Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

08 Jan 2020 02:00:37 AM IST
Last Updated : 08 Jan 2020 02:07:39 AM IST

सुनियोजित साजिश थी सीएए को लेकर हुई हिंसा

कलानिधि मिश्र/कमल तिवारी/सहारा न्यूज ब्यूरो
लखनऊ
सुनियोजित साजिश थी सीएए को लेकर हुई हिंसा
उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा

राजधानी लखनऊ के 11 साल तक मेयर, लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रोफेसर, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और अब उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा मंगलवार को यहां ‘राष्ट्रीय सहारा’ कार्यालय आये। उन्होंने देश-प्रदेश की राजनीति, विकास व सीएए आदि मुद्दों पर खुलकर बातचीत की। प्रस्तुत है उनसे बातचीत के प्रमुख अंश।

सीएए को लेकर हुई हिंसा को भांपने में खुफिया एजेंसियों से कहां चूक हुई?
सरकारी खुफिया एजेंसियों से कोई चूक नहीं हुई। खुफिया एजेंसियों ने शान्तिपूर्ण आंदोलन की रिपोर्ट दी थी। पीएम मोदी पर मुसलमानों का भरोसा बढ़ रहा है। विपक्ष को यह बात अच्छी नहीं लगी। शहर के उलेमाओं ने भी वायदा किया था और पुलिस पर विश्वास जताया था, लेकिन जामिया से आये 15-20 लड़के व 4-6 लड़कियां नारे लगाने लगे। वह सभी प्रदर्शनों में कामन थे। उन्होंने ही आकर लखनऊ में माहौल बिगाड़ा। डा. शर्मा ने कहा कि यहां विरोध को दो राजनीतिक दलों की ओर से हवा दी गयी। कांग्रेस नेता यूपी में आकर नागरिकता कानून को लेकर भ्रम व भय पैदा करने की कोशिश में लगे हैं। उन्होंने कहा कि अगर कोई यह कहता है कि वह एनपीआर नहीं भरेगा तो वह संविधान का किस तरह समर्थन कर रहा है या फिर केन्द्र के कानून के विरोधियों को सम्मानित करने वालों को क्या कहा जाए। उन्होंने कहा कि कुछ दल राष्ट्र हित की बजाय वोट हित को साधने में लगे हैं। उनकी चिंता मुसलमानों को लेकर नहीं बल्कि 2022 (यानि आगामी विधानसभा चुनाव) की है। ऐसे दलों को जनता 2017 व 2019 में खारिज कर चुकी है। और हाल में ही 12 विस सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को 9 सीटों पर मिली कामयाबी इसका प्रमाण है। उनके लिए यूपी में अब कोई स्कोप नहीं है तो मतभेद पैदा करके सहानुभूति हासिल करने में लगे हैं। इसमें सपा और कांग्रेस ने भी उत्तेजना भरने का काम किया। डा. शर्मा ने कहा कि लखनऊ ऐसा शहर नहीं था कि यहां हिंसा हो। अब धर्मगुरुओं ने भी सहयोग किया है। शहर का अमन-चैन बहाल है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चिह्नित कर आरोपितों पर कार्रवाई की जा रही है।

जेएनयू में हुई हिंसा पर आपकी क्या राय है ?
हिंसा वहां के वामपंथी धड़ों से जुड़े शिक्षकों-छात्रों के एक गुट की देन है। इस विचारधारा के लोग जब से भाजपा की सरकार बनी अस्थिर करने में जुटे हुए हैं। यह लोग जेएनयू ही नहीं अन्य विश्वविद्यालयों में भी छात्रों के एक गुट को बरगलाकर हिंसा फैलाने की सुनियोजित साजिश में जुड़े हुए हैं। जेएनयू जैसे प्रतिष्ठित संस्थान को इन लोगों ने पहले राहुल बेमुला के नाम पर अराजकता फैलायी। फिर दूसरे विवि में भी सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए अराजकता फैलाने का प्रयास किया। लेकिन छात्रों का एक बड़ा वर्ग इन लोगों की साजिश को समझ चुका है। वैसे जेएनयू हिंसा मामले में जांच के आदेश हो गये हैं। जांच रिपोर्ट आते ही दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होगी।

शिक्षा लगातार महंगी हो रही है। इसे नियंत्रित करने के लिए क्या सरकार कोई आयोग सक्रिय करेगी ?
यूपी देश का पहला ऐसा राज्य है, जहां इस तरह के कानून बनाये गये हैं। इसके तहत कोई भी विद्यालय सीपीआई (वर्तमान महंगाई दर), पिछले वर्ष की फीस से अधिकतम 5 फीसदी से ज्यादा शुल्क नहीं बढ़ा सकता है। यदि कोई विद्यालय ऐसा करेगा तो उस पर जुर्माना लगाया जायेगा। इस मामले में लखनऊ के एक प्रतिष्ठित कालेज पर पांच लाख के जुर्माने की कार्रवाई चल रही है।

यूपी कामाध्यमिक शिक्षा बोर्ड देश का सबसे बदनाम बोर्ड था, इसकी छवि कैसे बदली।
श्री शर्मा ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में यूपी में नकल को व्यवसाय बना दिया गया था। विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान ही पीएम नरेन्द्र मोदी ने यूपी में नकल के ठेके होने का जिक्र गोण्डा की एक सभा में किया था, वह सरकार में उप मुख्यमंत्री बने तो उन्हें  माध्यमिक व उच्च शिक्षा विभाग का भी जिम्मा मिला। तभी से मन में बदलाव लाने के लिए ठाना। यूपी में पहले अतौलिया बोर्ड, मथुरा बोर्ड, गाजीपुर बोर्ड के नाम से कुख्यात क्षेत्र थे, लेकिन तकनीक का इस्तेमाल कर निगरानी बढ़ायी। परीक्षा केन्द्रों के निर्धारण से लेकर परीक्षा होने तक पूरी प्रक्रिया ऑन लाइन की। सीसीटीवी,राउटर, साउंड रिकार्डर लगवाये। एसटीएफ की भी मदद ली गयी। यूपी बोर्ड में आधार से लिंक कराया गया, पहले तो पंजाब और सऊदी अरब में बैठकर ही लोग यूपी बोर्ड परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते थे लेकिन अब इसको पूरी तरह रोक दिया गया है। शिक्षा का व्यवसाय करने वालों से यूपी पूरी तरह मुक्त हो चुका है। अब हमारे हाईस्कूल व इंटर के अंकपत्र व प्रमाणपत्र की अहमियत बढ़ी है। इसको रोजगार से जोड़कर दम लेंगे।

यूपी शिक्षा सेवा चयन आयोग में प्रस्तावित अधिनियम की धारा-18 विद्यालयों के प्रबंधकों को ’मालिक‘ जैसे अधिकार दे रही है, क्या शिक्षा के भविष्य लिए यह ठीक है?
शिक्षा सेवा चयन आयोग के प्रस्तावित अधिनियम की धारा-18 पहले से ज्यादा बेहतर है। इसके तहत यदि प्रबंधक किसी शिक्षक और कर्मचारी को नोटिस भी देना चाहेगा तो उसे पहले अनुमति लेनी होगी। इससे शिक्षकों के हित और मजबूत होने जा रहे हैं।

यूपी के सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता को लेकर क्या किया जा रहा है?
डा. शर्मा ने कहा कि प्राइवेट स्कूलों से सरकारी स्कूलों की तुलना ठीक नहीं है। इसके बाद भी यूपी बोर्ड के कई कालेज निजी स्कूलों से कमतर नहीं है। राजकीय जूबिली कालेज, गर्ल्स कालेज, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस डिग्री कालेज बेहतर है और बदलाव को लेकर जो कदम उठाये जा रहे हैं, इनका प्रभाव आने वाले वर्ष में दिखेगा।

उच्च शिक्षा में शिक्षकों की कमी एक चुनौती है, इससे कैसे निपटेंगे।
वर्तमान भाजपा सरकार के कार्यकाल में डिग्री कालेजों में 3200 शिक्षकों की भर्ती की गयी है और यह प्रक्रिया नियमित चल रही है। आगामी वर्ष में भी दस हजार शिक्षकों की भर्ती उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग के माध्यम से की जाएगी।
उन्होंने बताया कि एक अन्य विभाग आईटी व इलेक्ट्रानिक्स में भी काफी बेहतर काम हो रहा है। यूपी में निवेश के लिए आये डेढ़ लाख करोड़ के प्रस्ताव में 65 हजार करोड़ के निवेश के प्रस्ताव मिले हैं। इसके साथ ही सीएम हेल्पलाइन का काम भी आईटी विभाग कर रहा है। आन लाइन टेण्डरिंग का जिम्मा भी इसी महकमे को है।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: दिल्ली के सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, हैप्पीनेस क्लास में बच्चों संग बिताया वक्त

PICS: दिल्ली के सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, हैप्पीनेस क्लास में बच्चों संग बिताया वक्त

PICS: ...और ताजमहल को निहारते ही रह गए ट्रंप और मेलानिया

PICS: ...और ताजमहल को निहारते ही रह गए ट्रंप और मेलानिया

PICS: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और मेलानिया ट्रंप ने साबरमती आश्रम में चलाया चरखा

PICS: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और मेलानिया ट्रंप ने साबरमती आश्रम में चलाया चरखा

PICS: अहमदाबाद में छाए भारत-अमेरिकी संबंधों का बखान करते इश्तेहार

PICS: अहमदाबाद में छाए भारत-अमेरिकी संबंधों का बखान करते इश्तेहार

PICS: महाशिवरात्रि: देशभर में हर-हर महादेव की गूंज, शिवालयों में लगा भक्तों का तांता

PICS: महाशिवरात्रि: देशभर में हर-हर महादेव की गूंज, शिवालयों में लगा भक्तों का तांता

महाशिवरात्रि: जब रुद्र के रूप में प्रकट हुए शिव

महाशिवरात्रि: जब रुद्र के रूप में प्रकट हुए शिव

जब अचानक ‘हुनर हाट’ पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, देखें तस्वीरें...

जब अचानक ‘हुनर हाट’ पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, देखें तस्वीरें...

अबू जानी-संदीप खोसला के लिए रैम्प वॉक करते नजर आईं सारा

अबू जानी-संदीप खोसला के लिए रैम्प वॉक करते नजर आईं सारा

लॉरेस पुरस्कार: मेसी और हैमिल्टन ने साझा किया लॉरेस स्पोटर्समैन अवार्ड

लॉरेस पुरस्कार: मेसी और हैमिल्टन ने साझा किया लॉरेस स्पोटर्समैन अवार्ड

Bigg Boss 13: सिद्धार्थ शुक्ला ने शहनाज के पापा को डैडी कहा?

Bigg Boss 13: सिद्धार्थ शुक्ला ने शहनाज के पापा को डैडी कहा?

मेरे भीतर एक मॉडल छिपी हुई है: करीना

मेरे भीतर एक मॉडल छिपी हुई है: करीना

PICS: काशी-महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव के लिए एक सीट आरक्षित

PICS: काशी-महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव के लिए एक सीट आरक्षित

PICS: मौनी रॉय की छुट्टियों की तस्वीर हुई वायरल

PICS: मौनी रॉय की छुट्टियों की तस्वीर हुई वायरल

लैक्मे फैशन वीक में जाह्नवी और विक्की कौशल ने रैम्प वॉक किया

लैक्मे फैशन वीक में जाह्नवी और विक्की कौशल ने रैम्प वॉक किया

'रंगीला' से 'लाल सिंह चड्ढा' तक: कार्टूनिस्ट के कैलेंडर में आमिर खान के किरदार

PICS: आप का

PICS: आप का 'छोटा मफलरमैन', यूजर्स को हुआ प्यार

PICS: ढोल नगाड़ों से गूंज रहा है ‘AAP’ कार्यालय

PICS: ढोल नगाड़ों से गूंज रहा है ‘AAP’ कार्यालय

PICS: जिम लुक की चर्चा से मायूस हैं जान्हवी कपूर, बोलीं...

PICS: जिम लुक की चर्चा से मायूस हैं जान्हवी कपूर, बोलीं...

Oscars 2020:

Oscars 2020: 'पैरासाइट' सर्वश्रेष्ठ फिल्म, वाकिन फिनिक्स और रेने ने जीता बेस्ट एक्टर्स का खिताब

PICS: मारुती ने ऑटो एक्सपो में नई Suzuki Jimny की दिखाई झलक, जानें क्या है खास

PICS: मारुती ने ऑटो एक्सपो में नई Suzuki Jimny की दिखाई झलक, जानें क्या है खास

Bigg Boss 13: एक्स कंटेस्टेंट मधुरिमा तुली ने नई तस्वीरों से चौंकाया

Bigg Boss 13: एक्स कंटेस्टेंट मधुरिमा तुली ने नई तस्वीरों से चौंकाया

PICS: दिल्ली में कई दिग्गज नेताओं ने डाला वोट

PICS: दिल्ली में कई दिग्गज नेताओं ने डाला वोट

नयी तस्वीरों में कहर ढाती नजर आईं तनुश्री दत्ता

नयी तस्वीरों में कहर ढाती नजर आईं तनुश्री दत्ता

Auto Expo: हुंडई का नया 2020 Tucson फेसलिफ्ट लॉन्च, देखें यहां फर्स्ट लुक

Auto Expo: हुंडई का नया 2020 Tucson फेसलिफ्ट लॉन्च, देखें यहां फर्स्ट लुक

PICS: जानलेवा कोरोना वायरस से रहें सतर्क, जानें लक्षण और बचने के उपाय

PICS: जानलेवा कोरोना वायरस से रहें सतर्क, जानें लक्षण और बचने के उपाय

इंदौर और भोपाल में मार्च में होगा आइफा अवॉर्ड समारोह

इंदौर और भोपाल में मार्च में होगा आइफा अवॉर्ड समारोह

बजट 2020 की खास बातें एक नजर में...

बजट 2020 की खास बातें एक नजर में...

सीतारमण की पीली साड़ी ने खींचा सोशल मीडिया का ध्यान

सीतारमण की पीली साड़ी ने खींचा सोशल मीडिया का ध्यान

अपने स्टाइलिस्ट लुक से ग्रैमी में छाई प्रियंका

अपने स्टाइलिस्ट लुक से ग्रैमी में छाई प्रियंका

राजपथ पर दिखा देश की सैन्य शक्ति का नजारा, देखिए तस्वीरें

राजपथ पर दिखा देश की सैन्य शक्ति का नजारा, देखिए तस्वीरें

PICS: वीरता पुरस्कार पाने वाले बच्चों पीएम मोदी बोले- मुझे आपसे प्रेरणा मिलती है

PICS: वीरता पुरस्कार पाने वाले बच्चों पीएम मोदी बोले- मुझे आपसे प्रेरणा मिलती है


 

172.31.21.212