Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

08 Jun 2012 12:57:44 AM IST
Last Updated : 08 Jun 2012 12:57:44 AM IST

वैकल्पिक ईधन के लिए कृष्ण क्रांति

शशांक द्विवेदी
लेखक
वैकल्पिक ईधन के लिए कृष्ण क्रांति

कृषि के क्षेत्र में हरित क्रांति के बाद अब समय है कृष्ण क्रांति यानि ब्लैक रिवोल्यूशन का.

पेट्रोलियम उत्पादों के क्षेत्र में देश को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास को कृष्ण क्रांति नाम दिया गया है. इसका उद्देश्य देश को पेट्रोलियम क्षेत्र डीजल में आत्मनिर्भर बनाना है. चूंकि कच्चा तेल काले रंग का होता है, इसलिए इसके उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास को कृष्ण क्रांति कहा जाएगा. इसके तहत हमें देश में दूसरे तरीकों से पेट्रोल और डीजल को बनाना होगा या इसका विकल्प तैयार करना होगा.

इसके लिए जरूरी है कि देश में एथेनाल मिश्रित पेट्रोल एवं बायोडीजल के प्रयोग पर बल दिया जाए. विश्व के कई देशों जैसे अमेरिका, ब्राजील आदि में एथेनाल मिश्रित पेट्रोलियम का सफल प्रयोग हो रहा है. ब्राजील में फसल पर कीटनाशी पाउडर छिड़कने वाले विमान का ईधन, पारंपरिक ईधन में एथेनाल मिलाकर तैयार किया जाता है.

यह प्रदूषणरहित होने के साथ-साथ किसी भी अन्य अच्छे ईधन की तरह उपयोगी होता है. अब इसका प्रयोग विदेशों में मोटरकारों में निरंतर अधिक होता जा रहा है.  एथेनाल गन्ना, चुकंदर, मकई, जौ, आलू, सूरजमुखी या गंध सफेदा से तैयार किया जाता है. इन सबकी फसल के लिए विस्तृत भूभाग की आवश्यकता है जिसकी भारत में कोई कमी नहीं है. एथेनाल चीनी मिलों से निकलने वाली गाद या शीरा से भी बनाया जाता है.

पहले यह बेकार चला जाता था लेकिन अब इसका सदुपयोग हो सकेगा और इससे गन्ना उत्पादकों को भी लाभ होगा. यह पेट्रोल के प्रदूषक तत्वों को भी कम करता है. ब्राजील में बीस प्रतिशत मोटरगाड़ियों में इसका प्रयोग होता है. अगर भारत में ऐसा किया जाए तो पेट्रोल के साथ-साथ विदेशी मुद्रा की बचत भी होगी. देश में 18 करोड़, 60 लाख हेक्टेयर भूमि बेकार पड़ी है.

अगर मात्र एक करोड़ हेक्टेयर भूमि में ही एथेनाल बनाने वाली चीजों की खेती की जाए तो भी देश तेल के मामले में काफी हद तक आत्मनिर्भर हो जाएगा. इसी तरह बायोडीजल के लिए रतनजोत या जटरोपा का उत्पादन किया जा सकता है. कई विकसित देशों में वाहनों में बायोडीजल का सफल प्रयोग किया जा रहा है. इंडियन ऑयल द्वारा इसका परीक्षण सफल रहा है.

वर्तमान वाहनों के इंजन में बिना किसी प्रकार का परिवर्तन लाए इसका प्रयोग संभव है. जटरोपा समशीतोष्ण जलवायु का पौधा है जिसे देश में कहीं भी उगाया जा सकता है. इसे उगाने के लिए पानी की भी कम आवश्यकता होती है. यह बंजर जमीन पर भी आसानी से उग सकता है. जटरोपा की खेती के लिए रेलवे लाइनों के पास खाली पड़ी भूमि का उपयोग किया जा सकता है.

देश में वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद, आईआईटी दिल्ली, पंजाब कृषि विविद्यालय तथा इंडियन इंस्टीटय़ूट ऑफ पेट्रोलियम देहरादून ने जटरोपा की खेती के सफल फील्ड ट्रायल किए हैं. रेलवे ने भी बायोडीजल का सफल प्रयोग किया है. 31 जनवरी, 2003 को पहली बार दिल्ली-अमृतसर शताब्दी एक्सप्रेस में इसका सफल प्रयोग किया गया. जटरोपा की व्यावसायिक खेती के लिए सरकार किसानों को अनुदान एवं आसान शतरे पर ऋण देकर प्रोत्साहित कर सकती है. बायोडीजल को ज्यादा परिष्कृत करने की आवश्यकता भी नहीं होती. यह प्रदूषण रहित होता है.

इसमें सल्फर की मात्रा शून्य होती है. इसे पर्यावरण के यूरो-3 मानकों में रखा गया है. बायोडीजल ज्वलनशील भी नहीं है. इसका भंडारण और परिवहन भी आसान है. यह ईधन का श्रेष्ठ और सस्ता विकल्प होगा तथा इसकी कीमत 11-12 रुपये प्रति लीटर होगी जो परंपरागत डीजल की कीमत से काफी कम है. बायोडीजल की खेती से ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी दूर होगी तथा लोगों की आत्मनिर्भरता बढ़ेगी.  

पिछले दिनों भारतीय पेट्रोलियम संस्थान (आईआईपी) में वैज्ञानिकों की टीम ने पर्यावरण के लिए खतरनाक माने जाने वाले प्लास्टिक से पेट्रोलियम बनाने की नई प्रौद्योगिकी विकसित की है. इसमें  ‘उत्प्रेरकों का एक संयोजन’ विकसित किया गया, जो प्लास्टिक को गैसोलीन या डीजल या ‘एरोमेटिक’ के साथ-साथ एलपीजी (रसोई गैस) के रूप में तब्दील कर सकता है.

वास्तव में बेकार हो चुके प्लास्टिक से पेट्रोलियम उत्पाद तैयार करना, हमारे वैज्ञानिकों की बड़ी उपलब्धि है. इस परियोजना का प्रायोजक गेल भी बड़े पैमाने पर पेट्रोलियम उत्पाद तैयार करने के लिए परियोजना की आर्थिक व्यवहारिकता तलाश रहा है.

इस प्रौद्योगिकी की खास विशेषता यह है कि उत्प्रेरकों और संचालन मापदंड में बदलाव के जरिए इसी कच्चे पदार्थ से विभिन्न उत्पाद हासिल किए जा सकते हैं.  इसके अलावा यह प्रक्रिया पूरी तरह पर्यावरण हितैषी भी है, क्योंकि इससे कोई जहरीला पदार्थ उत्सर्जित नहीं होता है.

यह प्रक्रिया छोटे और बड़े उद्योग, दोनों के अनुकूल है. ‘वेस्ट प्लास्टिक्स टू फ्यूल एंड पेट्रोकेमिकल्स’ नाम से इस परियोजना की व्यवहार्यता पर वर्ष 2002 में कार्य शुरू  किया गया था और इस निष्कर्ष तक पहुंचने में चार साल का वक्त लगा कि बेकार हो चुके प्लास्टिक को ईधन में तब्दील करना संभव है. एक अनुमान के मुताबिक दुनिया भर में तीन सौ टन से अधिक प्लास्टिक का इस्तेमाल किया जाता है और इसमें सालाना 10 से 12 फीसद बढ़ोतरी हो रही है.

पेट्रोल तैयार करने के लिए पलीथीलीन एवं पलीप्रोपोलीन जैसे पलीओलेफीनीक प्लास्टिक मुख्य कच्चा माल हैं. एक किलोग्राम पलीओलेफीनीक प्लास्टिक से 650 मिली लीटर पेट्रोल या 850 मिलीलीटर डीजल या 450-500 मिलीलीटर एरोमेटिक तैयार किया जा सकता है.

जिस गति से विश्व में पेट्रोलियम उत्पादों का उपभोग हो रहा है उसके अनुसार विश्व की अगले 40 वर्षों की मांग पूरी करने के लिए ही कच्चे तेल के भंडार शेष हैं.

भविष्य में होने वाली तेल की कमी को पूरा करने के लिए अभी से गंभीरतापूर्वक कदम उठाने होंगे. कृष्ण क्रांति निश्चित रूप से भारत की टिकाऊ  विकास के प्रति प्रतिबद्धता को मजबूत करेगी. इसलिए देश की वर्तमान और भावी ऊर्जा सुरक्षा के लिए कृष्ण क्रांति का सफल होना बहुत जरूरी है.

सरकार को अपने तमाम प्रयासों से इसके मार्ग में आने वाली प्रत्येक कठिनाई को दूर करना होगा. यह क्रांति भारत की आर्थिक समृद्धि के द्वार खोलेगी तथा भारत को विकसित देशों की कतार में खड़ा करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी.


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
वयस्क ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी जरूरी है योग

वयस्क ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी जरूरी है योग

ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में ये लेना पसंद करते हैं अमिताभ बच्चन

ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में ये लेना पसंद करते हैं अमिताभ बच्चन

World Cup 1983: कपिल की टीम का करिश्मा, जब टीम इंडिया बनी थी चैंपियन

World Cup 1983: कपिल की टीम का करिश्मा, जब टीम इंडिया बनी थी चैंपियन

दीपिका एक

दीपिका एक 'अच्छी सिंधी बहू' है : रणवीर

PICS: शादी के बाद पहली बार मिमी चक्रवर्ती के साथ लोकसभा पहुंचीं नुसरत जहां

PICS: शादी के बाद पहली बार मिमी चक्रवर्ती के साथ लोकसभा पहुंचीं नुसरत जहां

सोशल मीडिया पर पर्सनल लाइफ शेयर कर रहे हैं सलमान

सोशल मीडिया पर पर्सनल लाइफ शेयर कर रहे हैं सलमान

International Yoga Day: मोदी ने रांची में लगाया आसन, देखिए तस्वीरें

International Yoga Day: मोदी ने रांची में लगाया आसन, देखिए तस्वीरें

PHOTOS: देशभर में ईद की धूम

PHOTOS: देशभर में ईद की धूम

मोदी सरकार-2: सीतारमण, स्मृति समेत 6 महिलाएं

मोदी सरकार-2: सीतारमण, स्मृति समेत 6 महिलाएं

ICC World Cup 2019 का रंगारंग आगाज, क्वीन एलिजाबेथ से मिले सभी टीमों के कप्तान

ICC World Cup 2019 का रंगारंग आगाज, क्वीन एलिजाबेथ से मिले सभी टीमों के कप्तान

PICS: बॉलीवुड सितारों के लिए चुनाव का स्वाद रहा खट्टा-मीठा

PICS: बॉलीवुड सितारों के लिए चुनाव का स्वाद रहा खट्टा-मीठा

वर्ल्ड कप: लंदन पहुंची विराट ब्रिगेड, एक जैसी यूनीफॉर्म में नजर आई भारतीय टीम

वर्ल्ड कप: लंदन पहुंची विराट ब्रिगेड, एक जैसी यूनीफॉर्म में नजर आई भारतीय टीम

PICS: कान्स में सफेद टक्सीडो पहनकर

PICS: कान्स में सफेद टक्सीडो पहनकर 'बॉस लुक' में नजर आईं सोनम

PICS: 25 साल पहले आज ही के दिन सुष्मिता बनीं थीं मिस यूनिवर्स

PICS: 25 साल पहले आज ही के दिन सुष्मिता बनीं थीं मिस यूनिवर्स

PICS: Cannes में ऐश्वर्या ने गोल्डन मर्मेड लुक में बिखेरा जलवा

PICS: Cannes में ऐश्वर्या ने गोल्डन मर्मेड लुक में बिखेरा जलवा

PICS: Cannes में दीपिका के

PICS: Cannes में दीपिका के 'लाइम ग्रीन' लुक के मुरीद हुए रणवीर सिंह

PICS: पीएम मोदी का पहाड़ी परिधान बना आकर्षण का केंद्र

PICS: पीएम मोदी का पहाड़ी परिधान बना आकर्षण का केंद्र

Photos: Cannes में दीपिका पादुकोण के लुक ने जीता सबका दिल

Photos: Cannes में दीपिका पादुकोण के लुक ने जीता सबका दिल

PICS: Cannes में कंगना की कांजीवरम ने सबको लुभाया

PICS: Cannes में कंगना की कांजीवरम ने सबको लुभाया

Photos: प्रियंका चोपड़ा ने Cannes में किया अपना डेब्यू

Photos: प्रियंका चोपड़ा ने Cannes में किया अपना डेब्यू

अमित शाह के रोडशो में हिंसा, कई घायल

अमित शाह के रोडशो में हिंसा, कई घायल

IPL: मुंबई इंडियंस ने सड़कों पर निकाली चैंपियन परेड, खुली बस में ऐसे मनाया जश्न

IPL: मुंबई इंडियंस ने सड़कों पर निकाली चैंपियन परेड, खुली बस में ऐसे मनाया जश्न

PICS: ...जब सिंधिया और सिद्धू उतरे क्रिकेट की पिच पर

PICS: ...जब सिंधिया और सिद्धू उतरे क्रिकेट की पिच पर

PHOTOS: मेट गाला में अनोखे अंदाज में नजर आए प्रियंका, निक जोनस

PHOTOS: मेट गाला में अनोखे अंदाज में नजर आए प्रियंका, निक जोनस

PICS: गर्मियों में खूब पीएं पानी, नहीं लगेगी लू

PICS: गर्मियों में खूब पीएं पानी, नहीं लगेगी लू

PICS: माधुरी, मातोंडकर और रेखा समेत इन बॉलीवुड सितारों ने डाला वोट

PICS: माधुरी, मातोंडकर और रेखा समेत इन बॉलीवुड सितारों ने डाला वोट

PICS: मोदी फिर प्रधानमंत्री बने तो रचेंगे इतिहास

PICS: मोदी फिर प्रधानमंत्री बने तो रचेंगे इतिहास

PICS:

PICS: 'वीरू' के अंदाज में बोले धर्मेंद्र, हेमा को नहीं जिताया तो पानी की टंकी पर चढ़ जाऊंगा

PICS: चुनावी समर में चमकेंगे फिल्मी सितारे

PICS: चुनावी समर में चमकेंगे फिल्मी सितारे

PICS: कॉफी, चाय के बारे में सोचने से ही आ जाती है ताजगी

PICS: कॉफी, चाय के बारे में सोचने से ही आ जाती है ताजगी

31 मार्च से 6 अप्रैल तक का साप्ताहिक राशिफल

31 मार्च से 6 अप्रैल तक का साप्ताहिक राशिफल

शुक्रवार, 29 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग

शुक्रवार, 29 मार्च, 2019 का राशिफल/पंचांग


 

172.31.21.212