Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
विभूति

हम संपदाएं कमाने में तल्लीन हों या विभूतियां उपार्जित करने के लिए तत्पर हों, इस ऊहापोह में गहराई तक उतरने के पश्चात इसी निष्कर्ष पर पहुंचना पड़ता है कि आत्मिक विभूतियों की समृद्धि भौतिक तुलनाओं की अपेक्षा कही ....

खेल

क्या खेल सिर्फ मनोरंजन के लिए होते हैं, या फिर ये इंसान के विकास में भी मदद कर सकते हैं। ....

औचित्य का मार्ग

महत्ता इस बात की नहीं कि सफलता कितनी बड़ी पाई गई। गरिमा इस बात की है कि उसे किस प्रकार पाया गया? ....

परिवार का महत्त्व

परिवार इंसान के विकास के लिए एक मजबूत आधार है। मगर कई लोगों के लिए परिवार एक सहारा नहीं बनता, बल्कि बाधा बन जाता है। ....

नया वर्ष

नये वर्ष के नये दिन पर पहली बात तो यह कहना चाहूंगा कि दिन तो रोज ही नया होता है, लेकिन रोज नये दिन को न देख पाने के कारण हम वर्ष में कभी-कभी नये दिन को देखने की कोशिश करते हैं। ....

तीन महान तत्त्व

अमृत, पारस और कल्पवृक्ष यह तीनों महान तत्त्व सर्वसाधारण के लिए सुलभ हैं। ....

जीवन का महत्त्व

मैं भारत में चारों ओर, इधर से उधर घूमा। किसी खास स्थान पर जाने के लिए नहीं, मुझे बस हर एक इलाका देखना था। मेरे लिए सब कुछ चित्र रूप ही होता है। ....

धर्म का स्वरूप

आज के समय में लोगों ने धर्म को मजहब या संप्रदाय का पर्यायवाची मान लिया है। ‘धर्म’ शब्द सुनते ही वे इसे कोई मत-पंथ या संप्रदाय समझते हैं। ....

बुद्धिमता

अपनी ऊर्जा का पूरी काबिलियत के साथ इस्तेमाल करने की बजाय, अपने भीतर और बाहर सही वातावरण बनाने की बजाय, दुर्भाग्य से हम हमेशा ऐसी चीजें ढूंढते रहते हैं जो हमारे लिए ये सब कर दें। ....

दुख और कष्ट

इसलिए धनी आदमी दुखी हो जाते हैं। गरीब आदमी इतना दुखी नहीं होता। यह जरा अजीब लगेगी मेरी बात। गरीब आदमी कष्ट में होता है, दुख में नहीं होता। ....

दुख

चारों ओर प्रकाश व्याप्त होने पर भी व्यक्ति अंधकार का रोना रो सकता है और अंधेरा-अंधेरा चीखता-चिल्लाता रह सकता है। इसके मात्र दो ही कारण हो सकते हैं। ....

कर्म

चलिए जानते हैं कि कर्म क्या है? आप जिस तरह किसी बात को ग्रहण करते हैं, उसे जानते हैं, उसे अनुभव करते हैं और जिस तरह किसी बात पर प्रतिक्रिया देते हैं, वह आपके अतीत की यादों पर निर्भर करता है। ....

गुरु-महिमा

संत कबीर कहते हैं कि गुरु गोविन्द दोनों खड़े हैं। मैं पहले किसके चरण स्पर्श करूं? ....

गुरु

किसी ने मुझसे कुछ समय पहले पूछा था, ‘क्या सिर्फ ब्रह्मचारी ही आप के शिष्य हैं?’ मैंने कहा, ‘हां, वे ही मेरे शिष्य हैं।’ ....

जीवन का उत्सव

तुम जहां हो, वहीं से यात्रा शुरू करनी पड़ेगी। तुम बैठे मूलाधार में और सहसार की कल्पना करोगे तो सब झूठ हो जाएगा। ....

ध्यान का महत्त्व

मेरे पूरे जीवन की कोशिश यही रही है कि रहस्यवाद को, आध्यात्मिकता को सरल व तार्किक तरीके से आपके सामने पेश कर सकूं ताकि आप उसे आसानी से समझ सकें, ग्रहण कर सकें। ....

ईश्वर है या नहीं?

नास्तिकवाद का कथन यह है कि-‘इस संसार में ईश्वर नाम की कोई वस्तु नहीं, क्योंकि उसका अस्तित्व प्रत्यक्ष उपकरणों से सिद्ध नहीं होता।’ ....

आत्मिक प्रगति

अध्यात्म का अर्थ है अपने आपे का विज्ञान। पदार्थ विज्ञान का, साइंस का अपना महत्त्व है। ....

रहस्यवाद

अगर कोई चीज काम नहीं कर रही तो जाहिर सी बात है कि उस काम को ठीक ढंग से नहीं किया गया होगा। ....

सीख

एक समय की बात है, एक जंगल में सेब का एक बड़ा पेड़ था। एक बच्चा रोज उस पेड़ पर खेलने आया करता था। ....

  फ़ोटो गैलरी
जब अक्षय ने पी हाथी...
जब अक्षय ने पी हाथी...
देश के इन शहरों में...
देश के इन शहरों में...
प्रणब दा के कुछ...
प्रणब दा के कुछ...
दिल्ली-NCR में भारी...
दिल्ली-NCR में भारी...
सैफ को जन्मदिन पर...
सैफ को जन्मदिन पर...
स्वतंत्रता...
स्वतंत्रता...
इन स्टार जोड़ियों...
इन स्टार जोड़ियों...
देखें राणा-बजाज का...
देखें राणा-बजाज का...
PM मोदी ने राममंदिर की...
PM मोदी ने राममंदिर की...
देश में आज मनाई जा रही...
देश में आज मनाई जा रही...
बिहार में बाढ़...
बिहार में बाढ़...
त्याग, तपस्या और...
त्याग, तपस्या और...
बिहार में नदिया उफान...
बिहार में नदिया उफान...
दिल्ली-NCR में हुई...
दिल्ली-NCR में हुई...
B
B'day Special: प्रियंका...
PHOTOS:
PHOTOS: 'दिल बेचारा'...
B
B'day: जानें कैसा रहा...
सरोज खान के निधन...
सरोज खान के निधन...
बाल कलाकार...
बाल कलाकार...
पसीने से मेकअप को...
पसीने से मेकअप को...
सुशांत काफी...
सुशांत काफी...
अनलॉक-1 शुरू होते ही घर...
अनलॉक-1 शुरू होते ही घर...
स्वर्ण...
स्वर्ण...
श्रद्धालुओं के...
श्रद्धालुओं के...
चक्रवात निसर्ग...
चक्रवात निसर्ग...
World Cycle Day: ये हैं...
World Cycle Day: ये हैं...
अनलॉक -1 के पहले...
अनलॉक -1 के पहले...
लॉकडाउन बढ़ाए जाने...
लॉकडाउन बढ़ाए जाने...
एक दिन बनूंगी...
एक दिन बनूंगी...
सलमान के ईदी के...
सलमान के ईदी के...
सुपर साइक्लोन...
सुपर साइक्लोन...
अनिल-सुनीता मना...
अनिल-सुनीता मना...

 

172.31.21.212