Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
युद्ध उचित नहीं

मनुष्य के कृत्यों को देखो। तीन हजार वर्षों में पांच हजार युद्ध आदमी ने लड़े हैं। उसकी पूरी कहानी हत्याओं की कहानी है, लोगों को जिंदा जला देने की कहानी है और एक को नहीं, हजारों को। और यह कहानी खत्म नहीं हो गई है। ....

नैतिकता

प्रकृति की मर्यादाओं-नियत नियमों की अनुकूल दिशा में चलकर ही सुखी, शांत और सम्पन्न रहा जा सकता है। इसी को नैतिकता भी कहा जा सकता है। ....

प्रतिद्वंद्वी

अन्ना विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, गिंडी (सीईजी) में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। ....

गायन

भावों को उभारने और सम्प्रेषित करने में गायन का महत्त्व हमेशा रहा है, आज भी है। ....

व्यक्तित्व

सभी मनुष्य इस जीवन प्रक्रिया में जागरूकता के साथ या फिर अनजाने में, अपनी एक खास छवि बना लेते हैं, अपने एक खास व्यक्तित्व का निर्माण कर लेते हैं। ....

विश्लेषण : हवा-हवाई बजट

एक जमाना था जब केंद्र सरकार का सालाना बजट एक गंभीर मामला हुआ करता था। ....

शरीर

आस्तिकता और कर्तव्य परायणता की सद्वृत्ति का प्रभाव पहले अपनी सबसे समीपवर्ती स्वजन पर पड़ना चाहिए। ....

रिश्ता

आजकल हम ऐसे वातावरण, ऐसी संस्कृति में रह रहे हैं जहां जरूरी नहीं रह गया है कि आप अपना सारा जीवन एक ही साथी के साथ रहें। ....

कामना या करुणा

इस जगत में बिना कारण कुछ भी नहीं हो सकता। और कारण केवल दो ही हो सकते हैं, या तो कामना हो, या करुणा हो। ....

मृत्यु के बाद

मरने के उपरांत नया जन्म मिलने से पूर्व जीवधारी को कुछ समय सूक्ष्म शरीरों में रहना पड़ता है। उनमें से जो अशांत होते हैं, उन्हें प्रेत और जो निर्मल होते हैं उन्हें पितर प्रकृति का निस्पृह उदारचेता, सहज सेवा, सहायत ....

अहंकार

स्वाभिमान और अहंकार देखने में एक जैसे लगते हैं, पर उनकी प्रकृति और परिणति में जमीन-आसमान जैसा अंतर है। ....

भावनाएं

मैं ये जो कुछ कह रहा हूं वह इसलिए नहीं है कि मुझे आप के बारे में कोई चिंता नहीं है या मैं संवेदनहीन हूं लेकिन इसलिए कि आपको जो हो रहा है, उसका स्वभाव, उसकी प्रकृति यही है। ....

ईश्वर

धर्म की छलांग, यह ‘क्वांटम लीप’ गौतम बुद्ध से भी पच्चीस सदियों पहले एक बार लगी थी, और उसका श्रेय आदिनाथ को मिलता है। ....

उच्चतम सिद्धि

ज्ञानी अपने पास जो कुछ भी है, उससे खुश और जो नहीं है उससे भी खुश रहते हैं। अज्ञानी अपने पास जो है उससे और जो नहीं है उससे भी नाखुश रहते हैं। ....

योग्यता

आप कितना कमा रहे हैं, यह विशेष बात नहीं है। विशेष बात यह है कि आप को कुछ नया बनाने, निर्माण करने की स्वतंत्रता है। ....

ईश्वर

ईश्वर का दंड एवं उपहार दोनों ही असाधारण हैं। इसलिए आस्तिक को इस बात का सदा ध्यान रहेगा कि दंड से बचा जाए और उपहार प्राप्त किया जाए। ....

माटी

अगर ये शरीर उसी मिट्टी का बना है, जिस पर हम चलते हैं, तो फिर हमें ऐसा अनुभव क्यों नहीं होता? हम पूरी धरती को अपने हिस्से के रूप में कैसे अनुभव कर सकते हैं? ....

रचनात्मक उपद्रव

यह जो लड़ने की वृत्ति है। लड़ने की वृत्ति के हजार रूप होते हैं। लड़ने की वृत्ति बड़ी फ्लेक्सिबल चीज है। हमने क्या किया है? ....

आत्मनिरीक्षण

आत्म विश्लेषण का अर्थ है प्रवृत्तियों के मूल कारण की तलाश करना। अर्थात द्वेषपूर्ण भावनाएं जिस आधार पर उठीं, उस आधार को ढूंढ़ना और उसे नष्ट करना। ....

स्व का बचाव

सब जीवों को परमेश्वर का अंश कहा गया है। जिस प्रकार जल के प्रपात में से पानी के अनेक छोटे-छोटे झरने उत्पन्न होते और विलय होते हैं, उसी प्रकार विभिन्न जीवधारी परमात्मा में से उत्पन्न होकर उसी में लय होते रहते हैं। ....

  फ़ोटो गैलरी
'ये बॉलीवुड...
मैडम तुसाद में...
मैडम तुसाद में...
जानें 18 बहादुर बच्चों...
जानें 18 बहादुर बच्चों...
19 जनवरी 2018, शुक्रवार...
19 जनवरी 2018, शुक्रवार...
18 जनवरी 2018,...
18 जनवरी 2018,...
टाइगर जिंदा है ने...
टाइगर जिंदा है ने...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
आदिरा...
आदिरा...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
तमिलनाडु में पोंगल...
तमिलनाडु में पोंगल...
14 से 20 जनवरी तक...
14 से 20 जनवरी तक...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'स्वच्छ आदत स्वच्छ...
मकर संक्रांति:...
मकर संक्रांति:...
11 जनवरी 2018,...
11 जनवरी 2018,...
मैं पेरिस में नहीं...
मैं पेरिस में नहीं...
Delhi Book Fair: किताबों के...
Delhi Book Fair: किताबों के...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
7 से 13 जनवरी तक...
7 से 13 जनवरी तक...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'तुझे मेरी कसम' के सेट...
गलन वाली ठंड का कहर...
गलन वाली ठंड का कहर...
4 जनवरी 2018,...
4 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...

 

172.31.21.212