Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

15 Mar 2019 06:43:35 AM IST
Last Updated : 15 Mar 2019 06:45:51 AM IST

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस : मानव सभ्यता का संकट

सन्नी कुमार
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस : मानव सभ्यता का संकट
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस

हर नई प्रौद्योगिकी जीवन को बेहतर बनाने के जितने दावों के साथ मानव जीवन में प्रवेश करती है, उससे जुड़ी आशंकाएं भी उतनी ही मजबूत होती हैं।

‘आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस’ (एआई)  की प्रौद्योगिकी भी इस सिद्धांत का अपवाद नहीं है बल्कि कई मायनों में यह पूर्व की तुलना में अधिक आशंकामूलक है। दरअसल, पूर्व की लभभग सभी वैज्ञानिक अविष्कारों को उसकी सैद्धांतिकी में कमोबेश अच्छा माना जाता रहा है और चिंता की मूल बात उसके ‘व्यावहारिक अनुप्रयोग’ से जुड़ी होती थी। उदाहरण के लिए परमाणु से विद्युत भी बनाया जा सकता है और उसका उपयोग कर विध्वंसक बम भी निर्मिंत किया जा सकता है। इसमें चिह्नित करने लायक बात यह है कि इसके दुरु पयोग का दायित्व ‘मानव समुदाय’ पर आता है न कि यह अपने आप में ही बुरी खोज थी। पर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस इन दोनों ही मानकों पर अलग है।

सबसे पहले अगर उन दावों की पड़ताल करें, जो आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के औचित्य को सही ठहराते हैं तो वे निश्चित ही उत्साहजनक हैं। सबसे प्रमुख खासियत तो यही है कि ये ‘त्रुटिरहित’ होते हैं। इस कौशल का उपयोग जटिल चिकित्सकीय उपचार और अंतरिक्ष अन्वेषण में किया जा सकता है, जो अन्यथा मानव द्वारा एकदम सटीकता से कर पाना संभव नहीं है। इसी प्रकार इसका उपयोग वाहन चालक के रूप में किया जा सकता है और चूंकि इसका एलगोरिद्म ट्रैफिक नियमों से संचालित होता है इसलिए वाहन दुर्घटना की संभावना शून्य रहेगी। फिर, एकदम जोखिम वाले कार्य जैसे-खदान में खनन जैसे कार्यों के लिए प्रशिक्षित रोबोट का उपयोग किया जा सकता है ताकि मानव को अपनी जान जोखिम में न डालनी पड़े। इसके अतिरिक्त शिक्षा क्षेत्र से लेकर रोजमर्रा के जीवन की ढेर सारी जरूरतों में भी इसका प्रयोग किया जा सकेगा।
सबसे बढ़कर इसकी खूबी यह है कि इससे वैसे सुदूर क्षेत्र जहां शिक्षा या चिकित्सा की सुविधाएं ‘प्रत्यक्ष’ रूप से प्रेषित कर पाना दुष्कर है, उस कमी को ये नई प्रौद्योगिकी आसानी से भर देती है। कह सकते हैं कि आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस कैसे मानव समुदाय की संरचना को ही आमूलचूल ढंग से परिवर्तित करने में सक्षम है? यहां इस्रइली इतिहासकार ‘युवल नोवा हरारी’ की ‘ट्वेंटीवन लेसंस फॉर ट्वेंटी फस्र्ट सेंचुरी’ नामक पुस्तक का उल्लेख प्रासंगिक होगा, जिसमें विस्तार से आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के खतरे की पड़ताल की गई है। दरअसल, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस अपने स्वरूप में मानव समुदाय की सहभागी नहीं बल्कि कई बार एक ‘विकल्प’ के रूप में भी नजर आती है। औद्योगिक क्रांति के बाद जब मशीनों का प्रयोग पहली बार बड़े पैमाने पर शुरू हुआ तो उसने सिर्फ  मानव ‘श्रम’ को विस्थापित किया किंतु मानव मस्तिष्क का महत्त्व अपनी जगह बना रहा। फिर वो मशीनें अपने संचालन के लिए मानव पर ही आश्रित थीं। किंतु, एआई न केवल अपने आप संचालित होंगी बल्कि यह मानव मस्तिष्क को भी विस्थापित करने में सक्षम होंगी क्योंकि यह बुद्धिमत्ता से युक्त मशीन है। इस तरह यह मानव सभ्यता के विकास के मूल कारक‘मस्तिष्क’ को ही चुनौती देता है। दूसरे, औद्योगिक क्रांति के बाद जो संरचना निर्मिंत हुई, वह कितनी भी शोषणपूर्ण क्यों न हो किंतु वह पूंजी और श्रमिक के सहयोग पर ही टिकी थी। सम्प्रति हमारे पास इस एआई संरचना से लड़ने का कोई वैकल्पिक मॉडल नहीं है क्योंकि मनुष्य का ‘अप्रासंगिक’ हो जाना नितांत ही नई परिघटना है। तीसरे, पूर्व के प्रौद्योगिकी विकास के उलट इस पर सत्ता का न्यूनतम नियंत्रण है। ऐसे में इस प्रौद्योगिकी को नियंत्रित कर पाना कठिन है। चौथा, एआई ‘मौलिकता’ की मान्यता को भी सिर के बल खड़ा कर रहा है।
अभी तक यह माना जाता रहा है कि मशीन कुछ भी कर ले किंतु मौलिकता पर मानव समुदाय का ही अधिकार है। एआई इसे ‘मिथक’ सिद्ध करने में सक्षम है। पांचवें बिंदु के रूप में एआई के ‘सकल खतरे’ का उल्लेख आवश्यक होगा। ऐसा होना बहुत सामान्य सी बात है कि एआई के एलगोरिद्म में कोई तकनीकी खराबी आ जाए फिर इससे संचालित वाहन और चिकित्सकीय उपचार के खतरे को वहन कर पाना मानव समुदाय के लिए संभव होगा? अर्थात एकल इकाई के रूप में भले ही एआई की चुनौती कम गंभीर प्रतीत होती हो किंतु इसका सकल नुकसान सभ्यता को नाश करने में भी समर्थ है। अंत में यह कहने में कोई संकोच नहीं कि अपनी तमाम खूबियों के बावजूद एआई जिस आवृत्ति से मानव सभ्यता की बुनियाद को ही चुनौती देती है, उसका मानव जीवन में प्रवेश एक गंभीर परिघटना होगी।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
बृहस्पतिवार, 21 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

बृहस्पतिवार, 21 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

श्रोताओं को खूब भाते है बॉलीवुड फिल्मों में फिल्माएं ये होली गीत

श्रोताओं को खूब भाते है बॉलीवुड फिल्मों में फिल्माएं ये होली गीत

Holi Tips: खूब खेलें होली लेकिन जरा संभलकर

Holi Tips: खूब खेलें होली लेकिन जरा संभलकर

बुधवार, 20 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

बुधवार, 20 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

PICS: होली के रंग में रंगा बाजार, बाजार में बढी रौनक

PICS: होली के रंग में रंगा बाजार, बाजार में बढी रौनक

मंगलवार, 19 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

मंगलवार, 19 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

सोमवार, 18 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

सोमवार, 18 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

PICS: परिणीति चोपड़ा ने शेयर की ‘केसरी’ की ये नई तस्वीर

PICS: परिणीति चोपड़ा ने शेयर की ‘केसरी’ की ये नई तस्वीर

कार्टून कोना

कार्टून कोना

PICS: देश भर में महाशिवरात्रि की धूम, शिवालयों में उमड़े श्रद्धालु

PICS: देश भर में महाशिवरात्रि की धूम, शिवालयों में उमड़े श्रद्धालु

PICS: ओलंपियन पीवी सिंधु ने लड़ाकू विमान तेजस में भरी उड़ान, बनी पहली महिला

PICS: ओलंपियन पीवी सिंधु ने लड़ाकू विमान तेजस में भरी उड़ान, बनी पहली महिला

PICS: पपराजी ने बेटे तैमूर की ली तस्वीर तो मम्मी करीना ने दी ये सीख...

PICS: पपराजी ने बेटे तैमूर की ली तस्वीर तो मम्मी करीना ने दी ये सीख...

सहारा इंडिया परिवार ने पुलवामा शहीदों को दी श्रद्धांजलि

सहारा इंडिया परिवार ने पुलवामा शहीदों को दी श्रद्धांजलि

PICS:टेनिस स्टार जोकोविक और जिम्नास्ट सिमोन बाइल्स ने जीता लॉरियस स्पोर्ट्स अवार्ड

PICS:टेनिस स्टार जोकोविक और जिम्नास्ट सिमोन बाइल्स ने जीता लॉरियस स्पोर्ट्स अवार्ड

कुंभ मेला : प्रयाग में आज माघी पूर्णिमा का स्नान, श्रद्धालुओं का उमड़ा रेला

कुंभ मेला : प्रयाग में आज माघी पूर्णिमा का स्नान, श्रद्धालुओं का उमड़ा रेला

मंगलवार, 19 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

मंगलवार, 19 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

सोमवार, 18 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

सोमवार, 18 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

PICS: शुरू हुई ‘वंदे भारत’ एक्सप्रेस, जानें कितना चुकाना होगा किराया

PICS: शुरू हुई ‘वंदे भारत’ एक्सप्रेस, जानें कितना चुकाना होगा किराया

शुक्रवार, 15 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

शुक्रवार, 15 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

आतंकी हमले से दहला कश्मीर, CRPF के 42 जवान शहीद

आतंकी हमले से दहला कश्मीर, CRPF के 42 जवान शहीद

PICS: Valentine Day पर दिल्ली-एनसीआर में बारिश, देखें तस्वीरें

PICS: Valentine Day पर दिल्ली-एनसीआर में बारिश, देखें तस्वीरें

Valentine Day: प्यार जताने का नायाब तरीका...

Valentine Day: प्यार जताने का नायाब तरीका...

बृहस्पतिवार, 14 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

बृहस्पतिवार, 14 फरवरी, 2019 का राशिफल/पंचांग

Happy Kiss Day: किस डे को बनाएं स्पेशल इन Gif इमेज और वॉलपेपर के जरिए...

Happy Kiss Day: किस डे को बनाएं स्पेशल इन Gif इमेज और वॉलपेपर के जरिए...

माधुरी ने याद किया

माधुरी ने याद किया 'तेजाब' के बाद का वाकया

happy Hug day: लव पार्टनर को भेजें प्यारे वालपेपर्स, Gif इमेजस

happy Hug day: लव पार्टनर को भेजें प्यारे वालपेपर्स, Gif इमेजस

देखिए, रजनीकांत की बेटी सौंदर्या की शादी की तस्वीरें

देखिए, रजनीकांत की बेटी सौंदर्या की शादी की तस्वीरें

PICS: शादी के बाद कुछ ऐसे होती है दीपिका-रणवीर सिंह के दिन की शुरुआत

PICS: शादी के बाद कुछ ऐसे होती है दीपिका-रणवीर सिंह के दिन की शुरुआत

Happy promise Day 2019: प्रॉमिस डे को और बनाएं खास, भेजें ये वालपेपर और फोटो

Happy promise Day 2019: प्रॉमिस डे को और बनाएं खास, भेजें ये वालपेपर और फोटो

10 से 16 फरवरी का साप्ताहिक राशिफल

10 से 16 फरवरी का साप्ताहिक राशिफल

रेवती नक्षत्र, साध्य योग में मनेगी बसंत पंचमी

रेवती नक्षत्र, साध्य योग में मनेगी बसंत पंचमी

Chocolate Day: इस खास मौके पर वॉलपेपर, इमेज और एनिमेटेड जीआईएफ से करें अपने प्यार का इजहार

Chocolate Day: इस खास मौके पर वॉलपेपर, इमेज और एनिमेटेड जीआईएफ से करें अपने प्यार का इजहार


 

172.31.21.212