Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

05 Jan 2011 06:50:31 PM IST
Last Updated : 06 Jan 2011 03:56:15 PM IST

सोनिया और केंद्र में ठनी

पाणिनि आनंद
संपादक, समयलाइव डॉट कॉम
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

मनरेगा के तहत न्यूनतम मजदूरी के भुगतान के मुद्दे पर अब राष्ट्रीय सलाहकार परिषद (एनएसी) और प्रधानमंत्री कार्यालय आमने-सामने नज़र आ रहे हैं.

एनएसी की अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी को लिखे अपने पत्र में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि मनरेगा के तहत दी जाने वाली मजदूरी न्यूनतम मजदूरी कानून के दायरे से बाहर और स्वतंत्र है. ऐसे में सरकार वर्ष 2009 के बजट भाषण में 100 रूपए न्यूनतम मजदूरी देने के अपने वादे पर कायम है.

पिछले वर्ष 11 नवंबर को सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को लिखे एक पत्र में कहा था कि मनरेगा के तहत मज़दूरों को भुगतान करते समय न्यूनतम मज़दूरी कानून 1948 के नियमों का अनुसरण किया जाए.

सुनिश्चित हो न्यूनतम मज़दूरी: सोनिया

 

सोनिया ने इस पत्र में प्रधानमंत्री से स्पष्ट रूप से 'अर्जेन्ट' और कई मंत्रालयों से संबंधित होने की बात का उल्लेख किया था. उन्होंने आशा व्यक्त की थी कि प्रधानमंत्री खुद न्यूनतम मज़दूरी दिए जाने के इस पूरे मामले को संज्ञान में लेंगे और इस दिशा में आवश्यक निर्देश भी जारी करेंगे.

लेकिन सोनिया गांधी और उनके सलाहकार परिषद के विचार-विमर्श के बाद न्यूनतम मजदूरी प्रावधानों को मनरेगा में लागू कराने की इस चिट्ठी पर प्रधानमंत्री ने सधे शब्दों में दो-टूक जवाब दे दिया है. प्रधानमंत्री ने अपने जवाब में कहा है कि मनरेगा के तहत मजदूरी भुगतान को न्यूनतम मजदूरी क़ानून से अलग रखते हुए उसे कृषि आधारित श्रम के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पर आधारित रखने का फैसला लिया गया है. फिलहाल मनरेगा का भुगतान इसी के तहत किया जाता रहेगा.

हालांकि प्रधानमंत्री ने अपने पत्र में कहा है कि ग्रामीण विकास मंत्रालय ने इस बाबत डॉक्टर प्रणब सेन के नेतृत्ववाली एक समिति का गठन कर दिया है जो मनरेगा के तहत भुगतान की समीक्षा करता रहेगा. पत्र की अंतिम पंक्ति में प्रधानमंत्री ने लिखा है कि वो इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि मौजूदा प्रक्रिया की मदद से मनरेगा के तहत हो रहा भुगतान लोगों को महंगाई से निपटने में मदद करेगा.

सोनिया गांधी के लिखित सुझाव पर इस दो-टूक जवाब की आशा खुद राष्ट्रीय सलाहकार परिषद की अध्यक्ष और उनके साथी सदस्यों को भी नहीं थी.

सबसे ज़्यादा विवाद इस बात को लेकर है कि प्रधानमंत्री ने एक लिखित पत्र में मनरेगा को न्यूनतम मजदूरी की परिधि से बाहर बताकर एक बड़ी क़ानूनी बहस छेड़ दी है. अधिकतर विधि विशेषज्ञों का मानना है कि ऐसा कर पाना संभव नहीं है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट कई मामलों में दोहरा चुका है कि किसी भी निजी या सरकारी संस्था द्वारा न्यूनतम मजदूरी क़ानून का पालन करते हुए भुगतान करना अनिवार्य होगा और ऐसा न करना अनुच्छेद 23 के उल्लंघन के तौर पर देखा जाएगा जो कि जबरन या बंधुआ मजदूरी की श्रेणी में आता है.

गौरतलब है कि देश के लगभग 19 राज्यों में मनरेगा के तहत दी जा रही मज़दूरी इन राज्यों की तय सरकारी मज़दूरी से कम है. पिछले दिनों एडिशनल सॉलिसिटर जनरल इंदिरा जयसिंह से भी इस मामले में एनएसी की ओर से कानूनी सलाह मांगी गई थी. इंदिरा जयसिंह ने हाईकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट के कुछ फैसलों और टिप्पणियों का हवाला देते हुए एनएसी को बताया न्यूनतम मज़दूरी कानून 1948 का उल्लंघन किसी भी तरह से न्यायसंगत नहीं ठहराया जा सकता.

मनमोहन सिंह के ताज़ा पत्र के बाद उन बातों को एक बार फिर से हवा मिल गई है जिनके मुताबिक यूपीए-2 के दौरान पीएमओ और सोनिया गांधी के बीच सबकुछ अच्छा नहीं चल रहा है. राजनीतिक स्थिरता सरकार की छवि अच्छी दिखाते रहने की विवशता के चलते जो सार्वजनिक रूप से नहीं स्वीकारा जा रहा, उसकी बानगी इन पत्रों में दर्ज है.


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
अयोध्या में सामान्य माहौल, कार्तिक पूर्णिमा पर सरयू में स्नान के लिए पहुंच रहे श्रद्धालु

अयोध्या में सामान्य माहौल, कार्तिक पूर्णिमा पर सरयू में स्नान के लिए पहुंच रहे श्रद्धालु

PICS: जानें, वायु प्रदूषण के घातक प्रभावों से बचने के उपाय

PICS: जानें, वायु प्रदूषण के घातक प्रभावों से बचने के उपाय

'दबंग 3' में प्रीति जिंटा की एंट्री? सलमान संग पुलिस वर्दी में आईं नज़र

रामायण,महाभारत काल से ही छठ मनाने की रही है परंपरा

रामायण,महाभारत काल से ही छठ मनाने की रही है परंपरा

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं परिणीति चोपड़ा

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं परिणीति चोपड़ा

PICS: रणवीर, अर्जुन को भाया अनुष्का का

PICS: रणवीर, अर्जुन को भाया अनुष्का का 'बॉस' लुक

PICS:

PICS: 'बाला' के लिए यामी ने रीक्रिएट किया नीतू सिंह का 70 के दशक का लुक

ड्रीमगर्ल हु 71 वर्ष की

ड्रीमगर्ल हु 71 वर्ष की

मोदी ने जिनपिंग को उनके चेहरे की आकृति बना शॉल किया भेंट

मोदी ने जिनपिंग को उनके चेहरे की आकृति बना शॉल किया भेंट

PICS: ...जब महाबलीपुरम में मोदी बने

PICS: ...जब महाबलीपुरम में मोदी बने 'टूरिस्ट गाइड', जिनपिंग को कराई सैर

बिंदास अदाओं से सिने प्रेमियों को दीवाना बनाया रेखा ने

बिंदास अदाओं से सिने प्रेमियों को दीवाना बनाया रेखा ने

साइना की बायोपिक के लिए जमकर पसीना बहा रही हैं परिणीति, शेयर की ये तस्वीर

साइना की बायोपिक के लिए जमकर पसीना बहा रही हैं परिणीति, शेयर की ये तस्वीर

PICS: ...जब रक्षा मंत्री राजनाथ ने राफेल में भरी उड़ान

PICS: ...जब रक्षा मंत्री राजनाथ ने राफेल में भरी उड़ान

जब विनोद खन्ना को पिता से मिली धमकी

जब विनोद खन्ना को पिता से मिली धमकी

पटना में बाढ़ से हाहाकार, देखिए तस्वीरें

पटना में बाढ़ से हाहाकार, देखिए तस्वीरें

दमदार अभिनय से खास पहचान बनायी रणबीर ने

दमदार अभिनय से खास पहचान बनायी रणबीर ने

'Bigg Boss' के लिए इन सेलिब्रिटीज ने लिया ज्यादा पैसा!

'बिग बॉस 13’ का घर होगा पर्यावरण के अनुकूल, देखें First Look

बिंदास अंदाज से दर्शकों के बीच खास पहचान बनायी करीना ने, आज है जन्मदिन

बिंदास अंदाज से दर्शकों के बीच खास पहचान बनायी करीना ने, आज है जन्मदिन

Photos: जन्मदिन पर ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’, जंगल सफारी, बटरफ्लाई पार्क पहुंचे PM मोदी

Photos: जन्मदिन पर ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’, जंगल सफारी, बटरफ्लाई पार्क पहुंचे PM मोदी

पिंडदानियों के लिए सजधज कर तैयार

पिंडदानियों के लिए सजधज कर तैयार 'मोक्ष नगरी' गया

PICS: एप्पल ने आईफोन 11 मॉडल किया लांच, शुरुआती कीमत में हुई 50 डॉलर की कटौती

PICS: एप्पल ने आईफोन 11 मॉडल किया लांच, शुरुआती कीमत में हुई 50 डॉलर की कटौती

PICS:स्कूल में लोग डांस को लेकर उड़ाते थे मजाक: नोरा फतेही

PICS:स्कूल में लोग डांस को लेकर उड़ाते थे मजाक: नोरा फतेही

PICS: 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने के बाद भावुक हुए नडाल, जानें कैसे बने लाल बजरी के बादशाह

PICS: 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने के बाद भावुक हुए नडाल, जानें कैसे बने लाल बजरी के बादशाह

PICS: रवीना टंडन जल्द ही बनने वाली हैं नानी

PICS: रवीना टंडन जल्द ही बनने वाली हैं नानी

PICS: रैंप पर अचानक जब दीपिका करने लगीं डांस

PICS: रैंप पर अचानक जब दीपिका करने लगीं डांस

PICS: वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के साथ विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग -21 में भरी उड़ान

PICS: वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के साथ विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग -21 में भरी उड़ान

PICS: इतिहास रचकर बोलीं पीवी सिंधु -बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं, इस पल का इंतजार था

PICS: इतिहास रचकर बोलीं पीवी सिंधु -बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं, इस पल का इंतजार था

PICS: BJP के ‘थिंक टैंक’ थे अरुण जेटली

PICS: BJP के ‘थिंक टैंक’ थे अरुण जेटली

PICS: बचपन से ही एक्ट्रेस बनना चाहती थी डिंपल गर्ल

PICS: बचपन से ही एक्ट्रेस बनना चाहती थी डिंपल गर्ल

PICS: सौन्दर्य की दुनिया, एशिया के सबसे खूबसूरत द्वीप बाली

PICS: सौन्दर्य की दुनिया, एशिया के सबसे खूबसूरत द्वीप बाली

PICS: आजादी का जश्न मना रहे बच्चों के बीच पहुंचे मोदी

PICS: आजादी का जश्न मना रहे बच्चों के बीच पहुंचे मोदी


 

172.31.21.212