Twitter

Facebook

Youtube

Pintrest

RSS

Twitter Facebook
Spacer
Samay Live
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

20 Apr 2017 04:19:29 AM IST
Last Updated : 20 Apr 2017 04:24:16 AM IST

तीन तलाक : शरीयत या शोषण?

असद रजा
लेखक
तीन तलाक : शरीयत या शोषण?
तीन तलाक : शरीयत या शोषण?

इस प्रश्न कि क्या एक साथ एक ही बैठक में तीन तलाक देना पत्नी का शोषण है, का उत्तर देने से पहले हमें शरीयत (इस्लामी धार्मिक विधान), मौलवियों, बुद्धिजीवियों और इस मुद्दे पर कुरआन के निर्देशों पर विचार करना होगा.

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की उस घोषणा पर भी सोचना होगा जिसमें कहा गया है एक साथ तीन तलाक तो सही है परंतु उसका गलत इस्तेमाल करने वालों का सामाजिक बहिष्कार किया जाए.
बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना सैयद राबे हसन नदवी का कथन है कि ‘यदि कुछ लोग तीन तलाक का नाजायज इस्तेमाल कर रहे हैं, तो उस स्थिति में कानून को बदलने की आवश्यकता नहीं बल्कि लोगों को अपना व्यवहार बदलने के लिए तैयार करने की जरूरत है.’ इसका तात्पर्य है कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड एक ही बैठक में एक साथ तीन तलाक को शरीयत का अंग मानता है, मगर इसके गलत इस्तेमाल पर सामाजिक बहिष्कार की बात करता है. परंतु प्रश्न है कि इस बात को कौन तय करेगा कि तीन तलाक के अधिकार का किसी पति ने सही इस्तेमाल किया है या गलत? वास्तविक प्रश्न तो यह है कि एक साथ तीन तलाक देने का कानून सही है या गलत? इस प्रश्न के संदर्भ में उल्लेखनीय है कि इस्लाम धर्म अब अनेक (72 या अधिक) मसलकों (उप संप्रदायों) में बंटा हुआ है, जो शरीयत के कानूनों की व्याख्या अपने-अपने दृष्टिकोण से करते हैं. उदाहरणार्थ-अहले हदीस और शिया इत्यादि मसलक एक ही बैठक में तीन तलाक देने के कानून को इस्लाम विरोधी करार देते हैं.

भारत सहित पूरी दुनिया के एक सौ से अधिक देशों में उपरोक्त मसलकों के मानने वाले करोड़ों मुसलमान रहते हैं. लेकिन इस्लाम के हन्फी मसलक और कुछ अन्य मसलकों के मुसलमान एक साथ तीन तलाक को शरीयत का कानून मानते हैं. पूरे विश्व में तीन तलाक को सही मानने वाले मुसलमानों की जनसंख्या भी करोड़ों में है. यहां यह उल्लेख भी उचित होगा कि एक साथ तीन तलाक को शरीयत का अंग मानने वाले भी इस प्रकार की तलाक को अच्छा नहीं समझते हैं परंतु कोई पति यदि इस प्रकार तीन तलाक दे दें तो वह इसे शरीयत की दृष्टि से सही करार देते हैं, और कहते हैं कि तलाक हो गई है.
मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भी अनेक बन गए हैं. शिया धार्मिक नेता मौलाना मोहम्मद अतहर ने शिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड गठित किया, जिसका नेतृत्व इन दिनों मौलाना यासूब अब्बास कर रहे हैं. यह मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड तीन तलाक को शरीयत नहीं मानता है. इसी प्रकार मुस्लिम महिलाओं ने भी शाइस्ता अम्बर के नेतृत्व में मुस्लिम महिलाओं के लिए अलग से एक मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बनाया है. यह भी एक ही बैठक में तीन तलाक को गलत मानता है. इन बोडरे के गठन से साबित होता है कि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से मुस्लिम महिलाएं और कुछ मुस्लिम मसलक सन्तुष्ट नहीं हैं. इन असंतुष्टों का कहना है एक ही बैठक में तीन तलाक में मुस्लिम महिलाओं का शोषण है और कुरआन और इस्लाम की शिक्षा के खिलाफ है. इस सिलसिले में वे कुरआन शरीफ के ‘सूरए निसा’ और ‘सूरए तलाक’ का हवाला देते हैं, जिसमें साफ कहा गया है कि तीन तोहर (मासिक धर्मो के बाद का समय) में यानी तीन महीनों में तीन तलाक दी जाएं  और यह कि अल्लाह को तलाक पसंद नहीं है.
यहां बताना भी उचित होगा कि इस्लाम धर्म में धार्मिक कानून या शरीयत के मुख्य स्रोत दो हैं. एक स्रोत कुरआन शरीफ है. कुरआन पाक में प्रत्येक मसलक के मुसलमान का अटूट विश्वास है. दूसरा स्रोत हदीस है. हदीस पैगम्बर-ए-इस्लाम  हजरत मोहम्मद (सल्लम) के उन कथनों एवं निर्देशों को कहते हैं, जो उन इस्लामी हस्तियों द्वारा बयान किए गए हैं, जो पैगम्बरे अकरम के जीवनकाल में उनके साथ रहीं. परंतु इन हदीसों में जहां बहुत-सी सही हैं, वहीं कुछ कमजोर और संदेहास्पद भी. एक साथ तीन तलाक देने का स्रोत कुरआन पाक नहीं बल्कि हदीसें ही हैं. इसीलिए लगभग 22 मुस्लिम देशों सऊदी अरब, पाकिस्तान, इराक, ईरान, इंडोनेशिया, तुर्की, मिस्र आदि में एक ही बैठक में तीन तलाक पर विभिन्न ढंगों से अंकुश लगाया गया है. इधर, तीन तलाक के समर्थक भारतीय मुसलमानों और मौलवियों का कहना है कि हम इन इस्लामी देशों के कानूनों को नहीं मानते. प्रश्न  है कि जब भारत में भी तीन तलाक के रिवाज पर बहस हो रही है और केंद्र सरकार और उप्र, गुजरात, राजस्थान, उत्तराखंड, हरियाणा, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, मणिपुर आदि सरकारें और स्वयं सर्वोच्च न्यायालय भी एक ही बैठक में तीन तलाक देने के पक्ष में नहीं है और इस पर कानूनी पाबंदी की मांग उठा रहे हैं, तब क्या ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और हन्फी मसलक के मुसलमान ऐसी पाबंदी को स्वीकार करेंगे? 
जहां तक मुस्लिम छात्रों विशेष रूप से छात्राओं का प्रश्न है तो वे खुल कर तीन तलाक का विरोध करते हैं. हन्फी मसलक के अनेक बुद्धिजीवी भी एक बैठक में तीन तलाक को गलत मानते हैं. जामिया मिल्लिया इस्लामिया के इस्लामिक अध्ययन के पूर्व विभागाध्यक्ष एवं मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी, जोधपुर के अध्यक्ष प्रो. अख्तरूलवासे तीन तलाक को कुरआन के खिलाफ बताते हैं. इसी प्रकार मशहूर शायर  जावेद अख्तर ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड द्वारा तीन तलाक को जायज करार देने की घोषणा की आलोचना करते हुए इसे शोषण कहा है और इस पर पाबंदी लगाने की मांग की है.
वास्तव में 21वीं सदी में जब महिलाएं जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर महान कार्य कर रही हैं, तब उन पर  तीन  तलाक की तलवार से उनके मानवीय अधिकारों का हनन निश्चित ही चिंता का विषय है. वे अपने अधिकारों के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई हैं, तो ऑल इंडिया पर्सनल लॉ बोर्ड और उलेमा को भी इस मुद्दे पर खुले मन से इस पर पुनर्विचार करना चाहिए. ऐसा नहीं किया गया तो उनका अड़ियलपन देश में मुस्लिमों की बदनामी का सबब बन जाएगा. वास्तव में एक साथ तीन तलाक शरीयत नहीं बल्कि मुस्लिम महिलाओं का शोषण है.


 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :



फ़ोटो गैलरी
जानिए सोमवार, 26 जून 2017 का राशिफल

जानिए सोमवार, 26 जून 2017 का राशिफल

साप्ताहिक राशिफल : जानिए इस सप्ताह का राशिफल

साप्ताहिक राशिफल : जानिए इस सप्ताह का राशिफल

जानिए शनिवार, 24 जून 2017 का राशिफल

जानिए शनिवार, 24 जून 2017 का राशिफल

Movie Review:

Movie Review: 'ट्यूबलाइट' ने सिनेमाघरों में किया उजाला, फुल पैसा वसूल

योगा-डे पर सोहा अली खान ने किया बेबी बंप फ्लॉन्ट, See Pics

योगा-डे पर सोहा अली खान ने किया बेबी बंप फ्लॉन्ट, See Pics

जानिए बुधवार 21 जून 2017 का राशिफल

जानिए बुधवार 21 जून 2017 का राशिफल

'बिग बॉस' की Ex-कंटेस्टेंट लोपामुद्रा राउत का बिकनी फोटोशूट, See PICS

PICS:सस्ते स्मार्टफोन श्रेणी में मोटोरोला का मोटो सी प्लस पेश, कीमत 6,999

PICS:सस्ते स्मार्टफोन श्रेणी में मोटोरोला का मोटो सी प्लस पेश, कीमत 6,999

जानिए मंगलवार 20 जून 2017 का राशिफल

जानिए मंगलवार 20 जून 2017 का राशिफल

PICS: किदांबी श्रीकांत के लिए रेत का 10 फुट लंबा रैकेट

PICS: किदांबी श्रीकांत के लिए रेत का 10 फुट लंबा रैकेट

पापा शाहरूख संग दिखा बेटी सुहाना Swag, देखें तस्वीरें..

पापा शाहरूख संग दिखा बेटी सुहाना Swag, देखें तस्वीरें..

पति डेनियल के साथ लिप-लॉक करती सनी लियोन, फोटोज वायरल

पति डेनियल के साथ लिप-लॉक करती सनी लियोन, फोटोज वायरल

जानिए सोमवार 19 जून 2017 का राशिफल

जानिए सोमवार 19 जून 2017 का राशिफल

इटली में कुछ यूं वेकेशन मना रही हैं संजय दत्त की पत्नी मान्यता, See Pics

इटली में कुछ यूं वेकेशन मना रही हैं संजय दत्त की पत्नी मान्यता, See Pics

जानिए 18 से 24 जून 2017 तक का सप्ताह का राशिफल

जानिए 18 से 24 जून 2017 तक का सप्ताह का राशिफल

PICS: PM मोदी बने कोच्चि मेट्रो के पहले यात्री

PICS: PM मोदी बने कोच्चि मेट्रो के पहले यात्री

कैट से कम हॉट नहीं उनकी बहन, करेंगी बॉलीवुड में एंट्री

कैट से कम हॉट नहीं उनकी बहन, करेंगी बॉलीवुड में एंट्री

विश्वास पर

विश्वास पर 'पोस्टर वार', बताया- BJP का यार और कवि नहीं गद्दार

जानिए शनिवार 17 जून 2017 का राशिफल

जानिए शनिवार 17 जून 2017 का राशिफल

PICS:

PICS:'नच बलिए 8' कंटेस्टेंट मोनालिसा का हॉट फोटोशूट कर देगा हैरान

44 के अनुराग कश्यप को 23 साल की इस लड़की से हुआ प्यार, देखें तस्वीरें

44 के अनुराग कश्यप को 23 साल की इस लड़की से हुआ प्यार, देखें तस्वीरें

Birthday Special: जानें मिथुन चक्रवर्ती की 10 दिलचस्प बातें

Birthday Special: जानें मिथुन चक्रवर्ती की 10 दिलचस्प बातें

PICS: जानें गर्मियों में क्यों रोज नहाना है जरूरी

PICS: जानें गर्मियों में क्यों रोज नहाना है जरूरी

PICS: एबी डिविलयर्स का रिकार्ड तोड़ कोहली ने सबसे कम पारियों में पूरे किये 8000 वनडे रन

PICS: एबी डिविलयर्स का रिकार्ड तोड़ कोहली ने सबसे कम पारियों में पूरे किये 8000 वनडे रन

जानिए बृहस्पतिवार 15 जून 2017 का राशिफल

जानिए बृहस्पतिवार 15 जून 2017 का राशिफल

युद्ध कैसे समाप्त हो सकता है? सलमान ने बताया ये तरीका

युद्ध कैसे समाप्त हो सकता है? सलमान ने बताया ये तरीका

अमिताभ बच्चन विश्व स्वास्थ्य संगठन के सद्भावना दूत नियुक्त

अमिताभ बच्चन विश्व स्वास्थ्य संगठन के सद्भावना दूत नियुक्त

शिवाजी नहीं महाराष्ट्र का गौरव बना रहे रितेश : रामगोपाल

शिवाजी नहीं महाराष्ट्र का गौरव बना रहे रितेश : रामगोपाल

मोदी ने कहा, बुद्ध का शांति संदेश आतंकवाद का जवाब

मोदी ने कहा, बुद्ध का शांति संदेश आतंकवाद का जवाब

PICS: आखिरकार, अरबाज-मलाइका का हुआ

PICS: आखिरकार, अरबाज-मलाइका का हुआ 'तलाक', 18 साल की शादी खत्म

जानिए कैसा रहेगा 12 मई, शुक्रवार का राशिफल

जानिए कैसा रहेगा 12 मई, शुक्रवार का राशिफल

PICS :

PICS : 'पीकू' के दो साल पूरे होने पर दीपिका ने अनूठे तरीके से मनाया जश्न


 

172.31.20.145