Samay Live
11 Aug 2017 11:29:02 AM IST
Last Updated : 11 Aug 2017 11:39:37 AM IST

कांग विश्व चैम्पियनशिप भालाफेंक फाइनल में, नीरज चोपड़ा बाहर

भाषा
कांग विश्व चैम्पियनशिप भालाफेंक फाइनल में, नीरज चोपड़ा बाहर
कांग विश्व चैम्पियनशिप भालाफेंक फाइनल में (फाइल फोटो)

देविंदर सिंह कांग विश्व चैम्पियनिशप की भालाफेंक स्पर्धा के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बन गए जबकि स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा क्वालीफिकेशन दौर से ही बाहर हो गए.

गुमनाम से खिलाड़ी देविंदर सिंह कांग विश्व चैम्पियनिशप की भालाफेंक स्पर्धा के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बन गए जबकि स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा क्वालीफिकेशन दौर से ही बाहर हो गए.
    
विश्व चैम्पियनशिप में कांग की भागीदारी पहले खतरे में पड़ गई थी जब जून में उन्हें मरिजुआना के सेवन का दोषी पाया गया था लेकिन चूंकि यह पदार्थ वाडा की आचार संहिता के तहत स्वत: निलंबन के दायरे में नहीं आता लिहाजा उन्हें टीम में जगह दी गई.
      
कोई भी भारतीय इससे पहले किसी विश्व चैम्पियनशिप में पुरूषों की भालाफेंक स्पर्धा के फाइनल में नहीं पहुंचा था. कांग के प्रदर्शन से भारतीय खेमे ने राहत की सांस ली होगी क्योंकि अभी तक इस चैम्पियनशिप में निराशा ही हाथ लगी है.
      
इससे पहले ग्रुप ए क्वालीफिकेशन में भारत की सबसे बड़ी पदक उम्मीद नीरज प्रभावित करने में नाकाम रहे. अपने युवा कंधों पर देश की उम्मीदों का भार लिये  उतरे नीरज ने सर्वश्रेष्ठ 82.26 मीटर का थो पहले प्रयास में फेंका. जूनियर विश्व रिकार्डधारी नीरज का दूसरा प्रयास फाउल रहा और तीसरे में वह 80.54 मीटर का थो ही लगा सके.
    
वहीं  क्वालीफिकेशन दौर में ग्रुप बी में उतरे कांग ने तीसरे और आखिरी थो में 83 मीटर के क्वालीफिकेशन मार्क को छुआ. उन्होंने 84.22 मीटर का थो फेंका. पहले थो में उन्होंने 82.22 का फासला नापा था जबकि दूसरे में 82.14 मीटर ही फेंक सके. कंधे की चोट से जूझकर आये पंजाब के इस 26 वर्षीय एथलीट पर आखिरी प्रयास में 83 मीटर का फासला नापने का दबाव था. उन्होंने भारतीय प्रशंसकों को निराश नहीं किया.
     
ग्रुप ए से पांच और ग्रुप बी से सात खिलाड़ियों ने क्वालीफाई किया और सभी कल फाइनल खेलेंगे. कांग आखिरी क्वालीफाइंग राउंड के बाद सातवें स्थान पर रहे. उनका यह प्रदर्शन इसलिये भी सराहनीय हैक्योंकि मई में दिल्ली में इंडियन ग्रां प्री में उन्हें कंधे में चोट लगी थी. कल उन्होंने कंधे पर पट्टी बांधकर खेला.


       
कांग ने प्रतिस्पर्धा के बाद कहा, जब मुझे पता चला कि नीरज ने क्वालीफाई नहीं किया तो मैं फाइनल राउंड के लिये क्वालीफाई करना चाहता था. मैं देश के लिये कुछ करना चाहता था. ऐसा कुछ जो कभी किसी भारतीय ने नहीं किया हो. भगवान की कृपा से मैं ऐसा करने में कामयाब रहा. 
     
उन्होंने कहा,  मुझे मई में इंडियन ग्रां प्री के दौरान चोट लगी थी लेकिन यह कोई बड़ी समस्या नहीं थी. टीम के मालिश वाले आजकल यह पट्ठी बांधते हैं.मैं एकदम ठीक हूं लेकिन मुझे अपने दोस्त श्रीलंका के वारूना रंकोथ पेडिगे से मेरे तीसरे और आखिरी थो से पहले कुछ स्ट्रेचिंग का अनुरोध करना पड़ा. 
     
उन्होंने कहा,  कल के आराम के बाद चोट ठीक हो जायेगी. मैं 12 अगस्त को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके पदक जीतने की कोशिश करूंगा. 
    
नीरज  ने कहा,  मैने अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया लेकिन निराशा हाथ लगी. मैने पहले थो में काफी मेहनत की लेकिन कुछ सेंटीमीटर से चूक गया. दूसरे थ्रो में दिक्कत थी और तीसरा दूर रह गया. यदि कोच साथ आते तो अच्छा रहता लेकिन यह मेरे हाथ में नहीं था. मुझे पता ही नहीं चला कि आज क्या हो गया.      

 



 
loading...

ताज़ा ख़बरें


 

 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां (0 भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
भारतीय फुटबाल के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में दर्ज हो जाएगा आज का दिन

भारतीय फुटबाल के इतिहास...

जीत के साथ भारत फिर बना नंबर 1

जीत के साथ भारत फिर बना नंबर 1...

महिला खिलाड़ियों से मिले विराट कोहली

महिला खिलाड़ियों से मिले...

PICS: जब बल्ले की जगह सचिन के हाथ में दिखी झाड़ू...

PICS: जब बल्ले की जगह सचिन के हाथ...

जानें कैसे बनी चाइनामैन कुलदीप की हैट्रिक...

जानें कैसे बनी चाइनामैन कुलदीप...

भारत ने श्रीलंका को 5-0 से धोया

भारत ने श्रीलंका को 5-0 से धोया...

धोनी ने भुवनेश्वर को दी टिप्स... जीता मैच

धोनी ने भुवनेश्वर को दी...

दुआ करे धवन की फार्म यूं ही बनी रहे...

दुआ करे धवन की फार्म यूं ही बनी...

निराशाजनक रही बोल्ट की विदाई

निराशाजनक रही बोल्ट की विदाई...

गैटलिन ने बोल्ट की गोल्डन विदाई का तोड़ा सपना

गैटलिन ने बोल्ट की गोल्डन विदाई...

ऐसे धोया विजेन्दर ने चीन के मुक्केबाज को

ऐसे धोया विजेन्दर ने चीन...

प्रेरणा का स्रोत बनी भारतीय महिला क्रिकेट टीम

प्रेरणा का स्रोत बनी भारतीय...

मेस्सी ने बचपन की दोस्त से रचाई शादी

मेस्सी ने बचपन की दोस्त से...

ब्रावो ने की भारतीय क्रिकेटरों की मेहमाननवाजी

ब्रावो ने की भारतीय क्रिकेटरों...

किदांबी के लिए रेत का 10 फुट लंबा रैकेट

किदांबी के लिए रेत का 10 फुट...

शानदार जीत के साथ कोहली के नाम दर्ज हुआ ये रिकार्ड ...

शानदार जीत के साथ कोहली के नाम...

धोनी आखिरी बार खेलेंगे चैंपियंस ट्राफी

धोनी आखिरी बार खेलेंगे...

जब मास्टर ब्लास्टर के 44वें जन्मदिन का गवाह बना वानखेड़े...

जब मास्टर ब्लास्टर के...

नडाल ने ऐतिहासिक 10वां मोंटे कार्लो खिताब जीता

नडाल ने ऐतिहासिक 10वां...

B\

B'day: जब जिद्दी सचिन की जान पर बन आई......

गेल T20 में 10000 रन पूरे करने वाले पहले बल्लेबाज बने

गेल T20 में 10000 रन पूरे करने वाले...

IPL 10: संजू ने जड़े ताबड़तोड़ 63 गेंदों में 102 रन

IPL 10: संजू ने जड़े ताबड़तोड़ 63...

सत्यव्रत की हुई साक्षी, देखें फोटोज

सत्यव्रत की हुई साक्षी,...

पहला गेम जीतना टर्निंग प्वाइंट बना: सिंधू

पहला गेम जीतना टर्निंग...

साक्षी मलिक के हाथों में रची सत्यव्रत की मेंहदी, देखिए तस्वीरें

साक्षी मलिक के हाथों में...

वीनस हारीं, कोंटा-वोज्नियाकी में खिताबी जंग

वीनस हारीं, कोंटा-वोज्नियाकी...

श्रृंखला जीत भारत ने बनाए कई रिकार्ड

श्रृंखला जीत भारत ने बनाए...

बार्डर-गावस्कर ट्राफी पर भारत की बादशाहत

बार्डर-गावस्कर ट्राफी पर भारत...

कुलदीप की पूर्व क्रिकेटरों ने प्रशंसा की

कुलदीप की पूर्व क्रिकेटरों...

कानपुर में कुलदीप के घर में जश्न का माहौल

कानपुर में कुलदीप के घर में जश्न...

जब स्मिथ ने दलाई लामा से लिया आशीर्वाद...

जब स्मिथ ने दलाई लामा से...

मेरी कड़ी मेहनत का फल मिल रहा है: अंकुर

मेरी कड़ी मेहनत का फल मिल रहा...



 

 

Facebook

Twitter

Youtube

RSS

Spacer