Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

14 Feb 2010 03:47:47 PM IST
Last Updated : 30 Nov -0001 12:00:00 AM IST

ज्योषियों के चक्कर में नहीं पड़े निवेशक:सेब

नयी दिल्ली। शेयर बाजारों में निवेश को आम तौर पर भाज्ञ और सितारों का खेल माना जाता है लेकिन बाजार नियामक सेबी इससे सहमत नहीं दिखता और उसने निवेशकों का आगाह किया है कि निवेश के मामले में ज्योतिषी अनुमानों के फेर में नहीं आएं। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने निवेशकों को नवीनतम सलाह में कहा है कि शेयर कीमतों व बाजार के रूख के बारे में ज्योतिषी अनुमानों से नहीं चलें। यह अलग बात है कि शेयर बाजारों का भविष्य बताने वालों पर सेबी की इस सलाह का कोई असर होता नहीं दिख रहा है और उन्हें लगता है कि उनका धंधा वैसा ही चलता रहेगा। अपने कई पूर्वानुमानों के सही साबित होने का दावा करने वाले एक प्रमुख ज्योतिषी ने कहा कि निवेशक हमारे पास आते हैं क्योंकि हमारी कई भविष्यवाणी सही साबित हुई हैं। अगर हमारी बातें सही नहीं होंगी तो ग्राहक फिर क्यूं आएंगे। उल्लेखनीय है कि भारत में शेयर बाजारों के बारे में भविष्यवाणी अपने आपमें एक चोखा धंधा बन गया है। सैंकड़ों ज्योतिषी बाजार के भविष्य के बारे में परामर्श देते हैं और इनमें से अनेक की तो पूर्ण वेबसाइट हैं। अनेक ज्योतिषी अपनी वेबसाइट से बाजार के रूख के बारे में सामान्य भविष्यवाणी प्राप्त करने वालों से साल के लाख-लाख रूपये तक लेते हैं। बड़े निवेशक तो इसके लिए महीने भर की ही इतना शुल्क चुकाते हैं। शेयर बाजार के प्रमुख ज्योतिषी सतीश शर्मा ने कहा कि उन्हें सीबीआई के परिपत्र की जानकारी नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि निवेशक भविष्य अच्छा रिटर्न कमाने के लिए शेयर बाजार में पैसा लगाते हैं और भविष्य के बारे में केवल ज्योतिष ही बता सकता है। उन्होंने कहा कि यह विज्ञान है और बहुत ही तकनीकी विश्लेषण भी। अगर आपका भाग्य और सितारे साथ नहीं तो आप सफलता अर्जिन नहीं कर सकते भले ही शेयर बाजार में निवेश का मामला हो। प्रमुख भविष्यवक्ता बेजान दारूवाला भी शेयर बाजार संबंधी भविष्यवाणी में काफी सक्रिय हैं और उनके वेबसाइट पर इस संबंध में एक ब्लाग नियमित रूप से अपेडट होता है। एक अन्य प्रमुख भविष्यवक्ता ज्योतिषाचार्य शैलेंद्र शर्मा ने अपनी वेबसाइट पर कहा है कि शेयर बाजार के बारे में उनके पूर्वानुमान लोगों,निवेशकों को वित्तीय नुकसान से बचाने तथा बेहतर वित्तीय प्रबंधन में दिशा देने के लिए होते हैं।

Source:PTI, Other Agencies, Staff Reporters
 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 


फ़ोटो गैलरी

 

172.31.21.212