Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

30 Jul 2020 12:07:27 AM IST
Last Updated : 30 Jul 2020 12:09:19 AM IST

ईद-उल-जुहा : नजीर पेश करने का वक्त

रिजवान अंसारी
ईद-उल-जुहा : नजीर पेश करने का वक्त
ईद-उल-जुहा : नजीर पेश करने का वक्त

ईद उल-जुहा (बकरीद) मुसलमानों का अहम त्योहार है। अरबी कैलेंडर के आखिरी महीने (जिल-हिज्जा) में मनाए जाने वाली बकरीद त्याग और बलिदान की याद दिलाने वाला और उसका महत्त्व समझाने वाला महान पर्व है।

दरअसल, हर साल हज के महीने में बकरीद मनाई जाती है। जिस दिन हज की समाप्ति होती है, उसी दिन यह त्योहार मनाते हैं। सऊदी अरब जाकर हज करने वाले हर हाजी के लिए एक कुर्बानी करना अनिवार्य होता है। इस्लाम में बलिदान को बहुत अधिक महत्त्व दिया गया है। ईश्वर की राह में अपनी सबसे प्यारी चीज को कुर्बान करना उत्तम कार्य माना गया है।
ईद-उल-फितर की तरह ही इस बार की बकरीद भी कई मायनों में अनूठी होने वाली है। कोरोना वायरस के कारण उपजी महामारी ने पर्व-त्योहारों को मनाने का तरीका ही बदल दिया है। लॉकडाउन के बाद इस साल सभी धर्मो के पर्व सादगी से मनाए गए हैं और आगे भी ऐसी ही उम्मीद है। इस साल ईद-उल-फितर बड़ी सादगी से मनाई गई थी। लॉकडाउन के कारण लोगों ने घर में ही नमाज अदा की। हालांकि अब कई राज्यों से लॉकडाउन को हटा लिया गया है, लेकिन कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए बकरीद की नमाज भी घरों में ही अदा करना मुनासिब है।

दरअसल, इस पर्व के संदेश को अपने जीवन में उतारने का यह सबसे माकूल वक्त है। बकरीद द्वारा त्याग के पैगाम से सीखते हुए हमें विश्व कल्याण के लिए अपनी इच्छाओं को त्यागने की जरूरत है। बड़ी तादाद में हमारा इकट्ठा होना संक्रमण के खतरे को और बढ़ा सकता है। लिहाजा, देशवासियों की सुरक्षा का ख्याल रखते हुए हमें किसी भी भीड़ का हिस्सा बनने से बचने की जरूरत है। एक बार फिर ईदगाह और मस्जिदों में नमाज पढ़ने और सबसे गले मिलने की खुशियों को त्यागना होगा।
इससे इतर, हम जानते हैं कि इस्लाम प्रेम और भाईचारे का समर्थन करने वाला धर्म है। हम जानते हैं कि इस वैश्विक आपदा के समय मध्यम और निम्न आय वर्ग वाले परिवारों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। करोड़ों लोगों की नौकरियां चली गई तो कइयों के कारोबार ठप हो गए। देश के कई राज्यों से तो लोगों के भुखमरी के शिकार होने की खबरें भी आई हैं। दूसरी ओर, कोरोना महामारी के चलते सऊदी अरब ने इस बार विदेशी हजयात्रियों के लिए दरवाजे बंद कर दिए हैं। यह जानकर हैरानी होगी कि हर साल भारत से दो लाख लोग हज करने जाते हैं और हर व्यक्ति औसतन तीन लाख रु पये खर्च करता है। इस तरह देखें, तो हज यात्रा पर खर्च होने वाले कुल 6 हजार करोड़ यानी 60 अरब रु पये लोगों के बच गए। यह तो तय है कि ये रु पये अल्लाह की राह में खर्च होने वाले थे। फिर क्यों न इन बचे रु पयों से एक ऐसा फंड विकसित किया जाए जो दबे-कुचले और हाशिये पर बैठे लोगों के काम आए? इससे समाज के विकास और गरीबों को सशक्त करने की एक बड़ी योजना तैयार हो सकती है। हमें समझने की जरूरत है कि अल्लाह की राह में खर्च करने का मतलब नेकी और भलाई के कामों से है।
फिर हालिया परिस्थिति को देखते हुए हमें परंपरागत रूप से हो रही कुर्बानी पर भी पुनर्विचार करने की जरूरत है। हम यह समझ ही चुके हैं कि मौजूदा वक्त में हर समाज, हर मजहब के लोगों के साथ खड़ा होना बेहद जरूरी है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि हम गरीब-मजदूरों की इस दयनीय परिस्थिति में उनके मददगार बनें। गौरतलब है कि कुर्बानी भी अल्लाह के हुक्म को मानने की नीयत से दी जाती है और जरूरतमंदों एवं मजलूमों की मदद करना भी अल्लाह का हुक्म है। फिर क्यों न कुर्बानी पर खर्च होने वाले धन को इन गरीबों पर दिल खोलकर खर्च किया जाए?
दरअसल, ‘कुर्बानी’ की कुर्बानी देकर अगर हम समाज के पुनरु द्धार के लिए आगे आते हैं, तो इससे बेहतर बात कुछ और नहीं हो सकती। इससे समाज में सौहार्द और समरसता का आगमन होगा और ये दो चीजें समाज में अमन और शांति की नींव डालेंगी। ये कुछ ऐसे कार्य हैं, जो इस पर्व के मूल संदेश-त्याग और बलिदान को अमलीजामा पहनाने के सबूत हैं। तो आइए, इस बदलते वक्त में समाज में परिवर्तन की नींव रखते हैं और पूरी दुनिया तथा कौम के लिए एक नजीर पेश करते हैं।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
इन स्टार जोड़ियों ने लॉकडाउन में की शादी, देखें PHOTOS

इन स्टार जोड़ियों ने लॉकडाउन में की शादी, देखें PHOTOS

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

B

B'day Special: प्रियंका चोपड़ा मना रहीं 38वा जन्मदिन

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

B

B'day Special : जानें कैसा रहा है रणवीर सिंह का फिल्मी सफर

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह

लॉकडाउन :  ऐसे यादगार बना रही करीना छुट्टी के पल

लॉकडाउन : ऐसे यादगार बना रही करीना छुट्टी के पल

PICS: निर्भया को 7 साल बाद मिला इंसाफ, लोगों ने मनाया जश्न

PICS: निर्भया को 7 साल बाद मिला इंसाफ, लोगों ने मनाया जश्न

PICS: मार्च महीने में शिमला-मनाली में हुई बर्फबारी, हिल स्टेशन का नजारा हुआ मनोरम

PICS: मार्च महीने में शिमला-मनाली में हुई बर्फबारी, हिल स्टेशन का नजारा हुआ मनोरम

PICS: रंग के उमंग पर कोरोना का साया, होली मिलन से भी परहेज

PICS: रंग के उमंग पर कोरोना का साया, होली मिलन से भी परहेज

PICS: कोरोना वायरस से डरें नहीं, बचाव की इन बातों का रखें ख्याल

PICS: कोरोना वायरस से डरें नहीं, बचाव की इन बातों का रखें ख्याल

PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका


 

172.31.21.212