दिलीप कुमार की फैन कविता कृष्णामूर्ति

दिलीप कुमार की फैन कविता कृष्णामूर्ति

'मईया यशोदा', 'बोले चूड़ियां', 'हवा हवाई', 'नींद चुराई मेरी', 'निंबूड़ा' जैसे गीत जैसे ही कानों में सुनाई देते हैं, एक चेहरा और एक नाम भी जेहन में उतर आता है. यह नाम है पार्श्वगायिका कविता कृष्णमूर्ति का. कविता कृष्णमूर्ति की पहचान हालांकि उनके चेहरे से नहीं, बल्कि उनकी सुरीली आवाज से है, जो हर किसी को मंत्रमुग्ध कर देती है. बॉलीवुड के कई शीर्ष संगीतकारों के साथ काम कर चुकीं कविता अबतक कोई 15,000 से अधिक गानों को अपनी आवाज दे चुकी हैं. कविता जिन संगीतकारों और गीतकारों के साथ काम कर चुकी हैं, उनमें लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल, नौशाद, एस.एच. बिहारी, कैफी आजमी, अंजन, ओपी नय्यर, खय्याम, हेमंत कुमार, रविंद्र जैन, बप्पी लाहिड़ी, समीर, जावेद अख्तर प्रमुख रूप से शामिल हैं. कविता कृष्णमूर्ति का जन्म 25 जनवरी, 1958 को दिल्ली में हुआ था. उनके जन्म का नाम शारदा कृष्णमूर्ति था. उनके पिता टी.एस. कृष्णमूर्ति शिक्षा मंत्रालय में अधिकारी थे. कविता की चाची ने उन्हें संगीत की शिक्षा लेने का सुझाव दिया और उन्होंने सुरुमा बसु से उनकी मुलाकात कराई, जिन्होंने कविता को रविंद्र संगीत की शिक्षा दी.

 
 
Don't Miss
 
PIC OF THE DAY