कुंवर हुए बालिग, अब कहलाएंगे 'महाराज'

PICS: 18 साल के राजा बने सवाई पद्मनाभ सिंह, बहन ने किया राजतिलक

अभी तक सभी तरह के फैसले पद्मिनीदेवी ले रही थीं. राजतिलक के बाद अब उनके हस्ताक्षर कानूनी रूप से मान्य होंगे. इनको स्वतंत्र रूप से फैसले लेने का अधिकार होगा. सिटी पैलेस म्यूजियम, जयगढ़ फोर्ट, शिलामाता ट्रस्ट, अशोक क्लब, पोलो क्लब सहित सभी जगह की जिम्मेदारी भी मिलेगी। अदालती कार्रवाइयां, बैंक के खातों के लेन-देन अब पद्मनाभ के नाम से होंगे.

 
 
Don't Miss
 
PIC OF THE DAY