Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

12 Feb 2017 09:54:01 AM IST
Last Updated : 12 Feb 2017 11:32:00 AM IST

शुक्र और मंगल पर नजर जमाए इसरो रच सकता है बड़ा विश्व रिकॉर्ड

भाषा
शुक्र और मंगल पर नजर जमाए इसरो रच सकता है बड़ा विश्व रिकॉर्ड
(फाइल फोटो)

भारत पहली बार शुक्र पर पहुंचने जा रहा है और जल्द ही वह एक बार फिर लाल ग्रह मंगल पर अपनी वापसी करेगा.

नए प्रारूप वाले इलेक्ट्रॉनिक बजट के सैकड़ों दस्तावेजों के बीच सरकार की ओर से पृथ्वी के ठीक पड़ोसी ग्रहों पर नई अंतर-ग्रही यात्राओं से जुड़ी पहली औपचारिक स्वीकारोक्ति दर्ज है.

यह खबर ऐसे समय आई है, जब भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अपने एक बड़े प्रक्षेपण की कोशिश कर रहा है. इस बड़े प्रक्षेपण के तहत वह अंतरिक्ष में दो या तीन नहीं, बल्कि पूरे 104 उपग्रह एक ही अभियान के तहत प्रक्षेपित करेगा.
 
दुनिश के किसी भी अन्य देश ने एक ही अभियान में सौ उपग्रह प्रक्षेपित करने की कोशिश तक नहीं की है. पिछला विश्व रिकॉर्ड रूस के नाम है, जिसने वर्ष 2014 में एक ही अभियान में 37 उपग्रह प्रक्षेपित किए थे. इसके लिए उसने परिष्कृत अंतर-द्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का इस्तेमाल किया था.
 
यदि सबकुछ योजना के अनुरूप चलता है तो 15 फरवरी की सुबह इसरो पीएसएलवी के इस्तेमाल से तीन भारतीय और 101 छोटे विदेशी उपग्रह अंतरिक्ष में भेजेगा.

भारत पिछले वि रिकॉर्ड की तुलना में बेहतर करने और वह भी ढाई गुना बेहतर करने की कोशिश कर रहा है. अरबों डॉलर के प्रक्षेपण बाजार के नए खिलाड़ी इसरो को उम्मीद है कि वह इस दिशा में एक अहम मापदंड स्थापित करेगा.
 
अंतरिक्ष के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रेम सर्वविदित है. ऐसा लगता है कि सरकार भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी से प्रसन्न है और तभी वित्त मंत्री अरण जेटली ने बजट में अंतरिक्ष विभाग के लिए 23 प्रतिशत का भारी इजाफा किया है. अंतरिक्ष विज्ञान के हिस्से में, बजट में ‘मंगलयान अभियान.2 और शुक्र  अभियान’ का जिक्र है.
 
मंगल के लिए दूसरे अभियान की अवधि 2021..22 रखी गई है. मौजूदा योजनाओं की मानें तो इसमें लाल ग्रह पर एक रोबोट उतारा जाना भी शामिल है.
 
भारत का वर्ष 2013 का पहला मंगल अभियान पूरी तरह भारतीय था लेकिन इस बार मार्स रोवर बनाने में फ्रांसीसी अंतरिक्ष एजेंसी समन्वय करना चाहती है.

इस माह जब नासा की जेट प्रणोदक प्रयोगशाला के निदेशक माइकल एम वाटकिन्स ने भारत की यात्रा की थी तो उन्होंने कहा कि वह कम से कम एक टेलीमेटिक्स मॉड्यूल तो लगाना ही चाहेंगे ताकि नासा के रोवर और भारतीय उपग्रह आपस में बात कर सकें.
  
भारत के दूसरे मंगल अभियान का उद्देश्य संभवत: अच्छा वैज्ञानिक अनुसंधान करना है. शुक्र पर भेजे जाने वाला भारत का पहला अभियान संभवत: एक आधुनिक कक्षा अभियान रहने वाला है.
  
वाटकिन्स ने कहा कि शुक्र आधारित अभियान बेहद अहम है क्योंकि इस ग्रह के बारे में बहुत कम समझ बन पाई है और नासा निश्चित तौर पर भारत की पहली शुक्र यात्रा में साझेदारी करना चाहेगा.
  
इस संदर्भ में नासा और इसरो इस माह बातचीत शुरू कर चुके हैं. इनकी बातचीत का केंद्र इस अभियान के लिए विद्युत प्रणोदन इस्तेमाल करने से जुड़ा अध्ययन है.
  
भारत के अंतर-ग्रही स्वप्नदृष्टा और इसरो के पूर्व अध्यक्ष के. कस्तूरीरंगन का कहना है, ‘भारत को इस वैश्विक अन्वेषण का हिस्सा बनना चाहिए. शुक्र  और मंगल का अन्वेषण बेहद अहम है क्योंकि इंसानों को निश्चित तौर पर पृथ्वी से परे किसी अन्य आवास स्थल की जरूरत है’.
  
अपने 39वें प्रक्षेपण के करीब भारत का पीएसएलवी रॉकेट अंतरिक्ष में 1378 किलोग्राम के रोबोटों को तैनात करने के लिए लेकर जाएगा. पहला उपग्रह भारत का उच्च विभेदन क्षमता वाला काटरेसैट-2 श्रेणी का उपग्रह होगा, जो भारत के पड़ोसियों- पाकिस्तान और चीन पर करीबी नजर रख सकता है.
  
शेष दो छोटे भारतीय उपग्रहों में प्रत्येक का वजन 10 किलोग्राम है. ये उपग्रहों की नई श्रेणी इसरो नैनो सेटेलाइट्स का हिस्सा हैं.

इसके बाद पीएसएलवी अंतरिक्ष में 500 किलोमीटर से अधिक की ऊंचाई पर 101 सहयात्री उपग्रहों को प्रक्षेपित करेगा. इनमें इसाइल, कजाकिस्तान, नीदरलैंड, स्विट्जरलैंड, संयुक्त अरब अमीरात से एक-एक और अमेरिका के 96 उपग्रह हैं.

चूंकि भारत किफायती और विसनीय विकल्प उपलब्ध करा रहा है, इसलिए हाल ही में अमेरिकी निजी कंपनियों ने इसरो से अपने संबंधों को मजबूत करना शुरू किया है.
  
सभी 101 उपग्रहों को 600 सेकंड से भी कम समय में 27 हजार किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. कुछ विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि धन कमाने के लिए असल में इसरो अंतरिक्ष में कचरा पैदा करने का भागीदार बन रहा है क्योंकि ये छोटे उपग्रह बहुत उपयोगी नहीं हैं.
  
लेकिन अमेरिका में यूनियन ऑफ कन्सन्र्ड साइंटिस्ट्स, कैंब्रिज के वैश्विक सुरक्षा कार्यक्रम से जुड़ी वरिष्ठ वैज्ञानिक लौरा ग्रेगो का कहना है, ‘मुझे लगता है कि ये प्रक्षेपण जिम्मेदार तरीके से किए जा सकते हैं और इनसे सभी लोगों को लाभ उपलब्ध कराया जा सकता है. जिम्मेदार अंतरिक्ष प्रक्षेपण और अभियानों की संस्कृति विकसित करना अहम है क्योंकि ज्यादा से ज्यादा देश अंतरिक्ष तक पहुंच रहे हैं’.
  
कस्तूरीरंगन ने कहा कि भारत के पास एक ही प्रक्षेपण में कई उपग्रहों को प्रक्षेपित करने की क्षमता है और इस क्षमता का प्रदर्शन करना निश्चित तौर पर गलत नहीं है क्योंकि इससे भारत की साख बढ़ती है और बाद में यदि इसरो अपने उपग्रहों द्वारा सामूहिक तौर पर कार्य कराने की ओर बढ़ता है तो यह उसके लिए लाभदायक रहेगा’.
  


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
PICS: प्रियंका चोपड़ा को मिला यूनिसेफ का डैनी काये मानवतावादी पुरस्कार

PICS: प्रियंका चोपड़ा को मिला यूनिसेफ का डैनी काये मानवतावादी पुरस्कार

PICS: रितिक रोशन बने सबसे सेक्सी एशियाई पुरुष

PICS: रितिक रोशन बने सबसे सेक्सी एशियाई पुरुष

शादी की पहली सालगिरह पर तिरुमाला मंदिर पहुंचे दीपिका-रणवीर, देखें तस्वीरें

शादी की पहली सालगिरह पर तिरुमाला मंदिर पहुंचे दीपिका-रणवीर, देखें तस्वीरें

अयोध्या में सामान्य माहौल, कार्तिक पूर्णिमा पर सरयू में स्नान के लिए पहुंच रहे श्रद्धालु

अयोध्या में सामान्य माहौल, कार्तिक पूर्णिमा पर सरयू में स्नान के लिए पहुंच रहे श्रद्धालु

PICS: जानें, वायु प्रदूषण के घातक प्रभावों से बचने के उपाय

PICS: जानें, वायु प्रदूषण के घातक प्रभावों से बचने के उपाय

'दबंग 3' में प्रीति जिंटा की एंट्री? सलमान संग पुलिस वर्दी में आईं नज़र

रामायण,महाभारत काल से ही छठ मनाने की रही है परंपरा

रामायण,महाभारत काल से ही छठ मनाने की रही है परंपरा

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं परिणीति चोपड़ा

Birthday Special: अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं परिणीति चोपड़ा

PICS: रणवीर, अर्जुन को भाया अनुष्का का

PICS: रणवीर, अर्जुन को भाया अनुष्का का 'बॉस' लुक

PICS:

PICS: 'बाला' के लिए यामी ने रीक्रिएट किया नीतू सिंह का 70 के दशक का लुक

ड्रीमगर्ल हु 71 वर्ष की

ड्रीमगर्ल हु 71 वर्ष की

मोदी ने जिनपिंग को उनके चेहरे की आकृति बना शॉल किया भेंट

मोदी ने जिनपिंग को उनके चेहरे की आकृति बना शॉल किया भेंट

PICS: ...जब महाबलीपुरम में मोदी बने

PICS: ...जब महाबलीपुरम में मोदी बने 'टूरिस्ट गाइड', जिनपिंग को कराई सैर

बिंदास अदाओं से सिने प्रेमियों को दीवाना बनाया रेखा ने

बिंदास अदाओं से सिने प्रेमियों को दीवाना बनाया रेखा ने

साइना की बायोपिक के लिए जमकर पसीना बहा रही हैं परिणीति, शेयर की ये तस्वीर

साइना की बायोपिक के लिए जमकर पसीना बहा रही हैं परिणीति, शेयर की ये तस्वीर

PICS: ...जब रक्षा मंत्री राजनाथ ने राफेल में भरी उड़ान

PICS: ...जब रक्षा मंत्री राजनाथ ने राफेल में भरी उड़ान

जब विनोद खन्ना को पिता से मिली धमकी

जब विनोद खन्ना को पिता से मिली धमकी

पटना में बाढ़ से हाहाकार, देखिए तस्वीरें

पटना में बाढ़ से हाहाकार, देखिए तस्वीरें

दमदार अभिनय से खास पहचान बनायी रणबीर ने

दमदार अभिनय से खास पहचान बनायी रणबीर ने

'Bigg Boss' के लिए इन सेलिब्रिटीज ने लिया ज्यादा पैसा!

'बिग बॉस 13’ का घर होगा पर्यावरण के अनुकूल, देखें First Look

बिंदास अंदाज से दर्शकों के बीच खास पहचान बनायी करीना ने, आज है जन्मदिन

बिंदास अंदाज से दर्शकों के बीच खास पहचान बनायी करीना ने, आज है जन्मदिन

Photos: जन्मदिन पर ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’, जंगल सफारी, बटरफ्लाई पार्क पहुंचे PM मोदी

Photos: जन्मदिन पर ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’, जंगल सफारी, बटरफ्लाई पार्क पहुंचे PM मोदी

पिंडदानियों के लिए सजधज कर तैयार

पिंडदानियों के लिए सजधज कर तैयार 'मोक्ष नगरी' गया

PICS: एप्पल ने आईफोन 11 मॉडल किया लांच, शुरुआती कीमत में हुई 50 डॉलर की कटौती

PICS: एप्पल ने आईफोन 11 मॉडल किया लांच, शुरुआती कीमत में हुई 50 डॉलर की कटौती

PICS:स्कूल में लोग डांस को लेकर उड़ाते थे मजाक: नोरा फतेही

PICS:स्कूल में लोग डांस को लेकर उड़ाते थे मजाक: नोरा फतेही

PICS: 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने के बाद भावुक हुए नडाल, जानें कैसे बने लाल बजरी के बादशाह

PICS: 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने के बाद भावुक हुए नडाल, जानें कैसे बने लाल बजरी के बादशाह

PICS: रवीना टंडन जल्द ही बनने वाली हैं नानी

PICS: रवीना टंडन जल्द ही बनने वाली हैं नानी

PICS: रैंप पर अचानक जब दीपिका करने लगीं डांस

PICS: रैंप पर अचानक जब दीपिका करने लगीं डांस

PICS: वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के साथ विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग -21 में भरी उड़ान

PICS: वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के साथ विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग -21 में भरी उड़ान

PICS: इतिहास रचकर बोलीं पीवी सिंधु -बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं, इस पल का इंतजार था

PICS: इतिहास रचकर बोलीं पीवी सिंधु -बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं, इस पल का इंतजार था

PICS: BJP के ‘थिंक टैंक’ थे अरुण जेटली

PICS: BJP के ‘थिंक टैंक’ थे अरुण जेटली


 

172.31.21.212