Diabetes: कहीं रह ना जाए मां बनने की चाह अधूरी

Diabetes: कहीं रह ना जाए मां बनने की चाह अधूरी

डायबिटीज यानी मधुमेह एक ऐसी ना खत्म होने वाली बीमारी है जो एक बार हो जाने पर इंसान को जीवन भर इसे झेलना पड़ता है. मधुमेह मेटाबोलिक बीमारियों का एक समूह है, जिसमें व्यक्ति के खून में ग्लूकोज (ब्लड शुगर) का स्तर सामान्य से अधिक हो जाता है. ऐसा तब होता है, जब शरीर में इंसुलिन ठीक से न बने या शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के लिए ठीक से प्रतिक्रिया न दें. डायबिटीज से कब कौन सा अंग खराब हो जाए रोगी को पता ही नहीं चलता. यह पुरुष और महिलाओं को धीरे-धीरे ‘इनफर्टिलिटी’ या ‘बांझपन’ जैसी बीमारियों की ओर भी ले जाता है ‘इंदिरा आईवीएफ हॉस्पिटल’, नई दिल्ली की गॉइनोकोलोजिस्ट और आईवीएफ एक्सपर्ट डॉ. पूजा सिंह ने बताया कि डायबिटीज बदलती जीवनशैली की कई सारी परेशानियों का कारण बन रही है, जिनमें ‘इनफर्टिलिटी’ या ‘बांझपन’ भी एक गंभीर समस्या है. डायबिटीज से पीड़ित महिलाओं के मां बनने में बाधक साबित हो रही है.

 
 
Don't Miss
 
PIC OF THE DAY