Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
ईश्वर

आंखों से प्रकृति पदार्थ दिखते हैं. इंद्रियों द्वारा भी वे अनुभव किए जाते हैं. ईश्वर चेतना है. वह निराकार होती है. ....

मन

जब मैं ध्यान में बैठता हूं तो ऐसा लगता है कि मेरे मन में लगातार एक फिल्म चल रही है और तब मुझे ऐसा लगता है कि इसे रोकने की कोशिश करनी चाहिए और इस कोशिश में मैं आराम से नहीं बैठ पाता. ....

प्रेम और विवाह

प्रेम जो है, वह व्यक्तित्व की तृप्ति का चरम बिंदु है. और जब प्रेम नहीं मिलता है तो व्यक्तित्व हमेशा मांग करता है कि मुझे पूर्ति चाहिए. ....

दुख-सुख

आज तक का समाज दुख से भरा हुआ समाज है, उसकी ईट ही दुख की है, उसकी बुनियाद ही दुख की है. ....

भरोसा

प्यारे बच्चों, आपसे अपनी बात की शुरु आत एक सच्चाई बता कर करना चाहूंगा. आप लोग अपनी समस्या को कुछ ज्यादा ही रूमानी रूप दे रहे हैं. ....

महानता

मानवीय विकास का वास्तविक स्वरूप निर्धारित करना हो तो यह मानकर नहीं चला जा सकता कि मनुष्य शरीर पाने तक ही उसकी अंतिम परिधि है. ....

बुरी नजर

जब कोई व्यक्ति हमें ईष्र्या की नजर से देखता है तो हम कहते हैं, ‘बुरी नजर लग जाती है.’ क्या वाकई ‘बुरी नजर’ जैसी कोई चीज होती है? ....

आत्मा का यौवन

कबीर कहते हैं : तन को चढ़ा दूंगा, मन को चढ़ा दूंगा. तन से प्रेम करूंगा, मन से प्रेम करूंगा. ....

अवसाद

खुद के बारे में बहुत अधिक सोचना संभवत: सबसे बड़ी बीमारी है. तुम प्रसन्न नहीं हो सकते, तुम जीने का मजा नहीं ले सकते. ....

निराशा

माना कि आपका लक्ष्य सफलता पाना था और आपने कड़ी मेहनत की, मगर नतीजा विपरीत हो गया. ....

मिलनसारिता

ये उदाहरण कोई अपवाद नहीं. ‘एल्गी’ जाति के ‘प्रोटोंकोकस’ पौधे और फंगस जाति के एक्टीनो माइसिटीज’’ पौधे भी आपस में मिलकर एक दूसरे को बहुत सुंदर ढंग से पोषण की वस्तुएं प्रदान करते हैं. ....

बुद्धिमानी

ऐसा क्यों होता है कि जिस चीज को आप पाना चाहते हैं, एक पल में तो आप उसे बहुत करीब महसूस करते हैं और अगले ही पल वह दूर महसूस होने लगता है? ....

शून्य

शून्य का अर्थ किसी का स्मरण नहीं, समस्त का विसर्जन है. हमने अपने को खोया नहीं है, केवल विस्मरण किया है. ....

दुख

दुख ही दुख अगर पाया है तो बड़ी मेहनत की होगी पाने के लिए, बड़ा श्रम किया होगा, बड़ी साधना की होगी, तपस्या की होगी! अगर दुख ही दुख पाया है तो बड़ी कुशलता अर्जित की होगी! दुख कुछ ऐसे नहीं मिलता, मुफ्त नहीं मिलता. दुख के ल ....

दक्षिणायन

हम लोग दक्षिणायन, जिसे साधना पद भी कहा जाता है, के दूसरे चरण में हैं. ....

समान न्याय

भारतीय संस्कृति सबके लिए सभी भांति विकास का अवसर देती है. यह अति उदार संस्कृति है. विश्व में अन्य कोई धर्म संस्कृति में ऐसा प्रावधान नहीं है. ....

मन

मन में घटाना या विभाजन जैसी कोई चीज नहीं होती. सिर्फ जोड़ या गुणा होता है. ....

यौन वर्जना

जिस दिन दुनिया में सेक्स स्वीकृत होगा, जैसा कि भोजन, स्नान स्वीकृत है, उस दिन दुनिया में अश्लील पोस्टर नहीं लगेंगे. ....

समस्या

पश्चिमी दृष्टिकोण है समस्या के बारे में सोचना, समस्या के कारण ढूंढना, समस्या के इतिहास में जाना, समस्या के अतीत में जाना, समस्या को बिल्कुल जड़ से उखाड़ना, दिमाग के संस्कारों को खत्म करना, या दिमाग को पुन: अनूकुलि ....

चित्त

मन का अगला आयाम चित्त कहलाता है. चित्त का मतलब हुआ विशुद्ध प्रज्ञा व चेतना, जो स्मृतियों से पूरी तरह से बेदाग हो. ....

  फ़ोटो गैलरी
17 जनवरी 2018, बुधवार...
17 जनवरी 2018, बुधवार...
आदिरा...
आदिरा...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
16 जनवरी 2018, मंगलवार...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
सोमवार,15 जनवरी 2018...
तमिलनाडु में पोंगल...
तमिलनाडु में पोंगल...
14 से 20 जनवरी तक...
14 से 20 जनवरी तक...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
13 जनवरी 2018, शनिवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
12 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'स्वच्छ आदत स्वच्छ...
मकर संक्रांति:...
मकर संक्रांति:...
11 जनवरी 2018,...
11 जनवरी 2018,...
मैं पेरिस में नहीं...
मैं पेरिस में नहीं...
Delhi Book Fair: किताबों के...
Delhi Book Fair: किताबों के...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
10 जनवरी 2018, बुधवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
9 जनवरी 2018, मंगलवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
8 जनवरी 2018, सोमवार...
7 से 13 जनवरी तक...
7 से 13 जनवरी तक...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
जब जरुरत गर्ल के नाम...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
6 जनवरी 2018, शनिवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
5 जनवरी 2018, शुक्रवार...
'तुझे मेरी कसम' के सेट...
गलन वाली ठंड का कहर...
गलन वाली ठंड का कहर...
4 जनवरी 2018,...
4 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
जानिए 3 जनवरी 2018,...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
1 जनवरी 2018, सोमवार...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...
31 दिसम्बर से 06 जनवरी तक...
सलमान की इस बात ने...
सलमान की इस बात ने...
शनिवार, 30 दिसंबर 2017...
शनिवार, 30 दिसंबर 2017...
आजीवन क्यों कुंवारे...
आजीवन क्यों कुंवारे...
राहुल ने सोमनाथ...
राहुल ने सोमनाथ...
...जानें ब्लू...
...जानें ब्लू...
इटली में शादी,...
इटली में शादी,...

 

172.31.20.145