Twitter

Facebook

Youtube

RSS

Twitter Facebook
Spacer
समय यूपी/उत्तराखंड एमपी/छत्तीसगढ़ बिहार/झारखंड राजस्थान आलमी समय

20 Mar 2020 04:21:02 AM IST
Last Updated : 20 Mar 2020 04:22:21 AM IST

मृत्यु

मृत्यु
जग्गी वासुदेव

समय का अर्थ कई लोगों के लिए कई प्रकार का होता है। बच्चे और वयस्क में जो अंतर है-बच्चा एक भरा पूरा, उत्साही जीवन है तो वयस्क गंभीर जीवन है- वो अंतर समय के बोझ का ही है।

समय बोझ इसलिए बन जाता है कि हम जानते ही नहीं कि अपनी यादों को, अपनी स्मृतियों को किस तरह रखें? एक और वर्ष 2019 बीत गया है-कुछ लोग इसे एक और साल की तरह देखेंगे, जिसे उन्हें अपनी पीठ पर बोझ की तरह ढोना है।

पर एक साल क्या है, बस समय का एक माप ही तो है और वास्तविकता यही है कि साल पर साल बीते जा रहे हैं। एक साल बीत गया है, इसका अर्थ है कि अब आप को एक साल कम ढोना है। तो क्या ये आप को कुछ और हल्का नहीं बना देता? आप नये वर्ष का उत्सव मना सकते हैं अथवा इस बात का उत्सव भी मना सकते हैं कि एक साल खत्म हो गया है और अपने जीवन में अब आप को एक साल कम संभालना है। मैं चाहूंगा कि आप अपने जीवन को भागीदारी की तीव्रता के संदर्भ में मापें। क्या 2019, जीवन के साथ शामिल होने का वर्ष था? अथवा, क्या उलझनों, जटिलताओं, झंझटों का साल था?

यही है जो आप को मापना है, क्योंकि मूल रूप से आप सिर्फ  जीवन और मृत्यु, दो बातों से ही संबद्ध हैं, आप को सिर्फ  इनकी ही चिंता होनी चाहिए। बाकी सब आकस्मिक है। अंग्रेजी शब्द ‘डेथ’ (मृत्यु) एक बहुत ही नकारात्मक शब्द बन गया है। आप जिस चीज को भयानक या खराब समझते हैं, उसे गले से नहीं लगा सकते, हैं कि नहीं? आप को अपने मन में यह संदर्भ बदल देना चाहिए। आप को सही संदर्भ में जानना चाहिए कि मृत्यु क्या है? ये कोई जीवन का विलोम, विपरीत नहीं है। जीवन में जो हो रहा है, वो मृत्यु के कारण ही हो रहा है। सही संदर्भ समझ लें तो आप दोनों को गले लगा सकते हैं। इस सृष्टि अथवा इस पृथ्वी ग्रह के इतिहास में आप बहुत कम समय के लिए जीवित होते हैं। बाकी के समय में आप मृत ही हैं।

चूंकि आप लंबे समय तक मृत रहे हैं, इसीलिए अभी चमक रहे हैं। यह चमक इसीलिए  संभव है कि आप पुन: एक लंबे समय के लिए मृत हो जाएंगे। ‘एक बनाम दूसरा’ का विचार मूर्खतापूर्ण है । मूल रूप से जीवन के सभी स्तरों पर-चाहे पुरु ष और स्त्री हों, जीवन और मृत्यु हों, अंधकार एवं प्रकाश हों या ध्वनि तथा मौन हों-एक के बिना दूसरा संभव नहीं है। वे एक दूसरे के पूरक हैं, विपरीत नहीं हैं।


 
 

ताज़ा ख़बरें


लगातार अपडेट पाने के लिए हमारा पेज ज्वाइन करें
एवं ट्विटर पर फॉलो करें |
 

Tools: Print Print Email Email

टिप्पणियां ( भेज दिया):
टिप्पणी भेजें टिप्पणी भेजें
आपका नाम :
आपका ईमेल पता :
वेबसाइट का नाम :
अपनी टिप्पणियां जोड़ें :
निम्नलिखित कोड को इन्टर करें:
चित्र Code
कोड :


फ़ोटो गैलरी
PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

PICS: एक-दूजे के हुए राणा दग्गुबाती और मिहीका बजाज, देखिए वेडिंग ऐल्बम

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

प्रधानमंत्री मोदी ने राममंदिर की रखी आधारशिला, देखें तस्वीरें

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

देश में आज मनाई जा रही है बकरीद

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्तव्यस्त, 8 की हुई मौत

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

त्याग, तपस्या और संकल्प का प्रतीक ‘हरियाली तीज’

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

बिहार में नदिया उफान पर, बडी आबादी प्रभावित

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

PICS: दिल्ली एनसीआर में हुई झमाझम बारिश, निचले इलाकों में जलजमाव

B

B'day Special: प्रियंका चोपड़ा मना रहीं 38वा जन्मदिन

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

PHOTOS: सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म ‘दिल बेचारा’ का ट्रेलर रिलीज, इमोशनल हुए फैन्स

B

B'day Special : जानें कैसा रहा है रणवीर सिंह का फिल्मी सफर

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

सरोज खान के निधन पर सेलिब्रिटियों ने ऐसे जताया शोक

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

PICS: तीन साल की उम्र में सरोज खान ने किया था डेब्यू, बाल कलाकार से ऐसे बनीं कोरियोग्राफर

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

पसीने से मेकअप को बचाने के लिए ये है खास टिप्स

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

सुशांत काफी शांत स्वभाव के थे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

अनलॉक-1 शुरू होते ही घर के बाहर निकले फिल्मी सितारे

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

स्वर्ण मंदिर, दुर्गियाना मंदिर में लौटे श्रद्धालु

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

PICS: श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिरों के कपाट

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

चक्रवात निसर्ग की महाराष्ट्र में दस्तक, तेज हवा के साथ भारी बारिश

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

World Cycle Day 2020: साइकिलिंग के हैं अनेक फायदें, बनी रहेगी सोशल डिस्टेंसिंग

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

अनलॉक -1 के पहले दिन दिल्ली की सीमाओं पर ट्रैफिक जाम का नजारा

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर उर्वशी ने कहा....

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

एक दिन बनूंगी एक्शन आइकन: जैकलीन फर्नांडीज

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सलमान के ईदी के बिना फीकी रहेगी ईद, देखें पिछली ईदी की झलक

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

सुपर साइक्लोन अम्फान के चलते भारी तबाही, 12 मौतें

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह

अनिल-सुनीता मना रहे शादी की 36वीं सालगिरह

लॉकडाउन :  ऐसे यादगार बना रही करीना छुट्टी के पल

लॉकडाउन : ऐसे यादगार बना रही करीना छुट्टी के पल

PICS: निर्भया को 7 साल बाद मिला इंसाफ, लोगों ने मनाया जश्न

PICS: निर्भया को 7 साल बाद मिला इंसाफ, लोगों ने मनाया जश्न

PICS: मार्च महीने में शिमला-मनाली में हुई बर्फबारी, हिल स्टेशन का नजारा हुआ मनोरम

PICS: मार्च महीने में शिमला-मनाली में हुई बर्फबारी, हिल स्टेशन का नजारा हुआ मनोरम

PICS: रंग के उमंग पर कोरोना का साया, होली मिलन से भी परहेज

PICS: रंग के उमंग पर कोरोना का साया, होली मिलन से भी परहेज

PICS: कोरोना वायरस से डरें नहीं, बचाव की इन बातों का रखें ख्याल

PICS: कोरोना वायरस से डरें नहीं, बचाव की इन बातों का रखें ख्याल

PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: भारतीय डिजाइनर अनीता डोंगरे की बनाई शेरवानी में नजर आईं इवांका

PICS: दिल्ली के सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, हैप्पीनेस क्लास में बच्चों संग बिताया वक्त

PICS: दिल्ली के सरकारी स्कूल में पहुंची मेलानिया ट्रंप, हैप्पीनेस क्लास में बच्चों संग बिताया वक्त


 

172.31.21.212