Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

 धर्म

 
जीवन के रूप

अभी हाल ही में, एक महिला मुझे बता रही थी कि कैसे वह कुछ खास ऊर्जा को महसूस कर पाती है और कैसे अलग अलग लोग, विभिन्न प्रकार के रूप और कई खास स्थान आप पर प्रभाव डालते हैं। ....

प्रकृति : श्रीराम शर्मा आचार्य

वनों में कुछ ऐसे वृक्ष होते हैं, जो अपनी सीमा में छोटे-छोटे पौधों को पनपने नहीं देते हैं, सारे जंगल में दो-चार ऐसे हिंसक जंतु भी होते हैं, जो छोटे-छोटे जीव-जंतुओं को खा डालते हैं अफ्रीका के कुछ पौधे ऐसे धोखेबाज होते ....

आर्थिक जरूरतें

सामान्य रूप से, लोग आर्थिक जरूरतों के लिए काम करते हैं। ....

धर्म और विज्ञान

दुनिया में दो ही तरह के पागल लोग हैं, वे जो हमेशा अतीत की बात करते हैं, और थोड़े जो भविष्य की बात करते हैं। ....

ईश्वर की समीपता

ईश्वर हमारे सबसे अधिक समीप है। संसार का कोई पदार्थ या व्यक्ति जितना समीप हो सकता है, उसकी अपेक्षा ईश्वर की निकटता और भी अधिक है। ....

स्वर्ग-नर्क

पूरी दुनिया में, मानव समाज पर नियंत्रण करने के लिये स्वर्ग और नर्क की धारणाएं फैलाई गई हैं। ....

भारतीय संस्कृति

भारतीय संस्कृति सबके लिए सभी भांति विकास का अवसर देती है। यह अति उदार संस्कृति है। विश्व में अन्य कोई धर्म संस्कृति में ऐसा प्रावधान नहीं है। ....

मन का नियंत्रण

योग की सारी प्रक्रिया मन की सीमाओं से परे जाने के लिए हैं। जब तक आप मन के नियंत्रण में हैं, तब तक आप पुराने प्रभावों से चलते हैं क्योंकि मन बीते हुए समय की यादों का ढेर है। ....

सूर्य पर संयम

बाहर के सूर्य की भांति मनुष्य के भीतर भी सूर्य छिपा हुआ है, बाहर के चांद की ही भांति मनुष्य के भीतर भी चांद छिपा हुआ है। और पंतजलि का रस इसी में है कि वे अंतर्जगत के आंतरिक व्यक्तित्व का संपूर्ण भूगोल हमें दे देना ....

बेकारी

कहावत है-‘खाली दिमाग शैतान की दुकान।’ यह कहावत उन सबके लिए है, जो परिश्रम से जी चुराते हैं। परिश्रम के बिना मनुष्य का जीवन अधूरा सा रहता है। ....

वर्तमान

योग की सारी प्रक्रिया मन की सीमाओं से परे जाने के लिए है। जब तक आप मन के नियंत्रण में है, तब तक आप पुराने प्रभावों से चलते हैं क्योंकि मन बीते हुए समय की यादों का ढेर है। ....

सही धर्म

आज के समय में लोगों ने धर्म को मजहब या संप्रदाय का पर्यायवाची मान लिया है। वे ‘धर्म’ शब्द सुनते ही किसी मत-पंथ या संप्रदाय से समझते हैं। ....

चेतना

चेतना का अर्थ यह नहीं है कि आप खुद के बारे में सचेत रहें। खुद के प्रति सचेत रहना एक बीमारी है, और अचेत होना मृत्यु। ....

जिंदगी

आज तक का समाज दुख से भरा हुआ समाज है, उसकी ईट ही दुख की है, उसकी बुनियाद ही दुख की है। ....

सकारात्मक सोच

दुनिया में बहुत सारे लोग ‘सकारात्मक सोच’ के बारे में बात करते हैं। जब आप सकारात्मक सोच की बात कर रहे हैं तो एक अर्थ में आप वास्तविकता से दूर भाग रहे हैं। ....

आत्म विकास

व्यक्तित्व के विकास के लिए प्रात: उठने से लेकर सोने तक की व्यस्त दिनचर्या निर्धारित करें। उसमें उपार्जन, विश्राम, नित्य कर्म, अन्यान्य काम- काजों के अतिरिक्त आदर्शवादी परमार्थ प्रयोजनों के लिए एक भाग निश्चित क ....

लगाव

मैंने कभी नहीं कहा कि आप अपने संबंधों के धागे काट दीजिए। अफसोस की बात है कि फिलहाल आपके संबंधों के धागे बहुत कम लोगों से जुड़े हैं। ....

स्वभाव

एक ब्राह्मण दार्शनिक भगवान के पास आया और बोला हे गौतम! आप अपने शिष्यों को भिक्षाटन करने से भिक्षु कहते हैं। मैं भी भिक्षाटन करता हूं। ....

भारतीय संस्कृति

भारतीय संस्कृति सबके लिए सभी भांति विकास का अवसर देती है। यह अति उदार संस्कृति है। विश्व में अन्य कोई धर्म संस्कृति में ऐसा प्रावधान नहीं है। ....

करुणा

एक दिन एक जैन मठ में सभी शिष्य अपने गुरु के चारों ओर इकट्ठे हुए। गुरु बोले,‘मैं जो कहानी सुना रहा हूं, उसे पूरे ध्यान से सुनो’। ....

  फ़ोटो गैलरी
PHOTOS:
PHOTOS: 'दिल बेचारा'...
B
B'day: जानें कैसा रहा...
सरोज खान के निधन...
सरोज खान के निधन...
बाल कलाकार...
बाल कलाकार...
पसीने से मेकअप को...
पसीने से मेकअप को...
सुशांत काफी...
सुशांत काफी...
अनलॉक-1 शुरू होते ही घर...
अनलॉक-1 शुरू होते ही घर...
स्वर्ण...
स्वर्ण...
श्रद्धालुओं के...
श्रद्धालुओं के...
चक्रवात निसर्ग...
चक्रवात निसर्ग...
World Cycle Day: ये हैं...
World Cycle Day: ये हैं...
अनलॉक -1 के पहले...
अनलॉक -1 के पहले...
लॉकडाउन बढ़ाए जाने...
लॉकडाउन बढ़ाए जाने...
एक दिन बनूंगी...
एक दिन बनूंगी...
सलमान के ईदी के...
सलमान के ईदी के...
सुपर साइक्लोन...
सुपर साइक्लोन...
अनिल-सुनीता मना...
अनिल-सुनीता मना...
लॉकडाउन :  ऐसे यादगार...
लॉकडाउन : ऐसे यादगार...
निर्भया को मिला...
निर्भया को मिला...
तस्वीरें: शिमला में 3...
तस्वीरें: शिमला में 3...
रंग के उमंग पर कोरोना...
रंग के उमंग पर कोरोना...
कोरोना वायरस: डरें...
कोरोना वायरस: डरें...
भारतीय डिजाइनर की...
भारतीय डिजाइनर की...
हैप्पीनेस क्लास...
हैप्पीनेस क्लास...
...और ताज को निहारते रह...
...और ताज को निहारते रह...
ट्रंप और...
ट्रंप और...
अहमदाबाद में...
अहमदाबाद में...
महाशिवरात्रि:...
महाशिवरात्रि:...
महाशिवरात्रि: जब...
महाशिवरात्रि: जब...
जब अचानक ‘हुनर...
जब अचानक ‘हुनर...
अबू जानी-संदीप खोसला...
अबू जानी-संदीप खोसला...
मेसी-हेमिल्टन ने...
मेसी-हेमिल्टन ने...

 

172.31.21.212