Samay Live
08 Feb 2018 01:12:26 PM IST
Last Updated : 08 Feb 2018 01:23:00 PM IST

कुलदीप-चहल विश्वकप में होंगे ‘एक्स फैक्टर': विराट

वार्ता
कुलदीप-चहल विश्वकप में होंगे ‘एक्स फैक्टर
फाइल फोटो

भारतीय क्रिकेट टीम की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त में अहम भूमिका निभाने वाले स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल से प्रभावित कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि दोनों गेंदबाज विश्वकप में भी महत्वपूर्ण साबित होंगे.

कलाई के दोनों स्पिनरों ने बुधवार को खेले गये तीसरे वनडे में मिलकर आठ विकेट निकाले और अफ्रीकी टीम को 179 पर ढेर कर दिया जिससे भारत ने 124 रन के बड़े अंतर से मैच जीत लिया. अब विराट की कप्तानी में टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका में अपनी पहली सीरीा जीत से एक कदम दूर रह गयी है.
         
विराट वनडे सीरीज में दोनों गेंदबाजों के शामिल होने के बाद से ही उनकी हर मैच के बाद जमकर तारीफ करते हैं और केपटाउन में जीत के बाद भी उन्होंने चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप और लेग स्पिनर चहल की प्रशंसा की और माना कि दोनों के लिये टेस्ट टीम में जगह बनाना भी कोई मुश्किल नहीं है. कप्तान ने टेस्ट टीम में दोनों की जगह को लेकर कहा यह शायद अब बहुत दूर नहीं है.
         
भारतीय कप्तान ने कहा दोनों ही बहुत मजबूत खिलाड़ी हैं और विदेशी जमीन पर वे जिस तरह से खेल रहे हैं वह असाधारण है जो हमने पहले नहीं देखा. दोनों विपक्षी टीम को जिस तरह से जकड़ रहे हैं उससे निकलना मुश्किल हो रहा है. इस मैच में उनके आठ विकेट कमाल है.

दक्षिण अफ्रीका में अपनी पहली अंतरराष्ट्रीय सीरीज खेल रहे दोनों गेंदबाजों ने खुद को यहां की परिस्थितियों में बखूबी ढाल लिया है. विराट ने कहा हो सकता है कि दोनें अगले मैच में बहुत रन लुटा दें, लेकिन इससे फर्क नहीं पड़ता क्योंकि ये हर मैच में आक्रमण कर रहे हैं और विकेट निकाल रहे हैं. हमें अगला विश्वकप विदेशी जमीन पर खेलना है और ऐसी स्थिति में ये दोनों हमारे लिये एक्स फैक्टर साबित हो सकते हैं.
       
विराट ने इससे पहले भी कहा था कि उनकी मौजूदा टीम काफी हद तक विश्वकप के लिये तैयार हो चुकी है और अंतिम एकादश में एकाध बदलाव के साथ यही टीम आईसीसी टूर्नामेंट के लिये उतरेगी जिससे साफ है कि अपने प्रदर्शन की बदौलत कुलदीप और युजवेंद्र ने विश्वकप के लिये अपना दावा लगभग पक्का कर लिया है. मौजूदा सीरीज में दोनों ने 7.70 और 10.27 के औसत से 10 और क्रमश: 11 विकेट निकाले हैं.
        
29 वर्षीय क्रिकेटर ने कहा हमें पता था कि ये विकेट ले सकते हैं क्योंकि कलाई के स्पिनरों ने घरेलू सपाट पिचों पर विकेट लिये थे. कुछ को लगा कि ये ट्वंटी 20 में विकेट ले सकते हैं लेकिन इन मुश्किल परिस्थितियों में इनके प्रदर्शन से मैं बहुत खुश हूं. यहां की पिचों पर इन्हें बाउंस भी मिल रही है और ऐसे में तो ये अपने खेल के शीर्ष पर हैं. पिछले दो मैचों में दोनों ने सर्वाधिक विकेट लिये और दोनों टीमों के बीच में इनकी मौजूदगी से फर्क पैदा हुआ.
           
कप्तान ने साथ ही कहा कि टीम को गेंदबाजों पर भरोसा है और प्रबंधन उनका समर्थन करता है इसलिये ही वे खुलकर खेल पाते हैं. टीम ने उन्हें मनोबल दिया है और इसी दम पर ही दोनों अपनी काबिलियत से खेल रहे हैं.



 
loading...

ताज़ा ख़बरें


 

 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां (0 भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
There is no gallery


 

 

Facebook

Twitter

Youtube

RSS

Spacer