Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

05 Nov 2017 12:35:22 AM IST
Last Updated : 05 Nov 2017 12:38:36 AM IST

वैश्विकी : चीनी चक्रव्यूह और अजहर

डॉ. दिलीप चौबे
वैश्विकी : चीनी चक्रव्यूह और अजहर
वैश्विकी : चीनी चक्रव्यूह और अजहर

चीन ने पठानकोट आतंकवादी हमले के मास्टर माइंड मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के प्रस्ताव को चौथी बार खारिज करके इस आशंका को और ज्यादा सघन कर दिया है कि वैश्विक आतंकवाद का जड़ से सफाया करना नामुमकिन है.

यह मान लेने में अब कोई हर्ज नहीं है कि नई विश्व व्यवस्था में चीन अमेरिका की जगह लेने के लिए जरूरत से ज्यादा उतावला है और वैश्विक राजनीति में अपने को अग्रणी भूमिका में देखना चाहता है.अंतरराष्ट्रीय राजनीति के इस यथार्थवादी सिद्धांत पर लगभग मतैक्य है कि राष्ट्रीय हित ही वह प्रमुख तत्व है, जो दो स्वतंत्र और संप्रभु देशों के पारस्परिक रिश्तों को निर्धारित करते हैं. राष्ट्रीय हितों की दृष्टि से दक्षिण एशिया में पाकिस्तान की भू-राजनीतिक स्थिति बीजिंग के ज्यादा अनुकूल है. चीन इस तथ्य को समझता है कि भारत उसका सबसे बड़ा प्रतिस्पर्धी देश है और इस क्षेत्र का नेतृत्व करने की उसकी दावेदारी की राह में नई दिल्ली अवरोधक है. इसलिए चीन पाकिस्तान को अपने गुट में शामिल करके आतंकवाद और सीमा विवाद जैसे मसलों पर भारत को उलझाये रखना चाहता है.
चीन भारत के बढ़ते प्रभाव से और खास तौर पर नई दिल्ली-वाशिंगटन की बढ़ती दोस्ती से संशकित रहता है. इसलिए आतंकवाद के किसी भी चेहरे का विरोध करने का दावा करने वाला चीन मसूद अजहर के मसले पर अलग रुख अपनाता आया है. चीन समझता है कि भारत और पाक के बीच स्थायी शांति का मतलब नई दिल्ली का मजबूत होकर उभरना. और नई दिल्ली के मजबूत होने का सीधा मतलब दक्षिण एशिया की राजनीति में चीन को प्रभावहीन करना है. अमेरिका भी इसी कूटनीति के तहत एशिया में भारत की भूमिका को बढ़ाने के लिए तत्पर है. दरअसल, चीन और अमेरिका दोनों अपने-अपने राष्ट्रीय हितों के अनुकूल पाकिस्तान और भारत का इस्तेमाल करना चाहते हैं.

भारत अमेरिका के इस इरादे को अच्छी तरह समझता है. पर भारत एक मजबूत देश होने के कारण अमेरिका के दबाव में आए बगैर अपने राष्ट्रीय हितों का संचालन स्वयं करता है. उसने अफगानिस्तान में अपनी फौज भेजने से इनकार करके अमेरिका को यह जता भी दिया था. लेकिन पाकिस्तान अपनी मजहबी नीतियों और खास कर आतंकवाद को प्रश्रय देने के कारण एक असफल देश हो चुका है. इसलिए वह चीन के इशारे पर नाचने के लिए मजबूर है. इस्लामाबाद यह समझते हुए भी कि बड़ी शक्ति हमेशा छोटी शक्ति का इस्तेमाल करती है, अपने भाग्य को चीन के साथ नत्थी कर लिया है. सचाई तो यही है कि चीन पाकिस्तान की मदद नहीं कर रहा है, वह उसे पीट्ठू बना कर अपना हित साध रहा है.
चीन का राजनीतिक लक्ष्य बहुत स्पष्ट है. इसे पाने के लिए वह टेढ़े-मेढ़े रास्तों का सहारा लेता रहता है. इसलिए आतंकवाद के मसले पर कभी सख्त और कभी नरम रुख अख्तियार कर लेता है. भारत के साथ चीन के रिश्ते गहरी दोस्ती में तब्दील नहीं हो सकती तो इसकी अधिकतर वजह वह खुद और उसके अपने विरोधाभास हैं. चूंकि ये मूल हैं, इसलिए ये आगे भी रहने वाले हैं. अत: चीन के विदेश मंत्री वांग यी की आगामी दिल्ली यात्रा से बहुत उत्साहित होने की जरूरत नहीं है.


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :



फ़ोटो गैलरी
PICS: पुरानी साड़ी का ऐसे करें दोबारा इस्तेमाल

PICS: पुरानी साड़ी का ऐसे करें दोबारा इस्तेमाल

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 20 नवम्बर 2017 का राशिफल

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 20 नवम्बर 2017 का राशिफल

B

B'day Spl: 42 की हुई पूर्व मिस यूनीवर्स सुष्मिता सेन, आज भी बरकरार है ग्लैमरस अवतार

PICS: इस सवाल के जवाब ने भारत की मानुषी को बनाया मिस वर्ल्ड...

PICS: इस सवाल के जवाब ने भारत की मानुषी को बनाया मिस वर्ल्ड...

B

B'day- आराध्या की मौजूदगी घर में खुशी लाती है: अमिताभ

Diabetes: कहीं रह ना जाए मां बनने की चाह अधूरी

Diabetes: कहीं रह ना जाए मां बनने की चाह अधूरी

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 13 नवम्बर 2017 का राशिफल

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 13 नवम्बर 2017 का राशिफल

जानिए 12 से 18 नवम्बर का साप्ताहिक राशिफल

जानिए 12 से 18 नवम्बर का साप्ताहिक राशिफल

सावधान! दिल्ली की दमघोंटू हवा में सांस लेने का मतलब 50 सिगरेट रोज पीना

सावधान! दिल्ली की दमघोंटू हवा में सांस लेने का मतलब 50 सिगरेट रोज पीना

महिला हॉकी टीम का भव्य स्वागत

महिला हॉकी टीम का भव्य स्वागत

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 6 नवम्बर 2017 का राशिफल

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 6 नवम्बर 2017 का राशिफल

PICS: हैप्पी बर्थडे: 29 साल के हुए विराट, ऐसे मनाया बर्थडे

PICS: हैप्पी बर्थडे: 29 साल के हुए विराट, ऐसे मनाया बर्थडे

गिनीज बुक तक पहुंची खिचड़ी के तड़के की महक

गिनीज बुक तक पहुंची खिचड़ी के तड़के की महक

बर्थ डे स्पेशल: देखें शाहरूख की वो तस्वीरें जो कर देगीं आपको हैरान

बर्थ डे स्पेशल: देखें शाहरूख की वो तस्वीरें जो कर देगीं आपको हैरान

नेहरा ने लगभग 40 हजार दर्शकों के सामने क्रिकेट को कहा अलविदा...

नेहरा ने लगभग 40 हजार दर्शकों के सामने क्रिकेट को कहा अलविदा...

PICS: सूरत में राहुल की वैन पर चढ़कर लड़की ने ली सेल्फी

PICS: सूरत में राहुल की वैन पर चढ़कर लड़की ने ली सेल्फी

हैप्पी बर्थडे:

हैप्पी बर्थडे: 'खूबसूरती की मिसाल' ऐश्वर्या राय बच्चन 44 की हुईं

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 30 अक्टूबर 2017 का राशिफल

जानिए कैसा रहेगा, सोमवार, 30 अक्टूबर 2017 का राशिफल

यौन शक्ति घटाता है मोटापा

यौन शक्ति घटाता है मोटापा

फीफा U-17: खूबसूरत रंगोली से सजा कोलकाता का साल्ट लेक स्टेडियम

फीफा U-17: खूबसूरत रंगोली से सजा कोलकाता का साल्ट लेक स्टेडियम

प्रशिक्षु IAS अधिकारी जनता से जुडने की क्षमता विकसित करें: PM

प्रशिक्षु IAS अधिकारी जनता से जुडने की क्षमता विकसित करें: PM

तस्वीरों में देखिये, सूर्य उपासना के महापर्व छठ की छटा

तस्वीरों में देखिये, सूर्य उपासना के महापर्व छठ की छटा

माता सीता ने किया था पहला छठ, यहां मौजूद हैं उनके पदचिन्ह

माता सीता ने किया था पहला छठ, यहां मौजूद हैं उनके पदचिन्ह

पटाखा बैन का असर, पिछले साल से कम हुआ प्रदूषण, देखें..

पटाखा बैन का असर, पिछले साल से कम हुआ प्रदूषण, देखें..

PICS: दीपोत्सव का पांच दिवसीय उत्सव शुरू, सजे बाजार, धनतेरस आज

PICS: दीपोत्सव का पांच दिवसीय उत्सव शुरू, सजे बाजार, धनतेरस आज

जन्मदिन विशेष: बॉलीवुड की

जन्मदिन विशेष: बॉलीवुड की 'ड्रीम गर्ल' हेमा मालिनी के डॉयलॉग जो हिट रहेंगे

धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना है शुभ, धन में होगी 13 गुना वृद्धि

धनतेरस पर इन चीजों को खरीदना है शुभ, धन में होगी 13 गुना वृद्धि

त्यौहारों पर निखारें बाल,हाथ,नाखून,अपनाएं शहनाज हुसैन के टिप्स

त्यौहारों पर निखारें बाल,हाथ,नाखून,अपनाएं शहनाज हुसैन के टिप्स

पापा शाहिद के बेटी मीशा के साथ प्यार भरे पल, देखें तस्वीरें

पापा शाहिद के बेटी मीशा के साथ प्यार भरे पल, देखें तस्वीरें

अशोक कुमार, किशोर कुमार दोनों भाईयों को हमेशा से जोड़ गयी 13 अक्टूबर

अशोक कुमार, किशोर कुमार दोनों भाईयों को हमेशा से जोड़ गयी 13 अक्टूबर

अजीब खबर, 5 साल की छोटी उम्र में जवानी पार कर आने लगा बुढ़ापा

अजीब खबर, 5 साल की छोटी उम्र में जवानी पार कर आने लगा बुढ़ापा

PICS: दिल्ली का सेंट्रल विस्टा 16 मिलियन रंगों से जगमगाया, 365 दिन रहेगा रोशन

PICS: दिल्ली का सेंट्रल विस्टा 16 मिलियन रंगों से जगमगाया, 365 दिन रहेगा रोशन


 

172.31.20.145