा नदी का जल पीने योग्य नहीं रहा। जिस नदी के बारे में माना जाता है कि राजा भागीरथ अपने पुरखों का उद्धार करने के लिए उसे स्वर्ग से पृथ्वी पर लाए, उस नदी का प्रदूषण चिंता का कारण हो गया हो तो अन्य नदियों की स्थिति की कल्पना की जा सकती है। दक्षिण-पूर्वी राजस्थान में एक नदी है चंदल्रोही। करीब साठ किलोमीटर यह नदी एक दर्जन से अधिक गांवों की जरूरतों को पूरा करके कोटा शहर के निकट चंबल में मिल जाती है। लेकिन कारखानों से इसके प्रवाह में सतत प्रवाहित होते अपशिष्ट ने नदी के प्रवाह को बदबूदार कर दिया है। झालावाड़ जिले की चंद्रभागा नदी ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्त्व की थी लेकिन उसके पानी में भी अब नहा पाना दिवास्वप्न सा प्रतीत होता है। उत्तर प्रदेश की सई नदी के बारे में मान्यता है कि यह उस कुंड से निकली है, जहां कभी देवी पार्वती सती हुई थीं। त्रेता युग में वनवास के समय स्वयं मर्यादा पुरुषोत्तम राम ने इस नदी में स्नान किया था। तुलसीदास ने अयोध्या कांड में इसका जिक्र किया है। लेकिन सई नदी की हालत अब यह है कि लोग पशुओं तक को इसके आसपास नहीं जाने देते।
मिथिलांचल को नदियों का पीहर कहा जाता है। यहां गोरा और चमहा नदी तो पहले ही गुम हो चुकी हैं, और बेलौंती, फरैनी, चकरदाहा जैसी नदियों की स्थिति भी बहुत अच्छी नहीं है। बुंदेलखंड में अवैध खनन के कारण नदियों के तल में पोखर जैसे बन गए हैं, जिन्होंने नदियों के प्रवाह को अवरुद्ध कर लिया है। 2012 में बुंदेलखंड में राजनीतिक स्तर पर नदियों को बचाने के लिए आंदोलन की बात कही गई थी। लेकिन छोटी नदियां आज भी अपने हाल पर आंसू बहा रही हैं। छिंदवाड़ा जिले की बोदरी नदी देखते ही देखते गंदे नाले में बदल गई है। राजस्थान के जयपुर शहर का अमानीशाह नाला पहले द्रव्यवती नदी था, जिसे एक विशेष परियोजना के तहत पुन: संवारा जा रहा है।
ऐसा नहीं है कि नदियों का जीर्णोद्धार संभव नहीं है। पंजाब में संत बलबीर सिंह सिचेवाल ने कालीबेई नदी को और राजस्थान में तरुण भारत संघ के नेतृत्व में सत्तर गांवों के निवासियों ने अलवर की अरवरी नदी के प्रसंग में साबित कर दिया है कि सामुदायिक संकल्प हो तो दम तोड़ती हुई नदियों को नवजीवन दिया जा सकता है। संकल्प, संचेतना और संवेदना ही छोटी नदियों को बचा सकते हैं। सरस्वती नदी से जुड़ी पौराणिक कथा के अनुसार उसे यह आशीर्वाद प्राप्त था कि जब यह लगने लगे कि दुनिया के मंतव्य उसकी शुचिता के अनुकूल नहीं रहे तो वह लुप्त होना प्रारंभ कर दे। यह महज संयोग नहीं है कि कलयुग के प्रारंभ के साथ ही सरस्वती लुप्त होना शुरू हो गई थी। अब भी हमने छोटी नदियों की सुध नहीं ली तो पीढ़ियां हमें क्षमा नहीं करेंगी।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में ये लेना पसंद करते हैं अमिताभ बच्चन

ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में ये लेना पसंद करते हैं अमिताभ बच्चन

World Cup 1983: कपिल की टीम का करिश्मा, जब टीम इंडिया बनी थी चैंपियन

World Cup 1983: कपिल की टीम का करिश्मा, जब टीम इंडिया बनी थी चैंपियन

दीपिका एक

दीपिका एक 'अच्छी सिंधी बहू' है : रणवीर

PICS: शादी के बाद पहली बार मिमी चक्रवर्ती के साथ लोकसभा पहुंचीं नुसरत जहां

PICS: शादी के बाद पहली बार मिमी चक्रवर्ती के साथ लोकसभा पहुंचीं नुसरत जहां

सोशल मीडिया पर पर्सनल लाइफ शेयर कर रहे हैं सलमान

सोशल मीडिया पर पर्सनल लाइफ शेयर कर रहे हैं सलमान

International Yoga Day: मोदी ने रांची में लगाया आसन, देखिए तस्वीरें

International Yoga Day: मोदी ने रांची में लगाया आसन, देखिए तस्वीरें

PHOTOS: देशभर में ईद की धूम

PHOTOS: देशभर में ईद की धूम

मोदी सरकार-2: सीतारमण, स्मृति समेत 6 महिलाएं

मोदी सरकार-2: सीतारमण, स्मृति समेत 6 महिलाएं

ICC World Cup 2019 का रंगारंग आगाज, क्वीन एलिजाबेथ से मिले सभी टीमों के कप्तान

ICC World Cup 2019 का रंगारंग आगाज, क्वीन एलिजाबेथ से मिले सभी टीमों के कप्तान

PICS: बॉलीवुड सितारों के लिए चुनाव का स्वाद रहा खट्टा-मीठा

PICS: बॉलीवुड सितारों के लिए चुनाव का स्वाद रहा खट्टा-मीठा

वर्ल्ड कप: लंदन पहुंची विराट ब्रिगेड, एक जैसी यूनीफॉर्म में नजर आई भारतीय टीम

वर्ल्ड कप: लंदन पहुंची विराट ब्रिगेड, एक जैसी यूनीफॉर्म में नजर आई भारतीय टीम

PICS: कान्स में सफेद टक्सीडो पहनकर

PICS: कान्स में सफेद टक्सीडो पहनकर 'बॉस लुक' में नजर आईं सोनम

PICS: 25 साल पहले आज ही के दिन सुष्मिता बनीं थीं मिस यूनिवर्स

PICS: 25 साल पहले आज ही के दिन सुष्मिता बनीं थीं मिस यूनिवर्स

PICS: Cannes में ऐश्वर्या ने गोल्डन मर्मेड लुक में बिखेरा जलवा

PICS: Cannes में ऐश्वर्या ने गोल्डन मर्मेड लुक में बिखेरा जलवा

PICS: Cannes में दीपिका के

PICS: Cannes में दीपिका के 'लाइम ग्रीन' लुक के मुरीद हुए रणवीर सिंह

PICS: पीएम मोदी का पहाड़ी परिधान बना आकर्षण का केंद्र

PICS: पीएम मोदी का पहाड़ी परिधान बना आकर्षण का केंद्र

Photos: Cannes में दीपिका पादुकोण के लुक ने जीता सबका दिल

Photos: Cannes में दीपिका पादुकोण के लुक ने जीता सबका दिल

PICS: Cannes में कंगना की कांजीवरम ने सबको लुभाया

PICS: Cannes में कंगना की कांजीवरम ने सबको लुभाया

Photos: प्रियंका चोपड़ा ने Cannes में किया अपना डेब्यू

Photos: प्रियंका चोपड़ा ने Cannes में किया अपना डेब्यू

अमित शाह के रोडशो में हिंसा, कई घायल

अमित शाह के रोडशो में हिंसा, कई घायल

IPL: मुंबई इंडियंस ने सड़कों पर निकाली चैंपियन परेड, खुली बस में ऐसे मनाया जश्न

IPL: मुंबई इंडियंस ने सड़कों पर निकाली चैंपियन परेड, खुली बस में ऐसे मनाया जश्न

PICS: ...जब सिंधिया और सिद्धू उतरे क्रिकेट की पिच पर

PICS: ...जब सिंधिया और सिद्धू उतरे क्रिकेट की पिच पर

PHOTOS: मेट गाला में अनोखे अंदाज में नजर आए प्रियंका, निक जोनस

PHOTOS: मेट गाला में अनोखे अंदाज में नजर आए प्रियंका, निक जोनस

PICS: गर्मियों में खूब पीएं पानी, नहीं लगेगी लू

PICS: गर्मियों में खूब पीएं पानी, नहीं लगेगी लू

PICS: माधुरी, मातोंडकर और रेखा समेत इन बॉलीवुड सितारों ने डाला वोट

PICS: माधुरी, मातोंडकर और रेखा समेत इन बॉलीवुड सितारों ने डाला वोट

PICS: मोदी फिर प्रधानमंत्री बने तो रचेंगे इतिहास

PICS: मोदी फिर प्रधानमंत्री बने तो रचेंगे इतिहास

PICS:

PICS: 'वीरू' के अंदाज में बोले धर्मेंद्र, हेमा को नहीं जिताया तो पानी की टंकी पर चढ़ जाऊंगा

PICS: चुनावी समर में चमकेंगे फिल्मी सितारे

PICS: चुनावी समर में चमकेंगे फिल्मी सितारे

PICS: कॉफी, चाय के बारे में सोचने से ही आ जाती है ताजगी

PICS: कॉफी, चाय के बारे में सोचने से ही आ जाती है ताजगी

31 मार्च से 6 अप्रैल तक का साप्ताहिक राशिफल

31 मार्च से 6 अप्रैल तक का साप्ताहिक राशिफल

शुक्रवार, 29 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

शुक्रवार, 29 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

बृहस्पतिवार, 28 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

बृहस्पतिवार, 28 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग


 

172.31.21.212