जानबूझकर हुआ सरबजीत पर कातिलाना हमला!

जानबूझकर हुआ सरबजीत पर कातिलाना हमला, कहां थे जेल कर्मचारी?

भारतीय कैदी सरबजीत सिंह के वकील ने पाकिस्तान प्रशासन पर सवाल उठाते हुए पूछा कि कातिलाना हमले के वक्त जेल के कर्मचारी कहां थे? सरबजीत के वकील शेख ने कहा कि अफजल गुरू को फांसी दिए जाने के बाद उनके मुवक्किल ने अपने एक सह कैदी से जान के खतरे के बारे में बात कही थी, लेकिन पाकिस्तान प्रशासन उसे उचित सुरक्षा मुहैया नहीं कराई. शेख ने कहा कि सरबजीत पर हमले के लिए जेल प्रशासन जिम्मेदार है. हमले के समय जेल के कर्मचारी कहां थे? सरबजीत के वकील ओवैस शेख ने कहा, अफजल गुरू को फांसी दिए जाने के बाद सरबजीत ने मुझसे और एक सीआईडी अधिकारी को बताया था कि कोट लखपत जेल में एक कैदी ने उसे जान से मारने की धमकी दी है. मैंने यह बात जेल प्रशासन और पंजाब प्रांत के गृह विभाग को बताई, लेकिन उसकी सुरक्षा सख्त नहीं की गई. आपको बता दें कि लश्कर-ए-तैयबा और कुछ दूसरे आतंकी संगठनों ने अफजल की फांसी का बदला लेने के लिए सरबजीत को धमकी दी थी. ओवैस शेख ने लाहौर हाईकोर्ट में आवेदन दायर कर मांग की थी कि सरबजीत की सुरक्षा बढ़ाई जाए. शेख ने कहा, सरबजीत पर हमले के लिए जेल प्रशासन जिम्मेदार है.

 
 
Don't Miss
 
PIC OF THE DAY