AMU में उत्साह के साथ मनाया अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, बड़ी संख्या में लोगों ने किया योगाभ्यास

Last Updated 21 Jun 2024 08:13:03 PM IST

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में 10वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस उत्साहपूर्वक मनाया गया। इस दौरान यहां बड़ी संख्या में लोगों ने योगाभ्यास किया।


कुलपति प्रोफेसर नईमा खातून ने विश्वविद्यालय परिसर में छात्रों, संकाय सदस्यों, गैर-शिक्षण कर्मचारियों और अन्य लोगों के साथ योग किया। सुबह 7 बजे शुरू 45 मिनट के योग सत्र का नेतृत्व विश्वविद्यालय के शारीरिक शिक्षा विभाग के तीन सदस्यीय दल ने किया।

एएमयू का यह कार्यक्रम आयुष मंत्रालय के दिशा-निर्देशों का अनुपालन करते हुए संपन्न हुआ।

इस अवसर पर कुलपति प्रोफेसर नईमा खातून ने अखंड योग कार्यशाला 3.0 का उद्घाटन किया और इसमें नियमित रूप से आने वालों को सम्मानित किया।

प्रोफ़ेसर खातून ने इस वर्ष की थीम पर प्रकाश डाला। उन्होंने व्यक्तिगत स्वास्थ्य और सामाजिक सद्भाव को बढ़ावा देने में योग के महत्व पर ज़ोर दिया और सभी को स्वास्थ्य और आध्यात्मिक लाभ के लिए योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करने के लिए प्रोत्साहित किया।

प्रोफ़ेसर खातून ने कहा, "अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय अपनी स्थापना के बाद से ही अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाता आ रहा है। समाज के हर सदस्य को स्वस्थ शरीर और स्वस्थ मन के लिए योग करना चाहिए। योग शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए ज़रूरी है।"

उन्होंने प्रोफेसर सैयद तारिक मुर्तज़ा और उनकी टीम को एएमयू में लगातार 732 दिनों तक अखंड योग कार्यशाला आयोजित करने के लिए बधाई दी।

प्रोफ़ेसर मुर्तज़ा ने उपस्थित लोगों का स्वागत करते हुए बताया कि योग न केवल शारीरिक स्वास्थ्य के लिए है, बल्कि इसका सामाजिक महत्व भी है और यह एक समग्र जीवन प्रणाली है। उन्होंने सभी से योग के सिद्धांतों को अपनाने और 10-16 जुलाई को सुबह 11 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक योग पर सात दिवसीय ऑनलाइन कार्यशाला के लिए पंजीकरण करने का आग्रह किया।

45 मिनट का योगभ्यास धर्मेंद्र ठाकुर, विशाखा भारद्वाज और औसाफ अहमद द्वारा संचालित किया गया।

कार्यक्रम में प्रो. सैयद वसीम अली, प्रॉक्टर, प्रो. बृज भूषण सिंह, प्रो. ज़मीरउल्लाह खान और डॉ. नौशाद वहीद अंसारी सहित एएमयू के कई अधिकारी मौजूद थे।

आईएएनएस
अलीगढ़


Post You May Like..!!

Latest News

Entertainment