यश की देवी मां कूष्माण्डा

 यश की देवी मां कूष्माण्डा

इस श्लोक का अर्थ है: हे मां! सर्वत्र विराजमान और कूष्माण्डा के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है.

 
Don't Miss
 
PIC OF THE DAY
यात्री और माल भाड़े में कोई बढ़ोतरी नहीं