Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

26 Jan 2020 04:27:15 AM IST
Last Updated : 26 Jan 2020 04:29:10 AM IST

वैश्विकी : सोरोस नहीं, सर्वेक्षण सही

डॉ. दिलीप चौबे
वैश्विकी : सोरोस नहीं, सर्वेक्षण सही
वैश्विकी : सोरोस नहीं, सर्वेक्षण सही

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नये वर्ष और नये दशक में दो बड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। इन चुनौतियों से वह कैसे निपटते हैं, इस पर उनके दूसरे कार्यकाल की सफलता या असफलता का निर्धारण होगा।

आर्थिक मंदी और दुनिया में भारत की खराब छवि, ये दोनों चुनौतियां आपस में जुड़ी हैं। यह सच्चाई दावोस (स्विटजरलैंड) में आयोजित विश्व आर्थिक सम्मेलन में उजागर हुई। विश्व की अर्थव्यवस्था में अहम भूमिका निभाने वाले अरबपति निवेशक और उद्यमी जॉर्ज सोरोस ने भारत और मोदी सरकार पर जो प्रतिकूल टिप्पणी की उसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। उन्होंने दुनिया में लोकतंत्र विरोधी ताकतों के मजबूत होने, तानाशाही वाले नेताओं के सत्ता में और धर्म-नस्ल के आधार पर बढ़ती असहिष्णुता का उल्लेख किया। कश्मीर (अनुच्छेद 370 हटाना) और नागरिकता संशोधन कानून के बारे में सोरोस ने जो कहा, उसमें तथ्यात्मक गलती थी और अतिरंजना थी।
सोरोस के अनुसार इस समय दुनिया में सबसे चिंताजनक रुझान भारत की ओर से आ रहा है, जहां अर्धस्वायत्तशासी मुस्लिम बहुल राज्य कश्मीर में अधिकारों का हनन हो रहा है तथा देश में लाखों मुसलमानों को नागरिकता से वंचित करने की कोशिश की जा रही है। पर सोरोस का यह बयान तथ्यों पर सही नहीं उतरता, लेकिन जब एक दिग्गज वित्त प्रबंधक की ओर से दावोस में यह बयान आया तो वहां मौजूद दुनिया भर के नेताओं और निवेशकों के ऊपर इसका निश्चित रूप से असर पड़ा होगा। सोरोस हंगरी-अमेरिकी मुद्रा सटोरिया, स्टॉक निवेशक, व्यापारी और राजनीतिक कार्यकर्ता हैं। सोरोस के पहले माइक्रोसॉफ्ट के भारतीय मूल के मुखिया सत्या नडेला ने भी नागरिकता कानून के बारे में कुछ ऐसा ही बयान दिया था।

अमेजन के मीडिया साम्राज्य से जुड़े अखबार ‘वाशिंगटन पोस्ट’ में तो मोदी  विरोधी लेख लगातार छपते रहते हैं। शायद यही वजह थी कि पिछले दिनों भारत यात्रा पर आए अमेजन के मुखिया जेफ बेजोस को प्रधानमंत्री मोदी ने मिलने का समय नहीं दिया था। बाहरी देशों में हो रही आलोचना को मोदी सरकार नजरअंदाज और खारिज कर सकती है, लेकिन विदेशी निवेश को आकषिर्त करने के लिए दिन-रात कोशिश कर रही मोदी सरकार के लिए देश की विपरीत छवि बनना चिंताजनक अवश्य है। प्रधानमंत्री मोदी अपनी विदेश यात्राओं के दौरान निवेशकों के सम्मेलनों को संबोधित करते रहे हैं। मोदी भारत को विदेशी निवेशकों के लिए आदर्श गंतव्य करार देते हैं। एक ऐसा गंतव्य जहां लोकतंत्र है, विधि का शासन है, और स्वतंत्र न्यायपालिका है। घरेलू स्तर पर विरोध, आंदोलन और अराजकता की स्थिति निवेश के लिए प्रतिकूल साबित होती हैं। सही या गलत दुनिया में यदि भारत की लोकतांत्रिक व्यवस्था और विधि के शासन पर सवालिया निशान उठाए जाते हैं, तो बहुत घाकत सिद्ध हो सकता है।
विदेश मंत्री एस. जयशंकर और विदेश मंत्रालय के अन्य अधिकारियों द्वारा मोदी सरकार के फैसलों के बारे में दी जा रही सफाई कारगर सिद्ध नहीं हो रही है। स्वयं मोदी भी अपने प्रयासों की असफलता को शायद महसूस करने लगे हैं। यदि और कोई अवसर होता तो मोदी स्वयं दावोस जाना पसंद करते, लेकिन इस बार दावोस में भारतीय दल का नेतृत्व रेल,वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने किया। उन्होंने विश्व आर्थिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था उड़ान भरने को तैयार है। लेकिन सच्चाई तो यह है कि देश की अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए सरकार के सारे प्रयत्न निष्फल हो रहे हैं।
इस बीच, प्राइसवॉटरहाउसकूपर द्वारा किए गए एक वैश्विक सर्वेक्षण में भारत के लिए आशा की किरण दिखाई दे रही है। सर्वेक्षण में सामने आया है कि भारत विश्व का चौथा बड़ा बाजार है, जहां कंपनियों की आय तेजी से बढ़ सकती हैं। मौजूदा समय में देश में चल रहे विरोध आंदोलन के बीच सबकी नजरें अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा पेश किए जाने वाले बजट की ओर लगी हैं। बजट के जरिए कम से कम घरेलू स्तर पर आम आदमी और उद्योग-व्यापार जगत के विश्वास को बहाल किया जा सकता है। अर्थव्यवस्था को फिर तेज आर्थिक वृद्धि की पटरी पर लाने के बाद दुनिया में भारत की छवि को सुधारने की मुहिम शुरू की जा सकती है।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
PICS: अक्षय कुमार ने बताया-रोजाना पीता हूँ गौमूत्र, हाथी के

PICS: अक्षय कुमार ने बताया-रोजाना पीता हूँ गौमूत्र, हाथी के 'पूप' की चाय पीना बड़ी बात नहीं

PICS: दिल्ली सहित देश के कई शहरों में एहतियात के साथ शुरू हुई मेट्रो सेवा

PICS: दिल्ली सहित देश के कई शहरों में एहतियात के साथ शुरू हुई मेट्रो सेवा

प्रणब दा के कुछ यादगार पल

प्रणब दा के कुछ यादगार पल

PICS: दिल्ली-NCR में भारी बारिश के बाद मौसम हुआ सुहाना, उमस से मिली राहत

PICS: दिल्ली-NCR में भारी बारिश के बाद मौसम हुआ सुहाना, उमस से मिली राहत

PICS: सैफ को जन्मदिन पर करीना कपूर ने दिया खास तोहफा, वीडियो किया शेयर

PICS: सैफ को जन्मदिन पर करीना कपूर ने दिया खास तोहफा, वीडियो किया शेयर

स्वतंत्रता दिवस: धूमधाम से न सही पर जोशो-खरोश में कमी नहीं

स्वतंत्रता दिवस: धूमधाम से न सही पर जोशो-खरोश में कमी नहीं

इन स्टार जोड़ियों ने लॉकडाउन में की शादी, देखें PHOTOS

इन स्टार जोड़ियों ने लॉकडाउन में की शादी, देखें PHOTOS

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

B

B'day Special: प्रियंका चोपड़ा मना रहीं 38वा जन्मदिन

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

B

B'day Special : जानें कैसा रहा है रणवीर सिंह का फिल्मी सफर

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह


 

172.31.21.212