Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

24 Jan 2020 02:51:49 AM IST
Last Updated : 24 Jan 2020 02:55:06 AM IST

ग्रामीण संकट : समाधान में समग्रता हो

भारत डोगरा
ग्रामीण संकट : समाधान में समग्रता हो
ग्रामीण संकट : समाधान में समग्रता हो

हाल के वर्षों में किसानों का संकट बहुत चर्चा में रहा है। खेती-किसानी वास्तव में बहुत कठिनाई के दौर से गुजर रही है।

इसके बावजूद यदि हम केवल किसान के संकट के स्थान पर गांव के संकट को विमर्श के केंद्र में रखें तो यह और सार्थक प्रयास होगा। इसके कई कारण हैं। एक वजह तो यह है कि अनेक गांवों में भूमिहीन मजदूर परिवारों की संख्या अब काफी अधिक है। वे भी खेती में मजदूर या बटाईदार या ठेके पर खेती करने वाले के रूप में महत्त्वपूर्ण रूप से जुड़े हैं पर प्राय: सरकारी परिभाषा में उन्हें किसान के रूप में मान्यता नहीं मिलती है। यदि गांव के सबसे निर्धन परिवारों को विमर्श के दायरे में रखना है तो भूमिहीन परिवारों व प्रवासी मजदूरों पर आधारित परिवारों को भी ध्यान में रखना होगा। इसके अतिरिक्त किसान परिवार के विभिन्न सदस्य भी अब मजदूरी सहित अन्य रोजगारों में आ रहे हैं।

अनेक छोटे किसानों की आर्थिक मजबूती के लिए यह जरूरी हो गया है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था में अधिक विविधता भरी आजीविकाएं हों, जिससे वे खेती-किसानी का अपना मूल आधार बनाए रखते हुए भी अन्य रोजगारों से पर्याप्त धन अर्जन कर सकें। खेती-किसानी के टिकाऊपन के लिए गांवों में जल-संरक्षण के कार्य जरूरी हैं, गांव के पर्यावरण व हरियाली की रक्षा जरूरी है। इन सभी महत्त्वपूर्ण पक्षों को ध्यान में रखते हुए किसान-संकट के समाधान के साथ ग्रामीण संकट के समाधान का अधिक व्यापक विमर्श होना चाहिए। खेती-किसानी पर तेजी से बढ़ते हुए खर्च व इससे जुड़े कर्ज को कम करना बहुत जरूरी हो गया है।


इसी तरह डेयरी कार्य के खर्च को कम करना जरूरी हो गया है। इसके लिए चारागाहों व चारे के वृक्षों को बढ़ाना, जल व नमी के संरक्षण में वृद्धि, आपसी सहयोग से कंपोस्ट खाद में वृद्धि, परंपरागत बीजों का संरक्षण व आदान-प्रदान तथा बुजुर्गों के खेती-किसानी के ज्ञान से सीखना बहुत जरूरी है। परंपरागत दस्तकारी को नवजीवन देकर या आधुनिक सूचना तकनीक का लाभ उठाकर गांवों में विविधतापूर्ण रोजगार उपलब करने चाहिए। दैनिक उपयोग की अधिक वस्तुओं का उत्पादन गांव व कस्बे के कुटीर उद्योगों में होना चाहिए। इन सभी के लिए गांवों में आपसी सहयोग व भाईचारा बढ़ाना व शोषण, भेदभाव तथा दबंगई को दूर करना भी जरूरी है। समाज-सुधार व न्याय के लिए समर्पित युवा आगे आएं व संगठित हों तो गांवों का संकट दूर करने में व गांवों की आत्मनिर्भरता बढ़ाने में बहुत मदद मिलेगी।

इन युवाओं में से उस गांव या आसपास के गांवों के लिए भावी शिक्षक व स्वास्थ्यकर्मी निकलने चाहिए व गांवों के प्रतिभाशाली युवाओं को इसके लिए जरूरी शिक्षा व प्रशिक्षण देने के लिए विशेष कार्यक्रम चलने चाहिए। बालिकाओं, किशोरियों व महिलाओं को हर स्तर पर अपनी प्रतिभाओं के विकास के लिए खुला माहौल मिलना चाहिए व प्रोत्साहन मिलना चाहिए। शराब, गुटखा व सभी तरह के नशे व जुए को दूर करने के लिए गांव में स्थाई ना-विरोधी समिति बनाकर निरंतरता से प्रयास करना चाहिए ताकि इन बुराइयों को 95 प्रतिशत तक तो दूर कर ही दिया जाए। पुराने झगड़ों, कोर्ट-कचहरी, रिश्वत के खर्चे, गुटबंदी, भेदभाव व वैमनस्य को दूर करने के लिए सद्भावना समिति बनाकर निरंतरता से प्रयास होने चाहिए।

दहेज प्रथा समाप्त करने व शादी-ब्याह जैसे अवसरों पर अनावश्यक खर्च कम करने के प्रयास भी निरंतरता से होने चाहिए। शिक्षा व स्वास्थ्य सेवाओं को सस्ता व सुलभ बनाने के लिए सरकार पर विशेष दबाव बनाना चाहिए व गांव समुदाय को अपनी ओर से सहयोग भी देना चाहिए। स्वयं सहायता समूहों का गठन कर अचानक आई जरूरत को पूरा करने के लिए कर्ज की बहुत कम ब्याज पर व्यवस्था करनी चाहिए। पहले से बैंकों व साहूकारों का जो कर्ज जमा हो गया है, उसका बोझ कम करने के न्यायसंगत उपाय सरकार को घोषित करने चाहिए। राष्ट्रीय व राज्य नीति स्तर पर ग्रामीण विकास के लिए अधिक बजट उपलब होना चाहिए। इन उपायों से व्यापक ग्रामीण संकट व किसानों के संकट को एक साथ कुछ ही वर्षो में कम किया जा सकता है। दुर्भाग्यवश इस तरह की समग्र सोच को प्राय: उपेक्षित किया जाता है। सरकारी प्रयास अपनी विभिन्न स्कीमों की संकीर्ण सोच से आगे बढ़कर समग्र सोच नहीं अपना सके हैं। इतना ही नहीं, प्राय: उनका प्रयास इन स्कीमों व कार्यक्रमों की उपलब्धियों का अतिश्योक्तिपूर्ण ढंग से प्रचार करने पर ही लगा रहता है जिससे कि सही तस्वीर भी सामने नहीं आती है।

जब हकीकत को छिपाया जाता है तो यह स्वयं वास्तविक प्रगति की राह में बाधा बन जाता है। गलतियों को स्वीकार ही नहीं किया जाता है तो उनसे सीखा कैसे जाए? दूसरी ओर अनेक संस्थाओं के प्रयास भी किसी तरह अपने प्रोजेक्ट पूरे करने पर सिमट गए हैं। हालांकि कुछ संस्थाएं वास्तव में बहुत अच्छा कार्य कर रही हैं, पर प्राय: यह प्रोजेक्टों की परिधि के भीतर ही हैं व समग्र सोच से वे भी काम नहीं कर पा रहे हैं। वहीं, कुछ संस्थाएं मात्र सरकारों की पिछलग्गू बन कर रह गई हैं व कुछ कॉरपोरेट क्षेत्र की सोच में सिमट गई हैं। अतिश्योक्ति भरे दावों की कमजोरी यहां भी मौजूद है। इस माहौल में बहुत जरूरी है कि आर्थिक-सामाजिक-सांस्कृतिक-पर्यावरणीय सोच को समग्रता से अपना कर कुछ सार्थक प्रयासों की सक्रियता व प्रसार हो। विषमता व आधिपत्य को कम करने के साथ पर्यावरण रक्षा व समाज सुधार को बढ़ाना बहुत जरूरी है, पर इन्हीं बुनियादी कार्यों की उपेक्षा हो रही है। छिटपुट छोटे प्रयास अपनी ईमानदारी के बावजूद कोई बड़ी छाप नहीं छोड़ पा रहे हैं।

क्या हम कुछ ऐसे कुछ गांवों के उदाहरण प्रस्तुत नहीं कर सकते हैं जहां विषमता तेजी से कम हो, शोषण समाप्त हो, पर्यावरण की रक्षा वाली  आत्मनिर्भर व बहुत कम खर्च की खेती को अपनाया जाए, वृक्षों व चरागाह की हरियाली में वृद्धि हो, आपसी सहयोग तेजी से बढ़े व गुटबाजी समाप्त हो, मुकदमेबाजी व आपसी झगड़े समाप्त हों, शराब व सब प्रकार की नशाखोरी 95 प्रतिशत कम हों, छुआछूत पूरी तरह समाप्त हो, महिला जागृति में उभार आए, कर्ज बहुत कम हो व स्वयं सहायता समूह सशक्त हों, शादी-ब्याह जैसे खचरे व उपभोक्तावाद में भारी कमी हो। जब ऐसे कुछ प्रयास समग्रता से होंगे तो उनकी सफलता का संदेश तेजी से फैलेगा व ग्रामीण संकट असरदार ढंग से दूर होगा।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: दिल्ली के सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, हैप्पीनेस क्लास में बच्चों संग बिताया वक्त

PICS: दिल्ली के सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, हैप्पीनेस क्लास में बच्चों संग बिताया वक्त

PICS: ...और ताजमहल को निहारते ही रह गए ट्रंप और मेलानिया

PICS: ...और ताजमहल को निहारते ही रह गए ट्रंप और मेलानिया

PICS: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और मेलानिया ट्रंप ने साबरमती आश्रम में चलाया चरखा

PICS: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और मेलानिया ट्रंप ने साबरमती आश्रम में चलाया चरखा

PICS: अहमदाबाद में छाए भारत-अमेरिकी संबंधों का बखान करते इश्तेहार

PICS: अहमदाबाद में छाए भारत-अमेरिकी संबंधों का बखान करते इश्तेहार

PICS: महाशिवरात्रि: देशभर में हर-हर महादेव की गूंज, शिवालयों में लगा भक्तों का तांता

PICS: महाशिवरात्रि: देशभर में हर-हर महादेव की गूंज, शिवालयों में लगा भक्तों का तांता

महाशिवरात्रि: जब रुद्र के रूप में प्रकट हुए शिव

महाशिवरात्रि: जब रुद्र के रूप में प्रकट हुए शिव

जब अचानक ‘हुनर हाट’ पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, देखें तस्वीरें...

जब अचानक ‘हुनर हाट’ पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, देखें तस्वीरें...

अबू जानी-संदीप खोसला के लिए रैम्प वॉक करते नजर आईं सारा

अबू जानी-संदीप खोसला के लिए रैम्प वॉक करते नजर आईं सारा

लॉरेस पुरस्कार: मेसी और हैमिल्टन ने साझा किया लॉरेस स्पोटर्समैन अवार्ड

लॉरेस पुरस्कार: मेसी और हैमिल्टन ने साझा किया लॉरेस स्पोटर्समैन अवार्ड

Bigg Boss 13: सिद्धार्थ शुक्ला ने शहनाज के पापा को डैडी कहा?

Bigg Boss 13: सिद्धार्थ शुक्ला ने शहनाज के पापा को डैडी कहा?

मेरे भीतर एक मॉडल छिपी हुई है: करीना

मेरे भीतर एक मॉडल छिपी हुई है: करीना

PICS: काशी-महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव के लिए एक सीट आरक्षित

PICS: काशी-महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव के लिए एक सीट आरक्षित

PICS: मौनी रॉय की छुट्टियों की तस्वीर हुई वायरल

PICS: मौनी रॉय की छुट्टियों की तस्वीर हुई वायरल

लैक्मे फैशन वीक में जाह्नवी और विक्की कौशल ने रैम्प वॉक किया

लैक्मे फैशन वीक में जाह्नवी और विक्की कौशल ने रैम्प वॉक किया

'रंगीला' से 'लाल सिंह चड्ढा' तक: कार्टूनिस्ट के कैलेंडर में आमिर खान के किरदार

PICS: आप का

PICS: आप का 'छोटा मफलरमैन', यूजर्स को हुआ प्यार

PICS: ढोल नगाड़ों से गूंज रहा है ‘AAP’ कार्यालय

PICS: ढोल नगाड़ों से गूंज रहा है ‘AAP’ कार्यालय

PICS: जिम लुक की चर्चा से मायूस हैं जान्हवी कपूर, बोलीं...

PICS: जिम लुक की चर्चा से मायूस हैं जान्हवी कपूर, बोलीं...

Oscars 2020:

Oscars 2020: 'पैरासाइट' सर्वश्रेष्ठ फिल्म, वाकिन फिनिक्स और रेने ने जीता बेस्ट एक्टर्स का खिताब

PICS: मारुती ने ऑटो एक्सपो में नई Suzuki Jimny की दिखाई झलक, जानें क्या है खास

PICS: मारुती ने ऑटो एक्सपो में नई Suzuki Jimny की दिखाई झलक, जानें क्या है खास

Bigg Boss 13: एक्स कंटेस्टेंट मधुरिमा तुली ने नई तस्वीरों से चौंकाया

Bigg Boss 13: एक्स कंटेस्टेंट मधुरिमा तुली ने नई तस्वीरों से चौंकाया

PICS: दिल्ली में कई दिग्गज नेताओं ने डाला वोट

PICS: दिल्ली में कई दिग्गज नेताओं ने डाला वोट

नयी तस्वीरों में कहर ढाती नजर आईं तनुश्री दत्ता

नयी तस्वीरों में कहर ढाती नजर आईं तनुश्री दत्ता

Auto Expo: हुंडई का नया 2020 Tucson फेसलिफ्ट लॉन्च, देखें यहां फर्स्ट लुक

Auto Expo: हुंडई का नया 2020 Tucson फेसलिफ्ट लॉन्च, देखें यहां फर्स्ट लुक

PICS: जानलेवा कोरोना वायरस से रहें सतर्क, जानें लक्षण और बचने के उपाय

PICS: जानलेवा कोरोना वायरस से रहें सतर्क, जानें लक्षण और बचने के उपाय

इंदौर और भोपाल में मार्च में होगा आइफा अवॉर्ड समारोह

इंदौर और भोपाल में मार्च में होगा आइफा अवॉर्ड समारोह

बजट 2020 की खास बातें एक नजर में...

बजट 2020 की खास बातें एक नजर में...

सीतारमण की पीली साड़ी ने खींचा सोशल मीडिया का ध्यान

सीतारमण की पीली साड़ी ने खींचा सोशल मीडिया का ध्यान

अपने स्टाइलिस्ट लुक से ग्रैमी में छाई प्रियंका

अपने स्टाइलिस्ट लुक से ग्रैमी में छाई प्रियंका

राजपथ पर दिखा देश की सैन्य शक्ति का नजारा, देखिए तस्वीरें

राजपथ पर दिखा देश की सैन्य शक्ति का नजारा, देखिए तस्वीरें

PICS: वीरता पुरस्कार पाने वाले बच्चों पीएम मोदी बोले- मुझे आपसे प्रेरणा मिलती है

PICS: वीरता पुरस्कार पाने वाले बच्चों पीएम मोदी बोले- मुझे आपसे प्रेरणा मिलती है


 

172.31.21.212