Twitter

Facebook

Youtube

Pintrest

RSS

Twitter Facebook
Spacer
Samay Live
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

29 Dec 2013 06:05:03 AM IST
Last Updated : 29 Dec 2013 06:12:53 AM IST

मध्याह्न भोजन में मिली छिपकली

मध्याह्न भोजन में मिली छिपकली
बिहार के दानापुर में एक स्कूल में मिड डे मिल में छिपकली मिली.

दानापुर के नया टोला स्थित राजकीय सिपाही भगत मध्य विद्यालय में शनिवार को मध्याह्न भोजन में मिली खिचड़ी खाने के बाद आधा दर्जन बच्चों को पेट में दर्द और उल्टी होने लगी.

यह खबर आग की तरह फैल गयी. देखते ही देखते विद्यालय में अभिभावकों की भीड़ उमड़ पड़ी. आनन-फानन में सभी बच्चों को उनके परिजन दानापुर सदर अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने इलाज किया. डॉक्टरों ने बताया कि सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं.

बीमार बच्चों ने बताया कि खिचड़ी में छिपकली मरी हुई थी. घटना की जानकारी मिलने के बाद एसडीओ राहुल कुमार ने अस्पताल पहुंचकर डॉक्टरों से छात्रों के स्वास्थ्य की जानकारी ली. उन्होंने कहा कि इसके लिए जो भी जिम्मेवार होंगे, कार्रवाई की जायेगी.  घटना के बाद आक्रोशित लोग विद्यालय गेट पर शिक्षकों के विरुद्ध नारेबाजी करने लगे.

हंगामा होते देख विद्यालय के सभी शिक्षक खिचड़ी को नाले में फेंक कर गेट में ताला बंदकर फरार हो गए. खाना खाने से बीमार बच्चों में जूली कुमारी (वर्ग 4), विशाल कुमार (वर्ग 5), इबरान (वर्ग 1), अली हसन (वर्ग 1), कामनी कुमारी (वर्ग 1), सूरज कुमार (वर्ग 1) आदि शामिल थे.

सभी का इलाज अस्पताल में कराया गया. घटना के बाद जैसे-जैसे बच्चों के अभिभावकों को जानकारी मिलती गयी सभी अपने बच्चों को लेकर अस्पताल में पहुंच गए. इससे पूरे दिन अस्पताल में अफरातफरी का माहौल रहा. बच्चों ने बताया कि कुछ ही बच्चों ने खिचड़ी खायी थी कि पेट में दर्द होने लगा. अनहोनी की आशंका से सहमे शिक्षकों ने बाद में किसी को खिचड़ी नहीं दी और उसे नाले में फेंक दिया.

अभिभावक गुड़िया खातून ने बताया कि बच्चे के बीमार होने की सूचना पाकर स्कूल पहुंची तो एक शिक्षक द्वारा हल्ला नहीं करने की बात कहते हुए पांच सौ रुपये देकर कहा गया कि बच्चा को लेकर अस्पताल ले चलो, वहीं आ रहे हैं लेकिन कोई शिक्षक अस्पताल नहीं पहुंचा. घटना के तीन घंटे बीत जाने के बाद प्राचार्य समेत शिक्षक अस्पताल पहुंचे. हंगामा बढ़ने की सूचना पाकर एसडीओ राहुल कुमार ने तत्काल प्रखंड विकास पदाधिकारी को घटनास्थल पर भेजा.

बीडीओ शोभा अग्रवाल ने घटनास्थल पर पहुंचकर अभिभावकों को समझा-बुझाकर शांत कराया तथा कुछ बच्चों को इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल ले गयीं. घटना के बाद प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में नहीं थे और उनका मोबाइल फोन बंद पाया गया. इस बात की जानकारी मिलने के बाद एसडीओ ने कार्रवाई करने की बात कही. उन्होंने बताया कि शिक्षकों की लापरवाही के कारण घटना हुई है.

आगे से इस तरह की घटना की पुनरावृति न हो, इसके लिए सभी शिक्षकों को मध्याह्न भोजन पर विशेष रूप से ध्यान देने की बात कही गयी है. वहीं विद्यालय के प्राचार्य भीम शंकर यादव ने बताया कि खिचड़ी में काला कीड़ा गिर गया था जिसके बाद खिचड़ी को फेंक दिया गया. उन्होंने कुछ बच्चों के खिचड़ी खाने के बाद तबीयत खराब होने की बात स्वीकार की.

लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा FACEBOOK PAGE ज्वाइन करें.

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां (0 भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :



 

10.10.70.17