Samay Live
06 Nov 2018 01:02:45 PM IST
Last Updated : 06 Nov 2018 04:57:54 PM IST

लखनऊ: इकाना का नाम, अब हुआ 'भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम'

वार्ता
लखनऊ
लखनऊ: इकाना का नाम, अब हुआ
इकाना का नाम, अब हुआ 'अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम' (फाइल फोटो)

भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले जाने वाले दूसरे टी20 मैच से कुछ घंटे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को लखनऊ स्थित इकाना क्रिकेट स्टेडियम का नये नाम भारत रत्न अटल बिहार बाजपेयी अन्तिर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन किया।

योगी ने शहीद पथ पर स्थित इकाना इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम के नए नामकरण का उद्घाटन किया। इस स्टेडियम का नाम भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी इकाना इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम रखा गया है। मुख्यमंत्री ने बटन दबा कर इकाना स्टेडियम के नए नामकरण के साथ ही भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले जाने वाले दूसरे ट्वेंटी-20 क्रिकेट मैच का भी उद्घाटन किया।
      
उन्होंने कहा कि यह स्टेडियम उत्तर प्रदेश को खेल के क्षेत्र में नया आयाम देगा। इसमें प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद राज्य के खिलाड़ी देश तथा प्रदेश को काफी गौरवांवित करेंगे। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ दिनेश शर्मा, खेल मंत्री चेतन चौहान तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला भी मौजूद थे।

इस मौके पर इकाना क्रिकेट स्टेडियम के प्रबंध निदेशक उदय सिन्हा ने योगी को स्मृति चिन्ह भेंट किया।
    
लखनऊ में शहीद पथ के किनारे 71 एकड़ भूमि में पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल पर निर्मित इस नये स्टेडियम में 24 सालों के अंतराल के बाद कोई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच आयोजित किया गया है। इस स्टेडियम में 50 हजार दर्शक एक साथ मैच का लुफ्त उठा सकेंगे।  


    
इस अवसर पर, मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय टीम में योगदान देने वाले उत्तर प्रदेश के क्रिकेटर आर पी सिंह और प्रवीण कुमार को स्मृति चिन्ह और शाल भेंटकर सम्मानित किया।
   
उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को इकाना अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का नाम बदल कर ‘‘भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम‘’ किये जाने की स्वीकृति प्रदान कर दी थी।

लखनऊ विकास प्राधिकरण, इकाना स्पोर्टस सिटी प्रा लि एवं जी सी कन्स्ट्रक्शन एवं डेवलपमेन्ट इण्टस्ट्रीज प्रा लि के मध्य हुये एग्रीमेंट में दी गयी व्यवस्था के परिप्रेक्ष्य में यह निर्णय लिया गया है।

 



 

ताज़ा ख़बरें


 

 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां (0 भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
There is no gallery


 

 

Facebook

Twitter

Youtube

RSS

Spacer