Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

15 Jul 2020 09:43:47 AM IST
Last Updated : 15 Jul 2020 09:50:17 AM IST

मध्य प्रदेश: भाजपा का उप-चुनाव के लिए प्रचार का शंखनाद

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश में आगामी समय में होने वाले 25 विधानसभा क्षेत्रों के उप-चुनाव के प्रचार के लिए भाजपा ने प्रचार अभियान की शुरुआत के लिए देवास के हाटपिपल्या को चुना और मौका था पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी के जन्मदिन पर उनकी प्रतिमा के अनावरण समारोह का।

भाजपा ने आगर-मालवा में भी सभा का आयोजन किया। राज्य में आगामी समय में होने वाले विधानसभा के उप-चुनावों को लेकर भाजपा एक तरफ वर्चुअल रैलियों का आयोजन कर रही है तो दूसरी ओर उसने जनसभाओं का मंगलवार को विधिवत श्रीगणेश कर दिया। पार्टी के तीन प्रमुख नेता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एक साथ रहे।

हाट पिपल्या में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री चौहान ने दिवंगत जोशी को याद करते हुए उन्हें राजनीति का संत बताया। उन्होंने कहा कि जोशी ऐसे नेता थे जिन्होंने कभी पद और धन के लिए काम नहीं किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने जोशी की इच्छा को याद करते हुए बागली को जिला बनाने का ऐलान भी किया।

चौहान ने पूर्ववर्ती कांग्रेस की कमलनाथ सरकार पर हमला करते हुए कहा कि बीच में 15 महीने के लिए भाजपा सरकार नहीं रही। इन 15 महीनों में कमलनाथ सरकार ने प्रदेश का सत्यानाश कर दिया। दिग्विजय सिंह और कमलनाथ ने वल्लभ भवन को लूट का अड्डा बना दिया। इन्होंने गरीबों के हित वाली सारी योजनाएं बंद कर दी। बच्चों की फीस भरना बंद कर दिया, संबल योजना बंद कर दी। गरीब महिलाओं को प्रसव के लिए मिलने वाले पैसे भी खा गए।

उन्होंने आरोप लगाया कि कमलनाथ सरकार गरीबों को अंतिम संस्कार के लिए मिलने वाले 5000 रुपये भी खा गई। बच्चों के लैपटॉप और साइकिल खा गए। कर्जमाफी के नाम पर इस सरकार ने प्रदेश की जनता और किसानों से धोखा किया। चुनाव से पहले कांग्रेस ने कहा था कि हर किसान का चालू और कालातीत कर्ज माफ किया जाएगा, लेकिन कर्जमाफी के लिए सिर्फछह हजार करोड़ रुपये दिए। इनकी झूठी कर्जमाफी के जाल में फंसकर कई किसान डिफाल्टर हो गए और अब उन पर ब्याज चढ़ रहा है।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने सिंधिया द्वारा कांग्रेस से दिए गए इस्तीफे का जिक्र करते हुए कहा, "कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को बर्बाद कर दिया था, ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके साथियों ने मध्य प्रदेश को कमलनाथ सरकार से बचाने और गरीब जनता के हितों की रक्षा के लिए इस्तीफा दिया। हम सब मिलकर प्रदेश को स्वर्णिम मध्य प्रदेश बनाएंगे।"

राज्यसभा सदस्य सिंधिया ने पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी को याद करते हुए राजनीति का संत बताया और कहा कि जोशी की जीवनशैली सादगीपूर्ण थी। उनके पास खुद की गाड़ी तक नहीं थी।

सिंधिया ने पूर्ववर्ती सरकार पर हमला करते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार ने प्रदेश की जनता को धोखा दिया। उस सरकार ने न तो किसानों की कर्जमाफी की, न बेरोजगारों को भत्ता दिया। उस सरकार ने तो फसल बीमा की प्रीमियम भी जमा नहीं की थी, जिसे शिवराज सिंह की सरकार ने आने के बाद जमा किया।

सिंधिया ने कहा कि शिवराजसिंह चौहान मुख्यमंत्री नहीं, बल्कि जनसेवक हैं। उनके नेतृत्व में मध्य प्रदेश एक बार फिर विकास के रास्ते पर है।

उन्होंने कहा, "हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को आत्मनिर्भर बनाने का जो आह्वान किया है, उसके लिए जरूरी है कि मध्य प्रदेश आत्मनिर्भर बने और मध्य प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए शिवराज सिंह चौहान जैसा नेतृत्व होना जरूरी है।"


Source:PTI, Other Agencies, Staff Reporters
आईएएनएस
भोपाल
 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 


फ़ोटो गैलरी

 

172.31.21.212